Home »News» Kishore Kumar's Ancestral Home Deal Is Fixed In 14 Crore. Son Amit Has Objection Over The Deal

14 करोड़ में हुई किशोर कुमार के खंडवा वाले बंगले की डील, बेटे अमित ने कहा- मेरी इजाजत के बिना कोई नहीं बेच सकता

इसी बंगले में आखिरी वक्त गुजारना चाहते थे किशोर कुमार, वसीयत में बताई थी आखिरी इच्छा

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jul 18, 2018, 03:25 PM IST

14 करोड़ में हुई किशोर कुमार के खंडवा वाले बंगले की डील, बेटे अमित ने कहा- मेरी इजाजत के बिना कोई नहीं बेच सकता

बॉलीवुड डेस्क-सिंगर किशोर कुमार के खंडवा (मध्य प्रदेश) स्थित पुश्तैनी मकान को लेकर एक बार फिर से विवाद शुरू हो गया है। किशोर के खंडवा स्थित पुश्तैनी मकान बेचने के खिलाफ उनके बेटे अमित कुमार ने कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है। अमित कुमार ने सूचना छपवाई है कि उनके चचेरे भाई, उनकी इजाजत के बिना पुश्तैनी मकान बेच रहे हैं। अमित का कहना है कि उनकी इजाज़त के बगैर ये मकान कोई नहीं बेच सकता। इसी साल मई में खबर आई थी कि किशोर कुमार का पुश्तैनी मकान 14.5 करोड़ रुपए में खंडवा के बिजनेसमैन अभय जैन ने ख़रीदा है।

-सूचना में अमित कुमार के हवाले से कहा गया है कि मेरे चचेरे भाई अर्जुन कुमार और उनके पिता अनूप कुमार खंडवा की पैतृक संपत्ति बेचने की कोशिश कर रहे हैं। वो खुद को इस पैतृक संपत्ति का मालिक बता रहे हैं। जबकि ये पैतृक संपत्ति उनके पिता किशोर कुमार के नाम से जानी जाती है।

-संपत्ति अब अमित कुमार और चचेरे भाई अर्जुन कुमार के साझा नाम से लैंड रिकॉर्ड में दर्ज है। इसलिए अर्जुन को अकेले इसे बेचने या किसी और के नाम करने का अधिकार नहीं है। लेकिन अर्जुन कुमार इसे अपने संपत्ति बताकर बेचने की फिराक में हैं। पैतृक मकान का बंटवारा नहीं हुआ है, इसलिए ये अविभाजित है।

बंगले के आसपास 15 से ज्यादा दुकानें

-मई में बिजनेसमैन अभय जैन ने सौदे की पुष्टि की थी और बताया था कि बंगले के आसपास 15 से ज्यादा दुकानें हैं। तीन दुकानों की रजिस्ट्री है और शेष दुकानों पर कब्जे का विवाद है। जिसे आपसी सहमति से सुलझाने में एक साल का वक्त लगेगा, जिसके बाद रजिस्ट्री होगी।

बंगले के स्थान पर बनेगा कॉम्पलेक्स

-अभय जैन ने बताया था कि खंडवा के पुश्तैनी बंगले और दुकानों को लेकर गांगुली परिवार में विवाद था। सबसे बात कर डील फाइनल हो गई है। सारे मामले सुलझाने के बाद ही बंगले की रजिस्ट्री होगी। उन्होंने कहा कि किशोर कुमार के खंडवा स्थित बंगले के स्थान पर कॉम्पलेक्स बनाया जाएगा। किशोर कुमार की स्मृतियों को भी सहेजेंगे।

करीब 7200 स्क्वेयर फीट में फैला मकान

-किशोर कुमार का घर खंडवा के मुख्य बाजार में स्थित है। यह 7200 स्क्वेयर फीट में फैला है। इस घर के मेन गेट पर गांगुली हाउस लिखा हुआ है। किशोर कुमार और उनके भाई अशोक और अनूप इसी घर में पैदा हुए थे। प्राइमरी एजुकेशन पूरा करने के बाद किशोर कुमार एक्टिंग के लिए मुंबई चले गए थे।

इसी बंगले में रहना चाहते थे किशोर

- 4 अगस्त 1929 को खंडवा में जन्मे किशोर का निधन 13 अक्टूबर 1987 को हुआ था।

- किशोर जिंदगी का आखिरी वक्त इसी बंगले में गुजारना चाहते थे।

- किशोर की वसीयत के मुताबिक, उनकी अंतिम यात्रा इसी बंगले से निकलनी थी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×