Home »News» Movie Review : Rajkumar Hirani's Sanju Is Half Truth And Half Imagination

Review: ये है हिरानी वाली ‘संजू’; संजय दत्त की जिंदगी की आधी हकीकत, आधा फसाना

संजय दत्त की बायोपिक देश और विदेश की कुल 5400 स्क्रीन्स पर आज रिलीज हुई है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jun 29, 2018, 03:54 PM IST

Review: ये है हिरानी वाली ‘संजू’; संजय दत्त की जिंदगी की आधी हकीकत, आधा फसाना

बॉलीवुड डेस्क. 160 मिनट की फिल्म ‘संजू’ देखने के आपके पास दो सबसे अहम कारण हैं रणबीर कपूर की दमदार एक्टिंग और संजय दत्त की कंट्रोवर्शियल लाइफ। संजू के रिलीज होने से पहले ही रणबीर ने कहा था- संजू किसी का महिमामंडन नहीं है, ये इंसानी गलतियों को दिखाने वाली फिल्म है। फिल्म शुरू होने के साथ ही यह साफ हो गया कि फिल्म संजय की लाइफ की आधी हकीकत और आधा फसाना है। फिल्म में मनोरंजन और दर्शकों की जरूरत के अनुसार किरदार और उनके नाम बदल दिए गए हैं। संजय की जिंदगी दो दोस्तों के कारण बदल जाती है। एक जो उसे नशे के दलदल में धकेलता है और दूसरा जो संजय को बुरे वक्त से बाहर निकलने में मदद करता है।

स्टार कास्ट: रणबीर कपूर, अनुष्का शर्मा, सोनम कपूर, दीया मिर्जा, मनीषा कोईराला, करिश्मा तन्ना, परेश रावल, विकी कौशल, जिम सर्भ, बोमन ईरानी।

निर्देशक:राजकुमार हिरानी

स्टोरी राइटर : अभिजात जोशी, राजकुमार हिरानी

प्रोड्यूसर : विधु विनोद चाेपड़ा

रेटिंग : 4.5/5

इंटरवल तक बुरी आदतों की कहानी :

- फिल्म की शुरुआत में संजय दत्त एक कुर्सी पर बैठे अपनी बॉयोग्राफी पढ़ रहे होते हैं। जिसे लिखने वे बायोग्राफर विनी डाइज (अनुष्का शर्मा) को लंदन से बुलाते हैं। कहानी फ्लैश बैक में चलती है।

- सबसे पहले जिंदगी का वो पड़ाव आता है जब पिता की एक डांट के बाद निराश संजू ड्रग एडिक्ट बन जाता है। ड्रग्स और गर्लफ्रेंड्स का नशा लंबा चलता है।

- मां नरगिस की मौत के बाद इमोशनली टूटा संजू एक के बाद एक गलत काम करता जाता है।

- इंटरवल तक संजू की जिंदगी का वो हिस्सा दिखाया गया जिसमें उनकी इमेज एक बिगड़ैल बेटे की है जो मीडिया से बुरी तरह नाराज है।

इंटरवल के बाद जेल यात्रा:

- बाबरी ढांचा गिराए जाने के बाद हुए दंगों के सीन से शुरू होती है आधी कहानी। मुंबई ब्लास्ट और एके 56 वाले केस के बाद लोगों और मीडिया ने उन्हें आतंकवादी कहना शुरू कर दिया था। इन सबसे हताश संजू जिंदगी खत्म करने का रास्ता चुनने की ओर बढ़ता है।

- स्टारडम में शाहरुख-आमिर का दबदबा बढ़ता है और संजू फिल्मों के लिए तरसते हैं। मीडिया आग में और घी डालने का काम करता है। हताशा और बढ़ती जाती है। जेल और बेल में उलझे संजू के मुन्नाभाई अवतार से कुछ अच्छे दिन आते हैं।

- फिल्म में संजय की जिंदगी के केवल दो अहम पहलुओं को दिखाया गया है, इसमें उनकी पूरी जिंदगी शामिल नहीं है। संजय की छवि बदलने राजू ने थोड़ा नरम रुख दिखाते हुए उन्हें दर्शकों के सामने इनोसेंट दिखाया है।

कौन किस भूमिका में

- जिम सर्भ सलमान के रोल में नहीं हैं। बल्कि वे संजय के पहले दोस्त जुबिन मिस्त्री के रोल में हैं। वह जुबिन ही थे जिसने संजय को ड्रग्स और शराब की लत लगाई थी।

- परेश रावल ने पिता सुनील दत्त के रोल करते हुए बेटे का साथ निभाया है तो नरगिस दत्त का किरदार मनीषा कोईराला ने निभाया है और लुक्स के मामले में वे बिल्कुल नरगिस की तरह ही लगी हैं।

- सोनम कपूर, इनके किरदार को लेकर सबसे ज्यादा उत्सुकता थी। सोनम इस फिल्म में ऋचा या टीना मुनीम के किरदार में नहीं हैं, बल्कि वे संजय की पहली गर्लफ्रैंड रूबी बनी हैं। जो पारसी थी। - बोमन रूबी के पिता बने हैं, जो कॉमेडी क्रिएट करते हैं। संजय रूबी से शादी करने वाले थे, लेकिन वे ड्रग्स के कारण भूल गए।
- विक्की कौशल संजय के उस फैन की भूमिका में हैं, जो अमेरिका में उनसे मिलना चाहते थे। फिल्म में विक्की के किरदार का नाम कन्हैया लाल कापसे है।

क्रिटिक्स से पहले दर्शकों ने दिए 4.5 स्टार:'संजू' को क्रिटिक्स की रेटिंग्स मिलनी बाकी है, लेकिन फर्स्ट डे फर्स्ट शो देखकर आने वाले दर्शकों ने फिल्म को 4 स्टार रेटिंग्स दे दी है। साेशल मीडिया पर यूजर्स लगातार फिल्म और रणबीर की एक्टिंग की तारीफ कर रहे हैं।

- ट्विटर पर एक यूजर कुनाल निगम ने लिखा है कि- फिल्म के लिए सिर्फ एक शब्द- एक्स्ट्राऑर्डिनरी। संजू को 5 में से 4.5 स्टार। फिल्म ब्लॉक बस्टर होने जा रही है।

- ट्रेड एनालिस्ट तरन आदर्श ने भी फिल्म को मास्टरपीस बताया है। तरन ने संजू को 4.5 स्टार रेटिंग दी है।

ग्राफिक और सिनेमेटोग्राफी भी कमाल : संजय की सुपरहिट मूवीज के रीयल सीन में रणबीर को ग्राफिक्स के जरिए बेहतरीन ढंग से प्लेस किया गया है। जिसकी बानगी ट्रेलर और टीजर में आप देख ही चुके हैं- मुन्ना भाई के कई सीन में। रवि बर्मन, फिल्म संजू के सिनेमेटोग्राफर हैं। रणबीर की एक्टिंग के बाद फिल्म में जान डालने का असली काम रवि ने ही किया है।

शिकायत के बाद भी नहीं हटाया सीन : गुरुवार को सेंसर बोर्ड ने जेल में टॉयलेट लीक होने वाले सीन को फिल्म मेकर्स से हटाने के लिए कहा था। ‘संजू’ के ट्रेलर में बैरक के टॉयलेट ओवरफ्लो होने वाले सीन पर आपत्ति जताई गई थी। आरटीआई एक्टिविस्ट पृथ्वी मस्के ने सीबीएफसी को लिखा था कि फिल्म में जेल को गलत तरीके से दिखाने की कोशिश की गई है।

- राजू हिरानी ने यह सीन फिल्म में लेने के पीछे वजह बतायी थी कि जब संजय जेल में थे तब मानसून के दौरान भारी बारिश के कारण जेल का टॉयलेट ओवर फ्लो हो गया था।

ये भी पढ़ें

25 साल पहले एक रिपोर्टर की खबर के बाद गिरफ्तार हुए थे संजय दत्त, खुद फोन करके पूछा था- अब क्या करूं?

सोशल मीडिया ने संजू को बनाया पप्पू, सलमान और संजय के फैन्स के बीच छिड़ा सोशल वॉर

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×