Home »News» When Salman Khan Gave Audition For Maine Pyar Kiya

आसान नहीं थी 'मैंने प्यार किया', ऑडिशन के लिए दोस्त के कपड़े लेकर गए थे सलमान

'मैंने प्यार किया' (1989) बतौर लीड एक्टर सलमान खान के करियर की पहली फिल्म थी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Apr 27, 2018, 01:37 PM IST

  • आसान नहीं थी 'मैंने प्यार किया', ऑडिशन के लिए दोस्त के कपड़े लेकर गए थे सलमान
    +5और स्लाइड देखें
    'मैंने प्यार किया' के एक सीन में सलमान खान और भाग्यश्री।

    मुंबई. 'मैंने प्यार किया' (1989) बतौर लीड एक्टर सलमान खान के करियर की पहली फिल्म थी। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस फिल्म के ऑडिशन के लिए सलमान अपने एक दोस्त के कपड़े लेकर गए थे। जी हां, सलमान ने अपने इस दोस्त का आधा वार्डरोब 'मैंने प्यार किया' के ऑडिशन के लिए खाली कर दिया था। आखिर कौन था सलमान का वो दोस्त...

    - हम सलमान के जिन दोस्त की बात कर रहे हैं, वे बॉलीवुड के जाने-माने प्रोड्यूसर बंटी वालिया हैं। सलमान को लेकर वे 'प्यार किया तो डरना क्या' (1998) और 'हैलो ब्रदर'(1999) प्रोड्यूस कर चुके हैं। विश्वरूप घोष की बुक 'हॉल ऑफ फेम सलमान खान' में बंटी के एक स्टेटमेंट को शामिल किया गया है। बुक में कहा गया है कि बंटी वालिया ऑडिशन के वक्त सलमान के साथ थे। उन्होंने सलमान की जिंदगी के कभी न भूलने वाले इस दिन का किस्सा बुक में बताया है।

    क्या बताया है बंटी ने

    बकौल बंटी,"सलमान मेरे घर सुबह-सुबह 6 बजे आ गया। उसने मेरा आधा वार्डरोब खाली कर अपनी कार में पटक लिया। सलमान का पूरा वार्डरोब पहले से ही वहां मौजूद था। उसने पूरे दिन का इंतजाम कर लिया था। मैं बहुत नर्वस था और मुझे इस बात का अहसास भी था कि यह सलमान के लिए बहुत बड़ा मौका था। लेकिन वह हमेशा की तरह शांत और गुमशुम था।"

  • आसान नहीं थी 'मैंने प्यार किया', ऑडिशन के लिए दोस्त के कपड़े लेकर गए थे सलमान
    +5और स्लाइड देखें

    सलमान भी सुना चुके अपने इस ऑडिशन का किस्सा

    - जसीम खान की बुक 'बीइंग सलमान' के मुताबिक, खुद सलमान भी अपने इस ऑडिशन का किस्सा सुना चुके हैं। सलमान ने कहा था, "एक दिन मुझे राजश्री प्रोडक्शन से ऑडिशन के लिए फोन आया। मैं कोरियोग्राफर फराह खान को साथ ले गया। हम दोनों ही उस वक्त स्ट्रगल कर रहे थे। ऑडिशन में मुझे डांस स्किल दिखाने को कहा गया। उस वक्त मेरे डांस को देखकर फराह वहां से भाग गईं। उन्होंने बाद में मुझे बताया कि मैंने कितना बुरा डांस किया था।

  • आसान नहीं थी 'मैंने प्यार किया', ऑडिशन के लिए दोस्त के कपड़े लेकर गए थे सलमान
    +5और स्लाइड देखें

    ऑडिशन के बाद भी फिल्म में सलमान के सिलेक्शन पर था सस्पेंस

    - सलमान ऑडिशन दे चुके थे। लेकिन उन्हें फिल्म के लिए फाइनल नहीं किया था। दरअसल, राजश्री प्रोडक्शन चाहता था कि 'मैंने प्यार किया' 'बीवी हो तो ऐसी' (सलमान खान की डेब्यू फिल्म) से पहले रिलीज हो। जबकि 'बीवी हो तो ऐसी' उस वक्त तक पूरी हो चुकी थी।

  • आसान नहीं थी 'मैंने प्यार किया', ऑडिशन के लिए दोस्त के कपड़े लेकर गए थे सलमान
    +5और स्लाइड देखें

    ...और फिर एक दिन

    - बुक 'बीइंग सलमान' में यह बताया गया है कि कैसे यह सस्पेंस खत्म हुआ कि सलमान 'मैंने प्यार किया' करने वाले थे या नहीं। बुक में सलमान के इंटरव्यू के हवाले से लिखा गया है, "एक दिन मैं अपने स्कूटर पर बैठा हुआ था। तभी मैंने सतीश भल्ला और एक एम्बेसडर कार को अपनी ओर आते देखा। सूरज और जाकिर साब कार से बाहर आए और साइन करने के लिए पेपर मेरे हाथ में थमा दिए। मैंने पूछा कि यह सब क्या है। उन्होंने कहा- हम तुम्हे अपनी फिल्म में ले रहे हैं। कोई फर्क नहीं पड़ता कि यह पहले रिलीज हो पाती है या नहीं। तुम फिल्म के लिए परफेक्ट हो।"

  • आसान नहीं थी 'मैंने प्यार किया', ऑडिशन के लिए दोस्त के कपड़े लेकर गए थे सलमान
    +5और स्लाइड देखें

    फैमिली को शूटिंग शेड्यूल भी नहीं बताते सलमान

    - सलमान ने 'मैंने प्यार किया' साइन की। लेकिन उन्होंने कभी फैमिली की मदद नहीं मांगी। यहां तक कि फिल्म की शूटिंग के दौरान भी नहीं। 'बीइंग सलमान' के मुताबिक, जब सलमान ने पिता सलीम खान को बताया कि उन्होंने सूरज बड़जात्या के साथ एक फिल्म साइन की है तो उनका जवाब था कि वे फिल्म पूरी होने के बाद ही देखेंगे। वहीं, सलमान की चाची सूफिया खान के मुताबिक, सलमान अपनी फिल्म के शेड्यूल के बारे में भी घर में कोई चर्चा नहीं करते थे। बकौल सूफिया, "सलमान ने पॉकेट मनी सेव करके एक पुरानी स्टैंडर्ड कार खरीदी और उसकी मरम्मत कराई। यहां तक कि वह फिल्म के कॉस्टयूम भी अपनी पॉकेट मनी से ही खरीदता था।" सूफिया के मुताबिक, सलमान ने पिता से कभी आर्थिक मदद नहीं मांगी। वे जो भी बने, अपने दम पर बने।

  • आसान नहीं थी 'मैंने प्यार किया', ऑडिशन के लिए दोस्त के कपड़े लेकर गए थे सलमान
    +5और स्लाइड देखें

    सलमान को डर था- कहीं फ्लॉप न हो जाए फिल्म

    - सलमान खान अपनी इस फिल्म को लेकर कुछ डरे हुए थे। उन्हें डर था कि कहीं यह फ्लॉप न हो जाए। सलमान के साथ इस फिल्म में बतौर विलेन नजर आए मोहनीश बहल कहते हैं, "मैंने सलमान की चिंता को देखा था। हालांकि, उन्होंने कभी इसे खुलकर उजागर नहीं किया। सलमान उस तरह के लोगों से हैं, जो अपनी एक्सप्रेशंस और नर्वसनेस को स्माइल के जरिए कहते हैं। लेकिन उन्होंने मुझसे कई बार पूछा था कि अगर फिल्म नहीं चली तो? मैं उनसे कहता था- तो मैं वापस अपनी जगह चला जाउंगा और तुम बैंडस्टैंड (जहां सलमान का घर है) पर जाकर बैठना।" हालांकि, जब 29 अक्टूबर 1989 को फिल्म रिलीज हुई तो मोहनीश और सलमान ने साथ में देखी और पाया कि गानों के दौरान ऑडियंस पर्दे की ओर सिक्के उछाल रही थी। फिल्म बॉक्सऑफिस पर सुपरहिट साबित हुई और सलमान रातोंरात सुपरस्टार बन गए। मोहनीश बहल के मुताबिक, उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि सलमान कभी इतने सक्सेसफुल हो पाएंगे।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: When Salman Khan Gave Audition For Maine Pyar Kiya
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×