Home »News» Priyanka Chopra Trolled For Visiting Rohingya Camps In Bangladesh

रोहिंग्या कैंप पहुंचीं प्रियंका, सोशल मीडिया यूजर्स बोले- पाकिस्तान भी चली जाओ

सोशल मीडिया यूजर्स प्रियंका की फोटो और उसके कैप्शन पर अपने-अपने तरीके से रिएक्ट कर रहे हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - May 22, 2018, 03:55 PM IST

  • रोहिंग्या कैंप पहुंचीं प्रियंका, सोशल मीडिया यूजर्स बोले- पाकिस्तान भी चली जाओ
    +2और स्लाइड देखें
    प्रियंका चोपड़ा रोहिंग्याओं के बीच।

    मुंबई. यूनिसेफ की ब्रांड एम्बेसडर और बॉलीवुड-हॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा सोमवार को बांग्लादेश के कॉक्स बाजार इलाके में मौजूद रोहिंग्या शरणार्थियों के कैंप पहुंचीं। इस मौके की फोटोज भी उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर की हैं और अपने मैसेज में रोहिंग्या शरणार्थियों की हालत पर चिंता जाहिर की। हालांकि, फोटो शेयर करने के बाद सोशल मीडिया पर उन्हें जमकर ट्रोल किया जा रहा है। सोशल मीडिया यूजर्स ने किए ऐसे कमेंट्स...

    - सोशल मीडिया यूजर्स प्रियंका की फोटो और उसके कैप्शन पर अपने-अपने तरीके से रिएक्ट कर रहे हैं। यूजर्स ने प्रियंका से सवाल पूछा है कि क्या कभी वे कश्मीरी पंडितों के बीच भी गई हैं? इसके अलावा, उन्हें यह सलाह भी दी गई है कि कभी उन्हें देश के अंदर झांककर भी देखना चाहिए। क्योंकि गरीबी यहां भी कम नहीं है। एक यूजर ने लिखा है, "कभी कश्मीरी पंडितों के बारे में भी सोचना...वो तो अपने देश के थे।" एक अन्य यूजर ने लिखा, " इंडिया से कमाते हो और दूसरे देशों में बांटते हो।" वहीं एक यूजर ने सलाह दी कि प्रियंका को पाकिस्तान भी जाना चाहिए, वहां हिंदू नरक की जिंदगी जी रहे हैं। वे सलाखों के पीछे नहीं हैं, लेकिन कैदियों की तरह रहने को मजबूर हैं।" एक ट्रोलर ने प्रियंका से सवाल किया है कि वे कितने रोहिंग्या बच्चों को गोद ले रही हैं। वहीं, कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने इसे प्रियंका का पब्लिसिटी स्टंट बताते हुए चैलेंज दिया है कि असली चैरिटी तो तब होगी,जब वे किसी रोहिंग्या से शादी कर लेंगी।

  • रोहिंग्या कैंप पहुंचीं प्रियंका, सोशल मीडिया यूजर्स बोले- पाकिस्तान भी चली जाओ
    +2और स्लाइड देखें

    क्या है प्रियंका का मैसेज?

    - प्रियंका ने फोटो के साथ जो मैसेज लिखा है, वह इस प्रकार है, "मैं कॉक्स बाजार में हूं। यूनिसेफ के साथ आज यहां दुनिया के सबसे बड़े रिफ्यूजी कैंप की फील्ड विजिट पर आई हूं। 2017 के सेकंड हाफ में दुनिया ने म्यांमार (बर्मा) के रखायन प्रांत में भयानक मंजर देखा। इस हिंसा में करीब 7 लाख रोहिंग्याओं को बांग्लादेश में फेंक दिया गया, जिनमें 60% बच्चे थे।" प्रियंका ने मैसेज में यह भी लिखा कि ये बच्चे बहुत कमजोर हैं और इन्हें देखभाल की जरूरत है। वे तो यह भी नहीं जानते कि म्यांमार में जो हुआ, उससे उनका ताल्लुक क्या है?

  • रोहिंग्या कैंप पहुंचीं प्रियंका, सोशल मीडिया यूजर्स बोले- पाकिस्तान भी चली जाओ
    +2और स्लाइड देखें

    2010 से यूनिसेफ की ब्रांड एम्बेसडर हैं प्रियंका

    - प्रियंका चोपड़ा को 2010 में यूनिसेफ का ब्रांड एम्बेसडर बनाया गया था। तब से वे लगातार दुनियाभर के पीड़ित बच्चों की मदद और हक के लिए आवाज उठा रही हैं। 2017 में वे सीरियाई शरणार्थियों से मिली थीं। वर्क फ्रंट की बात करें तो वे फिलहाल, इंटरनेशनल टीवी शो 'क्वांटिको' के तीसरे सीजन में नजर आ रही हैं। इसके अलावा वे डायरेक्टर अली अब्बास जफर की फिल्म 'भारत' से बॉलीवुड में वापसी की तैयारी में भी हैं। इस फिल्म में सलमान खान उनके अपोजिट होंगे। 2016 में उन्हें बॉलीवुड में आखिरी बार फिल्म 'जय गंगाजल' में देखा गया था। हालांकि, वे अपने प्रोडक्शन हाउस के बैनर तले पंजाबी, भोजपुरी और सिक्की भाषाओं की कुछ फिल्में प्रोड्यूस कर चुकी हैं। 2017 में उनकी हॉलीवुड फिल्म 'बेवॉच' भी रिलीज हुई थी।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×