Home »News» Priyanka Chopra The Dark Horse

प्रियंका की जिंदगी के हर पहलू को उजागर करती है 'प्रियंका चोपड़ा : द डार्क हॉर्स'

प्रियंका चोपड़ा की बायोग्राफी 'प्रियंका चोपड़ा : द डार्क हॉर्स' मार्केट में आ चुकी है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jun 13, 2018, 03:17 PM IST

प्रियंका की जिंदगी के हर पहलू को उजागर करती है 'प्रियंका चोपड़ा : द डार्क हॉर्स'

बुक : प्रियंका चोपड़ा : द डार्क हॉर्स
ऑथर :भारती एस.प्रधान
पब्लिशर : ओम बुक इंटरनेशनल, नोएडा (उत्तर प्रदेश )
कीमत :495 रुपए


ऑथर भारती एस. प्रधान की बुक 'प्रियंका चोपड़ा : द डार्क हॉर्स' मार्केट में आ चुकी है। भारती जानी-मानी कॉलमनिस्ट हैं और पहले शत्रुघ्न सिन्हा की बायोग्राफी 'एनीथिंग बट खामोश' लिख चुकी हैं। भारती ने अपनी नई बुक के जरिए प्रियंका चोपड़ा की जिंदगी के लगभग हर पहलू पर प्रकाश डालने की कोशिश की है। उन्होंने प्रियंका के शुरुआती जीवन पर रोशनी डाली है तो यह भी बताया है कि वे कैसे मॉडल बनी और फिर कैसे मिस वर्ल्ड तक सफर तय किया। कैसे उन्हें बॉलीवुड में एंट्री मिली और कैसे उन्होंने इंटरनेशनल लेवल पर अपनी पहचान बनाई। प्रियंका की जिंदगी के कई अनसुने किस्सों को भी इस बुक में शामिल किया गया है। खास बात यह है कि इसके लिए उन्होंने खुद प्रियंका से बात नहीं की। बल्कि उनके साथ काम कर चुके लोगों की मदद ली। इनमें जर्नलिस्ट प्रदीप गुहा, डायरेक्टर-प्रोड्यूसर संजय लीला भंसाली, मधुर भंडारकर, सुभाष घई, अनुराग बसु और तरुण मनसुखानी जैसे नाम शामिल हैं।

प्रियंका के स्ट्रगल पर किया गया फोकस

बुक में प्रियंका के स्ट्रगल पर खासतौर से फोकस किया गया है। भारती की बुक में प्रियंका की कहानी 30 नवंबर 2000 से शुरू होती है, जब वे लंदन के मिलेनियम डोम में मिस वर्ल्ड पीजेंट में इंडिया का प्रतिनिधित्व कर रही थीं। वे कंटेस्टेंट नंबर 23 थीं और उनके मन में पीजेंट को लेकर उथल-पुथल मची हुई थी। प्रियंका ने मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने के लिए किन-किन सवालों का जवाब दिया? यह भी भारती ने बुक में शामिल किया है। लेकिन मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने के बावजूद प्रियंका के लिए ग्लैमर इंडस्ट्री की राह इतनी आसान नहीं थी। मिस वर्ल्ड बनने से पहले प्रियंका ने बी-ग्रेड फिल्म 'गुड नाइट प्रिंसेस' साइन की थी। हालांकि, यह फिल्म कभी बन नहीं सकी।

नाक की सर्जरी बनी मुसीबत

मिस वर्ल्ड बनने के बाद डायरेक्टर महेश मांजरेकर ने उन्हें अपनी फिल्म में साइन किया था। इस फिल्म के प्रोड्यूसर विजय गलानी थे और एक्टर बॉबी देओल। लेकिन इसी बीच प्रियंका ने अपनी नाक की सर्जरी कराई। गलानी ने बुक में बताया है, "भारी मात्रा में मीडिया वहां मौजूद थी और प्रियंका के सेक्रेटरी प्रकाश जाजू मुझे बार-बार उससे मिलने के लिए जोर डाल रहे थे। मैं प्रियंका के रूम में गया तो देखा कि वे मेकअप कर रही हैं। तब मुझे अहसास हुआ कि प्रकाश आखिर क्योंकि बार-बार जोर डाल रहे थे। प्रियंका ने लंदन जाकर नाक की सर्जरी कराई थी। मुझे अपने आप पर भरोसा नहीं हो रहा था कि फिल्म सिटी में कुछ ही दिनों में शूटिंग शुरू होने वाली थी और फिर लंदन में एक लंबा शेड्यूल प्लान था। एक्ट्रेस की ऐसी नाक के साथ कैसे शूट किया जा सकता था।"

बरेली लौट जाना चाहती थीं प्रियंका

एक महीने बाद भी प्रियंका की नाक के साथ प्रॉब्लम थी। इससे बड़ी समस्या यह थी कि महेश मांजरेकर पहले ही कुछ फ्लॉप मूवीज के कारण परेशान थे।इधर बॉबी भी प्रियंका की नाक के साथ कम्फ़र्टेबल नहीं थे। वे फिल्म से अलग हो गए और फीस (जो कि अदा की जा चुकी थी) किसी दूसरी फिल्म में एडजस्ट करने का फैसला लिया। इसी तरह प्रियंका ने अनिल शर्मा के साथ 'द हीरो : लव स्टोरी ऑफ स्पाई' साइन की थी। लेकिन जब अनिल ने प्रियंका की नाक की सर्जरी देखी तो वे भड़क गए थे। उन्होंने प्रियंका को फिल्म में न लेने का फैसला कर लिया था। लेकिन जब प्रियंका की मां ने कहा कि उनकी बेटी के हाथ से पहले ही कई फिल्में निकल चुकी हैं और अब उनके पास बरेली (प्रियंका का नेटिव प्लेस) लौट जाने के अलावा कोई चारा नहीं है तो अनिल शर्मा पसीज गए और उन्होंने प्रियंका को सेकंड लीड एक्ट्रेस चुन लिया।

यह तो प्रियंका के बॉलीवुड में शुरुआती दौर के कुछ किस्से हैं। प्रियंका की लाइफ की पूरी कहानी आप भारती एस.प्रधान की बुक 'प्रियंका चोपड़ा : द डार्क हॉर्स' में पढ़ सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×