Home »Gossip» Sanjay Dutt Broke Down Listening To Recorded Voice Of Mother Nargis Dutt

मौत के बाद मां की रिकॉर्डिंग सुन 4 दिन तक चीख-चीखकर रोते रहे थे संजय दत्त

नरगिस बेटे संजय दत्त की नशे की लत छुड़ाना चाहती थीं लेकिन कैंसर जैसी बीमारी ने उन्हें कमजोर कर दिया था।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 11, 2018, 12:04 AM IST

मौत के बाद मां की रिकॉर्डिंग सुन 4 दिन तक चीख-चीखकर रोते रहे थे संजय दत्त

मुंबई. रणबीर कपूर स्टारर फिल्म 'संजू' का दूसरा सॉन्ग रिलीज हो गया है। 'संजू' के दूसरे सॉन्ग का टाइटल 'कर हर मैदान फतह' है, जिसे रणबीर के साथ उनकी ऑनस्क्रीन मां मनीषा कोइराला और पिता परेश रावल पर फिल्माया गया है। गाने में परिवार के साथ संजय के गहरे रिश्ते की झलक साफ नजर आ रही है। बात अगर रियल लाइफ संजू की करें तो वे मां नरगिस दत्त के काफी करीब थे हालांकि नशे की लत की वजह से जब मां अमेरिका में कैंसर से जूझ रही थीं और मौत उनके करीब थी तब संजय दत्त होश में नहीं थे। नरगिस बेटे की नशे की लत छुड़ाना चाहती थीं लेकिन बीमारी ने उन्हें कमजोर कर दिया था। बेटे के लिए नरगिस ने रिकॉर्ड की थी आवाज...

- जब नरगिस अस्पताल में भर्ती थीं तो उन्होंने अपनी आवाज में कई बातें टेप रिकॉर्डर में रिकॉर्ड कर रखी थी।
- नरगिस को पता था कि अब उनके पास ज्यादा वक्त नहीं बचा है। वो चाहती थीं कि उनके जाने के बाद संजय दत्त उन टेप रिकॉर्ड्स को सुनें और अपनी नशे की लत छोड़ दें।
- तब तक संजय दत्त को पता भी नहीं था कि नरगिस उनके लिए ये सब छोड़कर जाने वाली हैं। नरगिस का निधन संजय दत्त की पहली फिल्म 'रॉकी' की रिलीज से ठीक पहले ही हुआ था।
- मां की मौत के बाद संजय की फैमिली ने उन्हें संभाला। लेकिन 3 साल बाद एक टेप में जब उन्होंने मां की आवाज सुनी तो वे बच्चों की तरह फूट-फूटकर चार दिन तक रोते रहे थे।

नशे की लत को छोड़ने के लिए अमेरिका में चला इलाज
- मां की मौत के 3 साल बाद संजय ने अमेरिका में नशीली दवा की लत से छुटकारे के लिए इलाज कराया।
- इस दौरान मदद के लिए पिता सुनील दत्त ने नरगिस के अंतिम दिनों के कुछ रिकॉर्ड किए हुए टेप उन्हें भेजे थे।
- संजय को जब अपने पिता से टेप मिला तो उन्हें पता नहीं था कि उसमें क्या है। उन्होंने उसे बजाया और अचानक ही कमरे में नरगिस की आवाज गूंजने लगी।
- मां की आवाज सुन संजय को अहसास हुआ कि वे उन्हें कितना प्यार करती थीं। इसी के बाद वो चीख-चीखकर रोए थे और 4 दिनों तक उनके आंसू नहीं रुके थे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: maut ke baad maan ki rikordinga sun 4 din tak chikh-chikhkar rote rahe the snjy dtt
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×