Home »News» Actor Paresh Rawal Speaks About His Experience In Working Sanju

'संजय को जेल में चुभती थी ये बात,अपनी गलतियों का खामियाजा पिता को भुगतना पड़ रहा है'

फिल्म 'संजू' 29 जून को रिलीज़ हो रही है जिसमें रणबीर कपूर संजय दत्त की भूमिका में हैं।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 18, 2018, 07:47 PM IST

  • 'संजय को जेल में चुभती थी ये बात,अपनी गलतियों का खामियाजा पिता को भुगतना पड़ रहा है'
    +1और स्लाइड देखें

    परेश रावल अपकमिंग फिल्म 'संजू' में सुनील दत्त के किरदार में नजर आएंगे। यह फिल्म संजय दत्त की बायोपिक है। हालिया मुलाकात में सुनील और संजय दत्त से पहली मुलाकात के किस्से शेयर करने के अलावा परेश ने बताया कि संजय की लाइफ का कौन सा हिस्सा उन्हें आश्चर्यचकित करता है। परेश ने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में बताई फिल्म से जुड़ी कुछ बातें...

    ‘संजू', संजय दत्त की ज़िंदगी पर आधारित है। इस एक्टर का कौन-सा किस्सा आपको आश्चर्यचकित करता है?
    संजय दत्त की पूरी लाइफ इंट्रेस्टिंग है। वे बड़े ही ईमानदार किस्म के आदमी हैं। अपनी लाइफ के बारे में हिरानी को बताने के बाद संजय ने कहा, ‘जैसा ठीक लगे वैसा दिखाओ।’ना डाइल्यूट करना और न ही प्रशंसा करना। जितनी ईमानदारी के साथ उन्होंने अपनी लाइफ की स्टोरी बताई, उतने ही ईमानदारी के साथ हिरानी ने कहानी पेश की है। उनकी ज़िंदगी का सबसे इंट्रेस्टिंग फेज मुझे जेल वाला लगता है। उस समय संजय को यह भी परेशानी थी कि ‘मेरे पिता खामखां यह भुगत रहे हैं। उनकी इमेज ख़राब हो रही है। गलती तो हो गई है, अब उससे बाहर निकलना है।' उनकी जगह कोई और होता तो टूट ही जाता।

    फिल्म संजू' में आप सुनील दत्त का रोल कर रहे हैं। क्या रियल लाइफ में उनके साथ की पहली मुलाकात याद है?
    मैंने उनको अजंता थिएटर में देखा था। मेरी फिल्म ‘कब्ज़ा’ (1988) का ट्रायल था। बस, हाय-हैलो किया था।

    आपने इस रोल के लिए कैसे तैयारी की?
    मैंने सुनील जी के फोटोज देखे और उनसे जुड़े फुटेज देखे और वैसे भी रणबीर कपूर जब संजय दत्त बनते हैं, तब आपके अंदर का सुनील दत्त बाहर आ ही जाता है।

    फिल्म का सबसे डिफिकल्ट सीन कौन-सा था?

    पहला सीन, सेट पर पहला दिन हमेशा मुश्किल होता है। टेंशन और नर्वसनेस होती है पर जब डायरेक्टर हौसला बढ़ाता है कि आप सही कर रहे हैं तो सब ठीक हो जाता है।


    आपकी संजय दत्त के साथ पहली मुलाकात कब हुई थी?
    मेरी उनसे पहली मुलाकात 'नाम' फिल्म के शूटिंग के दौरान हांगकांग में हुई थी। मैंने उनको देखा कि वह कितने हैंडसम थे। मैं तो सोच में पड़ गया कि इसको ड्रग लेने की क्या ज़रूरत पड़ी होगी। फिल्म की शूटिंग के दौरान हमदोनों एक ही रूम में ठहरे थे। उन दिनों वे कोल्डड्रिंक बहुत पीते थे।

  • 'संजय को जेल में चुभती थी ये बात,अपनी गलतियों का खामियाजा पिता को भुगतना पड़ रहा है'
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×