Home »News» When Sanjay Dutt Rescued Raveena Tandon

जब रवीना की हालत देख घबरा गए थे लोग, संजय गोद में उठाकर चले थे कई किमी. पैदल

1993 में रिलीज हुई 'क्षत्रिय' के सेट पर हुआ हादसा संजय दत्त और रवीना टंडन के लिए यादगार बन गया।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jun 12, 2018, 02:05 PM IST

जब रवीना की हालत देख घबरा गए थे लोग, संजय गोद में उठाकर चले थे कई किमी. पैदल
- 1993 की फिल्म 'क्षत्रिय' की शूटिंग के दौरान का किस्सा।
- घायल रवीना को कई गोद में लेकर कई किलोमीटर पैदल चले थे संजय दत्त
- शूटिंग के दौरान हुआ था रवीना टंडन के साथ हादसा।
मुंबई.संजय दत्त और रवीना टंडन ने साथ में कई फिल्में की हैं। लेकिन 1993 में रिलीज हुई 'क्षत्रिय' के सेट पर ऐसा कुछ हुआ था कि फिल्म उनके लिए यादगार बन गई। दरअसल शूटिंग के दौरान रवीना का एक्सीडेंट हो गया था और उनकी हालत देख हर कोई घबरा गया था। लोगों को लगने लगा था कि वे अब बचेंगी नहीं। तब संजय दत्त उनके लिए मसीहा साबित हुए थे। कहा जाता है कि संजू ने रवीना को गोद में उठाकर कई तक पैदल चलकर अस्पताल पहुंचाया था। यह खुलासा खुद रवीना ने 2017 में एक FM चैनल पर किया था। आखिर कैसे हुआ था रवीना का एक्सीडेंट...
- फिल्म के एक सीन के लिए रवीना को घोड़े पर बैठना था। सेट तैयार था और रवीना भी सीन के लिए रेडी थीं। लेकिन जिस घोड़े पर रवीना बैठी थीं, वह कुछ सेकंड बाद ही बिदक गया। घोड़े ने रवीना को नीचे गिरा दिया। रवीना इतने बुरे तरीके से गिरी थीं कि उनके कान से खून बहने लगा था। यह देख सेट पर मौजूद लोग घबरा गए। सभी ने सोचा कि शायद रवीना को ब्रेन हैमरेज हो गया। लोग यह भी सोच रहे थे कि रवीना शायद ही बचेंगी।
अस्पताल था बहुत दूर
- 'क्षत्रिय' की शूटिंग जंगल में चल रही थी और अस्पताल भी काफी दूर था। संजय दत्त भी वहां मौजूद थे। उन्होंने आसपास नजर दौड़ाई। लेकिन जब कोई वाहन नजर नहीं आया तो उन्होंने रवीना को गोद में उठा लिया और कई किलोमीटर तक पैदल चलकर अस्पताल पहुंचाया। वहां पहुंचने के बाद पता चला कि रवीना के हाथ में फ्रैक्चर हुआ था और उनके कंधे में भी चोट आई थी। यही वजह है कि फिल्म के सॉन्ग 'शीशा ये टूट न जाए' में एक हाथ को छुपाकर डांस करती नजर आई थीं।
.
...और रवीना ने नहीं रुकने दी शूटिंग
- रवीना टंडन अपने प्रोफेशनलिज्म के लिए जानी जाती हैं। 'क्षत्रिय' के सेट पर भी इसका उदाहरण देखने को मिला था। घोड़े से गिरने के बाद जब रवीना को अस्पताल पहुंचाया गया तो उन्होंने अपना इलाज कराया और अगले ही दिन वे सेट पर पहुंच गई थीं। घायल होने के बावजूद उन्होंने उसी घोड़े पर वो सीन किया। रवीना इस बात को लेकर खुद पर गर्व महसूस करती हैं कि कभी उनकी वजह से फिल्म की शूटिंग नहीं रुकी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: jb rvinaa ki haalt dekh ghbraa gae the loga, snjy gaod mein uthaakar chle the kee kimi. paidl
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×