Home »News» Sairat And Dhadak Comparison And Interesting Facts

गांव की लड़की को डायरेक्टर ने बनाया था 'सैराट' की हीरोइन, फिल्म हिट होने पर मिले थे 5 करोड़ रुपए

फिल्म की कहानी 'सैराट' की तरह ही रखी गई है बस इसका बैकड्रॉप महाराष्ट्रियन न होकर राजस्थानी कर दिया गया है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 23, 2018, 03:39 PM IST

  • गांव की लड़की को डायरेक्टर ने बनाया था 'सैराट' की हीरोइन, फिल्म हिट होने पर मिले थे 5 करोड़ रुपए
    +2और स्लाइड देखें

    बॉलीवुड डेस्क। नागराज मंजुले के निर्देशन में बनी और 2016 में रिलीज हुई मराठी फिल्म 'सैराट' की सक्सेस को देख करण जौहर ने इसके हिंदी राइट्स खरीद लिए थे। पिछले साल उन्होंने ईशान खट्टर और जाह्नवी को लेकर फिल्म के हिंदी रीमेक की घोषणा कर दी थी। इसे उनकी प्रोडक्शन कंपनी धर्मा प्रोडक्शन ने प्रोड्यूस किया है। फिल्म की कुछ शूटिंग जोधपुर,जयपुर में और कुछ मुंबई मेंहुई।


    -धड़क 20 जुलाई को रिलीज हुई है जिसने अब तक बॉक्सऑफिस पर तीन दिन में 33.67 करोड़ रुपए की कमाई कर ली है। 'धड़क' और 'सैराट' का कंपेरिजन करते हुए आपको बताते हैं कुछ दिलचस्प फैक्ट्स।

    रिंकू राजगुरु: रिंकू महाराष्ट्र के गांव अकलुज की रहने वाली हैं। 14 साल की उम्र में उन्हें सैराट के डायरेक्टर नागराज मंजुलेने इसी गांव में देखा था। वह किसी शूटिंग के सिलसिले में वहां गए हुए थे। मंजुले ने रिंकू से ऑडिशन देने को कहा और सिलेक्शन होने पर उन्हें फिल्म में साइन कर लिया। तब रिंकू 9 वीं क्लास में पढ़ रही थीं।

    -इस फिल्म में उन्होंने आर्ची नाम की लड़की का किरदार निभाया और फेमस हो गईं।साधारण फैमिली में जन्मी रिंकू के पेरेंट्स महादेव और आशा राजगुरुपेशे से टीचर हैं। फिल्म हिट होने के बाद बतौर बोनस रिंकू को 5 करोड़ रुपए दिए गए थे। रिंकू ने पिछले साल ही 12वीं की पढ़ाई पूरी की है।

    जाह्नवी कपूर:जाह्नवी एक्ट्रेस श्रीदेवी और फिल्म प्रोड्यूसर की बेटी हैं। जाह्नवी मॉडलिंग में करियर बनाना चाहती थीं लेकिन फिर हीरोइन बन गईं।

    -जाह्नवी ने एक इंटरव्यू में धड़क से ब्रेक मिलने के बारे में कहा था, एक बार करण जौहर मेरे घर आए और मैंने उनके साथ स्क्रिप्ट रीडिंग करना शुरू कर दिया। वे यह देखना चाहते थे कि मैं फिल्मों में काम करने के लायक हूं या नहीं। हालांकि, वो मुझसे इससे पहले भी कई बार मिल चुके थे, लेकिन हमने कभी इस बारे में बात नहीं की थी। उन्होंने मेरा काम देखा और मुझे ‘धड़क’ मिल गई।

  • गांव की लड़की को डायरेक्टर ने बनाया था 'सैराट' की हीरोइन, फिल्म हिट होने पर मिले थे 5 करोड़ रुपए
    +2और स्लाइड देखें

    ईशान खट्टर: ईशान बॉलीवुड एक्ट्रेस रह चुकीं नीलिमा अजीम और राजेश खट्टर के बेटे हैं। शाहिद कपूर उनके सौतेले भाई हैं। नीलिमा ने शाहिद के पिता पंकज कपूर से पहली शादी की थी। ईशान की यह दूसरी फिल्म है।

    -इससे पहले वह माजिद मजीदी की 'बियॉन्ड द क्लाउड्स' में नजर आ चुके हैं जो इसी साल 20 अप्रैल को रिलीज हुई थी। फिल्मों में आने से पहले ईशान ने फेमस कोरियोग्राफर श्यामक दावर से डांस ट्रेनिंग ली थी।

    आकाश ठोसर: आकाश पुणे के छोटे से गांव जेउर (सोलापुर, महाराष्ट्र) के हैं। एक दिन वह पुणे से अपने गांव जा रहे थे। रेलवे स्टेशन पर उन्हें भारत मंजुले (डायरेक्टर नागराज मंजुले के भाई) ने देखा और फिल्म में कास्ट कर लिया। यहीं से आकाश की लाइफ बदल गई।

    -आकाश ने कभी एक्टिंग की दुनिया में कदम रखने का सोचा भी नहीं था लेकिन वह 'सैराट' के हीरो बन गए और जबरदस्त पॉपुलर हो गए। हाल ही में वह वेब सीरीज लस्ट स्टोरीज में राधिका आप्टे के अपोजिट नजर आए थे।

  • गांव की लड़की को डायरेक्टर ने बनाया था 'सैराट' की हीरोइन, फिल्म हिट होने पर मिले थे 5 करोड़ रुपए
    +2और स्लाइड देखें

    धड़क: मेकिंग में 50 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं जबकि इसके प्रमोशन में 20 करोड़ रुपए का बजट लगाया गया है।

    -फिल्म के डायरेक्टर शशांक खेतान हैं जिन्होंने इस फिल्म से पहले 'हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया' और 'बद्रीनाथ की दुल्हनिया' का निर्देशन किया था।

    सैराट: पहले हफ्ते में 25 करोड़ रुपए का जबरदस्त कलेक्शन किया था। वर्ड ऑफ़ माउथ के चलते फिल्म का कलेक्शन बहुत तेजी से बढ़ा था और इसने लागत से लगभग 2600% अधिक प्रॉफिट कमाया था।

    -फिल्म के डायरेक्टर नागराज मंजुले इन दिनों अमिताभ बच्चन के साथ एक बायोपिक की प्लानिंग कर रहे हैं।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×