Home »News» Shah Rukh Khan Trolls For His Sister Who Participating In Pakistan Election

बहन पाकिस्तान में लड़ रही चुनाव, इधर भाई शाहरुख पर लोग साध रहे निशाना

शाहरुख खान की चचेरी बहन पाकिस्तान के आम चुनाव में बतौर निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में उतर रही हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jun 09, 2018, 05:58 PM IST

बहन पाकिस्तान में लड़ रही चुनाव, इधर भाई शाहरुख पर लोग साध रहे निशाना

- शाहरुख खान की चचेरी बहन पाकिस्तान में लड़ रहीं चुनाव।

- सोशल मीडिया पर शाहरुख को किया जा रहा ट्रोल।

- पाकिस्तान के पेशावर में रहती हैं शाहरुख के चाचा की फैमिली।

मुंबई. शाहरुख खान के चाचा की बेटी नूरजहां पाकिस्तान में चुनाव लड़ रही हैं। वे वहां के आम चुनाव में खैबर पख्तूनख्वा संसदीय सीट से बतौर निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में उतरेंगी। चुनाव 25 जुलाई को हैं। लेकिन बहन के इस फैसले के बाद इंडिया में उनके भाई शाहरुख को ट्रोल किया जा रहा है। सोशल मीडिया यूजर्स शाहरुख पर तरह-तरह के कमेंट कर रहे हैं। कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने शाहरुख को पाकिस्तान चले जाने की और कभी वापस न आने की सलाह दी है तो कुछ ने लिखा है, "अब समझ आया कि अमेरिका में शाहरुख के कपड़े क्यों उतरवा लिए जाते हैं।" बता दें कि नूरजहां ने वोटरों से अपील की है कि जिस तरह से वो शाहरुख को सपोर्ट करते हैं वैसे ही उन्हें भी सपोर्ट करें..पेशावर में रहती हैं नूरजहां...

- शाहरुख की कजिन नूरजहां पेशावर (पाकिस्तान) में रहती हैं। दरअसल, 1947 में भारत-पाक विभाजन के दौरान शाहरुख के पिता मीर ताज मोहम्मद माइग्रेट होकर दिल्ली आ गए थे, जबकि चाचा गुलाम मोहम्मद गामा पाकिस्तान में ही रह गए थे। गुलाम मोहम्मद गामा फ्रीडम फाइटर थे। गुलाम मोहम्मद के दो बेटे (मंसूर खान और मकसूद खान) और एक बेटी (नूरजहां) हैं। बड़े बेटे मंसूर खान पेशावर के किस्सा ख्वानी बाजार में बांस की सीढ़ियां बनाने का काम करते हैं। उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था कि शाहरुख उनके छोटे भाई मकसूद खान के सबसे ज्यादा क्लोज थे।

1978 में पहली बार पाकिस्तान गए थे शाहरुख

- मंसूर खान ने इस इंटरव्यू में यह भी बताया था कि 1978 में शाहरुख पहली बार अपने पिता के साथ पेशावर पहुंचे थे। शाहरुख को पेशावर के आसपास के इलाकों में स्वात बहुत पसंद था। हालांकि, अब शाहरुख लंबे समय से वे वहां नहीं गए। शाहरुख की चचेरी बहन नूरजहां (मुन्नी) साल 1997 में मुंबई आई थीं और करीब ढाई महीने शाहरुख के साथ ही रही थीं। नूरजहां ने अपने बेटे का नाम उनके नाम पर 'शाहरुख' ही रख लिया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×