Home »News» Karan Johars Next Takht Stars Ranveer Singh, Kareena Kapoor, Alia Bhatt And Janhvi

करण जौहर की अगली फिल्म 'तख्त' में रणवीर सिंह बनेंगे औरंगजेब, जान्हवी, आलिया और करीना को भी मिले अहम रोल

शाहजहां की मौत के बाद भी तख्त हासिल करने में औरंगजेब के चातुर्य का मुकाबला दारा शिकोह नहीं कर पाए थे।

अमित कर्ण | Last Modified - Aug 09, 2018, 01:29 PM IST

करण जौहर की अगली फिल्म 'तख्त' में रणवीर सिंह बनेंगे औरंगजेब, जान्हवी, आलिया और करीना को भी मिले अहम रोल

बॉलीवुड डेस्क.करण जौहर ने एक नई फिल्म अनाउंस कर दी है। 'ऐ दिल है मुश्किल' के बाद वह बतौर डायरेक्टर एक पीरियड ड्रामा फिल्म बनाने जा रहे हैं जिसका नाम 'तख्त' होगा। करण ने इसकी अनाउंसमेंट अपने ट्विटर अकाउंट पर कर दिया है। उन्होंने लिखा-'अपनी अगली फिल्म तख्त की लीड कास्ट को अनाउंस करते हुए मैं बेहद खुश हूं। रणवीर सिंह, करीना कपूर खान, आलिया भट्ट, विक्की कौशल, भूमि पेडनेकर, जान्हवी कपूर, अनिल कपूर इस फिल्म का हिस्सा होंगे। स्क्रीनप्ले सुमित रॉय का होगा जबकि हुसैन हैदरी और सुमित रॉय ही इसके डायलॉग्स भी लिखेंगे।'


‘तख्त’ में पॉजिटिव फ्रेम में दिख सकता है औरंगजेब : यह दो साल बाद 2020 में आएगी। यह मूल रूप से औरंगजेब और दाराशिकोह के बीच तख्त को लेकर हुए भिड़ंत पर बेस्ड है। औरंगजेब की मूल छवि तो हिंदू विरोधी और क्रूर शासक की है, मगर फिल्म में उस किरदार को पॉजिटिव फ्रेम में दिखाया जा सकता है।

-उसकी वजह फिल्म से जुड़े सूत्रों ने जाहिर की है। वह यह कि यह फिल्म दरअसल अमरीकी ओर इतालवी इतिहासकारों ऑडरी ट्रस्चेक और निकोलाई मानुची की किताबों पर बेस्ड है। ऑडरी ट्रस्चेक की किताब ‘औरंगजेब-द मैन एंड द मिथ’ के मुताबिक, औरंगजेब की नेगेटिव इमेज के पीछे अंग्रेजों के जमाने के इतिहासकार जिम्मेदार हैं। उन्होंने औरंगजेब की नीतियों का ऐसा इंटरप्रेटेशन करके दिया, जिससे हिंदुओं और मुस्लमानों के बीच कड़वाहट बनी रहे और वे डिवाइड एंड रूल खेलते रहे।

-इसी तरह इतालवी इतिहासकार निकोलाई मानुची ने अपनी किताब ‘स्टोरियो दो मोगोर’ में दारा शिकोह को भी दूध का धुला नहीं दिखाया है। उस किताब में साफ जिक्र है कि दारा की मौत के दिन औरंगजेब ने उनसे पूछा था कि अगर उनकी भूमिकाएं बदल जाएं तो दारा क्या करना चाहेंगे? उस पर दारा ने कटाक्ष के लहजे में जवाब दिया था कि वे औरंगजेब के शरीर को चार हिस्सों में कटवा कर दिल्ली के चार मेन गेट्स पर लटकवा देंगे।

-साथ ही उस किताब में इस बात का भी जिक्र है कि औरंगजेब ने अपने मंत्रिमंडल में हिंदुओं को कई महत्वपूर्ण पदों पर अप्वॉइंट किया था। यह भी दाराशिकोह में मुगल सल्तनत को चलाने की कुव्वत नहीं थी। शाहजहाँ की मौत के बाद भी तख्त हासिल करने में औरंगजेब के चातुर्य का मुकाबला दारा शिकोह नहीं कर पाए थे। जाहिर है, दोनों इंटरप्रेटेशन में औरंगजेब का अलग पहलू सामने आता है। सूत्रों के मुताबिक, फिल्म में इन चीजों को ध्यान में रखते हुए औरंगजेब का कैरेक्टर डिजाइन किया गया है।

जाह्रवी कपूर हीराबाई जैनाबादी के रोल में: फिल्म में जाह्रनवी कपूर भी हैं। सूत्रों ने बताया कि उन्हें हीराबाई जैनाबादी का रोल दिया गया है। उसका कैरेक्टर स्केच इतिहासकार कैथरीन ब्राउन के एक आर्टिकल से लिया गया है। उन्होंने उस आर्टिकल ‘डिड औरंगजेब बैन म्युजिक’ में लिखा कि औरंगजब का दिल हीराबाई जैनाबादी पर आ गया था। वह बुरहानपुर से थी। वह गायिका और नर्तकी थी। हालांकि एक साल बाद ही हीराबाई की मौत के साथ उस प्रेम कहानी का अंत हो गया था।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×