Home »News» Filmakaer Sudhir Mishra Is Shocked With Writer Ravishankar Alok Death.

'मुझे नहीं लगता राइटर रविशंकर ने आर्थिक तंगी की वजह से की खुदखुशी' - फ़िल्ममेकर सुधीर मिश्रा बोले

अब तक 56' लिख चुके थे रविशंकर, अब सरकार के लिए बना रहे थे ऐड फिल्मबॉलीवुड डेस्क- 'अब तक 56' जैसी मूवी से अपने करियर की

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jul 13, 2018, 12:29 PM IST

'मुझे नहीं लगता राइटर रविशंकर ने आर्थिक तंगी की वजह से की खुदखुशी' - फ़िल्ममेकर सुधीर मिश्रा बोले

बॉलीवुड डेस्क-'अब तक 56' जैसी मूवी से अपने करियर की शुरुआत करने वाले राइटर रविशंकर आलोक ने बुधवार को मुंबई में सुसाइड कर लिया। काम न मिलने के चलते वे डिप्रेशन में चले गए थे। उनका मनोचिकित्सक से इलाज भी चल रहा था। हालांकि, उनकी मौत करीबी फिल्म मेकर सुधीर मिश्रा के गले नहीं उतर रही है। सुधीर मिश्रा 'हजारों ख्वाहिशें ऐसी' और 'चमेली' जैसी फिल्में बना चुके हैं।

सुधीर के साथ कर चुके हैं काम

फिल्म 'दासदेव' में रविशंकर ने सुधीर के साथ काम किया था। DainikBhaskar.com से बातचीत में सुधीर मिश्रा ने कहा - "रविशंकर बड़ा होनहार लड़का था। अपनी राय बड़ी मजबूती से रखता था। मुझे वैसे लोग पसंद आते हैं। उसकी मेंटरिंग अनुराग कश्यप और इम्तियाज अली जैसों ने की थी। साल 2005 में 'हमारा मूवीज डॉट कॉम' नामक प्रोडक्शन कंपनी की ओर से बेहतर कहानियां चुनने के लिए प्रतियोगिता आयोजित हुई थी। उसमें उसकी शॉर्ट फिल्म बेस्ट रही थी। मैंने उसे अपने हाथों से सम्मानित किया था। ये हमारी पहली मुलाकात थी।''

उन्होंने आगे कहा, "उसने मुझे असिस्ट करने की ख्वाहिश जाहिर की थी। मुझे असिस्ट कर चुके बाकी लोग जैसे निखिल आडवाणी, अनुराग कश्यप की तरह वह भी मेरे ऑफिस में आ जाया करता था। वह

फिनेंशलीभी साउंड था। ऐसे में यह बात गले से नहीं उतर रही कि उसने आर्थिक तंगी के चलते इस तरह का स्टेप उठाया होगा। रहा सवाल मुंबई में सर्वाइवल का तो इस शहर से हर कोई वाकिफ है। उतना वक्त हर किसी को देना ही पड़ता है। इस फैक्ट से लोग घबराते नहीं हैं।"

मंत्रालय में सिलेक्ट हुई थी नई कहानी

सुधीर ने कहा, "रविशंकर के दोस्तों ने बताया कि उनकी एक अन्य कहानी दिल्ली में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के द्वारा आयोजित होने वाली प्रतियोगिता में सेलेक्ट हुई थी। उसका नाम 'कुसुम की साइकिल' है। वह बिहार में सीएम नीतीश कुमार के द्वारा स्कूली लड़कियों को साइकिल वितरण के कैंपेन पर बेस्ड थी। 'हमारा मूवीज डॉट कॉम' के अशोक पूरंग उसके प्रोड्यूसर थे। रविशंकर उसकी तैयारियों में लगे थे। उनकी बातों से तो नहीं लगता था कि वे ऐसा स्टेप लेने वाले हैं।"

पुलिस बता रही सुसाइड

रविशंकर ने बुधवार को मुंबई के वर्सोवा स्थित अपने वसंत अपार्टमेंट की सातवीं मंजिल से छलांग लगाकर जान दी। यहां वो अपने आई के साथ रहते थे। रविशंकर आलोक की सुसाइड मामले की जांच करने वाले वर्सोवा पुलिस स्टेशन के सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर रविंदर बडगुजर ने इसे सुसाइड का ही मामला करार दिया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×