Home »News» Sanjay Dutt Film Career And His Movies

Birthday Spl: संजय दत्त की डेब्यू फिल्म रॉकी के बाद लगातार 10 फिल्में हुईं थीं सुपरफ्लॉप, करियर का टर्निंग प्वाइंट बनी थी 'नाम'

1986 में आई फिल्म 'नाम' ने उस दौर में 12.76 करोड़ रुपए का बिजनेस किया था।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 29, 2018, 12:28 PM IST

Birthday Spl: संजय दत्त की डेब्यू फिल्म रॉकी के बाद लगातार 10 फिल्में हुईं थीं सुपरफ्लॉप, करियर का टर्निंग प्वाइंट बनी थी 'नाम'
  • संजय दत्त की लेटेस्ट रिलीज फिल्म 2018 में साहब, बीवी और गैंगस्टर है।
  • जून 2018 में रिलीज हुई रणबीर कपूर की 'संजू' संजय दत्त की बायोपिक है।

बॉलीवुड डेस्क. 29 जुलाई, 1959 को मुंबई में जन्मे संजय दत्त आज 59 साल के हो चुके हैं। संजय पहली बार बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट फिल्म 'रेशमा और शेरा' (1971) में नजर आए थे। हालांकि बतौर एक्टर पहली फिल्म 10 साल बाद 1981 में आई 'रॉकी' थी, जिसमें उन्होंने टीना मुनीम के साथ काम किया था। संजय दत्त की डेब्यू फिल्म हिट रही और 1.2 करोड़ में बनी इस मूवी ने वर्ल्डवाइड 6.4 करोड़ का बिजनेस किया। हालांकि पहली हिट देने के बाद संजय दत्त की एक के बाद एक लगातार 10 फिल्में सुपरफ्लॉप हुईं।

ये थीं संजय 10 फ्लॉप फिल्में : 'रॉकी' के बाद 1982 में संजय की 'जॉनी आई लव यू' और विधाता आई। 1983 में बेकरार और 'मैं आवारा हूं' रिलीज हुईं। 1984 में 'जमीन आसमान' और मेरा फैसला में भी संजय दत्त नजर आए। 1985 में 'दो दिलों की दास्तां' और 'जान की बाजी' जैसी फिल्मों में काम किया। 1986 में 'मेरा हक' और 'जीवा' भी आईं।

- कुछ फिल्मों में संजय ने कैमियो किया। सारी फिल्में एक के बाद एक रिलीज हुईं और सभी सुपरफ्लॉप साबित हुईं।

- इसी दौर में संजय दत्त ड्रग की लत के शिकार भी हो चुके थे। ड्रग एडिक्ट हो चुके संजय दत्त अपनी लगातार फ्लॉप होती फिल्मों से काफी हताश हो गए थे।


टर्निंग प्वाइंट बनी जीजा की फिल्म :1986 में आई फिल्म 'नाम' संजय दत्त की जिंदगी का टर्निंग प्वाइंट साबित हुई। फिल्म की रिलीज से पहले संजय दत्त अपनी नशे की लत से परेशान होकर अमेरिका बसने की तैयारी में थे। अगस्त 1986 में 'नाम' रिलीज हुई। यह फिल्म 80 के दशक की 8वीं सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बनी।

- फिल्म के गाने 'चिट्ठी आई है' और 'तू कल चला जाएगा' को बीबीसी रेडियो वर्ल्डवाइड ने टॉप 100 गानों में शामिल किया था।

- फिल्म में संजय दत्त के जीजा (बहन नम्रता के पति) कुमार गौरव ने भी काम किया था। इसके साथ ही वो फिल्म के प्रोड्यूसर भी थे।


5 साल तक फिर करना पड़ा हिट का इंतजार :नाम की कामयाबी के बाद संजय दत्त को अगली हिट फिल्म के लिए करीब 5 साल का लंबा इंतजार करना पड़ा। इस दौरान संजय ने तकरीबन 24 फिल्मों में काम किया। उनमें से एक भी फिल्म ऐसी नहीं थी, जो बॉक्सऑफिस पर कमाल दिखा सकी हो।

- 1991 में आई लॉरेंस डिसूजा की फिल्म 'साजन' ने संजय दत्त के डूबते करियर को सहारा दिया। इस फिल्म के गाने लोगों की जुबां पर चढ़ गए और फिल्म ने बॉक्सऑफिस पर करीब 18 करोड़ रुपए की कमाई की।


फिर संजय दत्त ने दीं कई सुपरहिट फिल्में :साजन के बाद संजय दत्त ने 1991 में ही एक और सुपरहिट फिल्म 'सड़क' में काम किया। फिल्म में संजय की हीरोइन महेश भट्ट की बेटी पूजा भट्ट थीं। इसके बाद उन्होंने यलगार (1991), गुमराह (1992), खलनायक (1993), दौड़ (1997), दुश्मन (1997), दाग : द फायर (1999), हसीना मान जाएगी (1999), वास्तव (1999), जोड़ी नंबर वन (2001), कांटे (2002), मुन्नाभाई एमबीबीएस (2003), लगे रहो मुन्नाभाई (2006) जैसी कई शानदार फिल्मों में काम किया।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×