Home »News» Chennai Express Completes 5 Years: Know Some Interesting Facts

'चेन्नई एक्सप्रेस' के 5 साल: रोहित शेट्टी दीपिका को नहीं, करीना कपूर को बनाना चाहते थे मीनाम्मा, सेट बनाने में खर्च हुए थे 1.5 करोड़ रुपए

'चेन्नई एक्सप्रेस' ने वर्ल्डवाइड 432 करोड़ रुपए का ग्रॉस कलेक्शन किया था।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Aug 10, 2018, 11:56 AM IST

'चेन्नई एक्सप्रेस' के 5 साल: रोहित शेट्टी दीपिका को नहीं, करीना कपूर को बनाना चाहते थे मीनाम्मा, सेट बनाने में खर्च हुए थे 1.5 करोड़ रुपए

बॉलीवुड डेस्क। शाहरुख खान और दीपिका पादुकोण स्टारर 'चेन्नई एक्सप्रेस' ने 8 अगस्त, 2018 को पांच साल पूरे कर लिए हैं। इस मौके पर दीपिका ने इन्स्टाग्राम पर एक बिहाइंड द सीन वीडियो शेयर किया है। 8 अगस्त, 2013 को रिलीज हुई इस फिल्म के निर्देशक रोहित शेट्टी थे। फिल्म सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्मों में शामिल है और अभी तक 'पद्मावत' के बाद दीपिका के करियर की सबसे ज्यादा बिजनेस करने वाली फिल्म है।

दीपिका नहीं थी फर्स्ट च्वाइस:भले ही दीपिका के करियर की ये सबसे बेहतरीन फिल्मों में से एक हो लेकिन 'चेन्नई एक्सप्रेस' में मीनालोचिनी उर्फ मीनाम्मा के किरदार के लिए वह रोहित शेट्टी की पहली पसंद नहीं थीं। रोहित करीना कपूर के साथ यह फिल्म बनाना चाहते थे जिनके साथ वह 'गोलमाल रिटर्न्स' में काम कर चुके थे। हालांकि,करीना उस वक्त 'तलाश' में बिजी थीं इसलिए ये फिल्म दीपिका के खाते में चली गई थी।

सेट बनाने में खर्च हुए थे 1.5 करोड़ रुपए: फिल्म को ज्यादातर ऊटी में शूट किया जाना था लेकिन शाहरुख को लगा कि ये मुंबई से काफी दूर है इसलिए पंचगनी के पास मौजूद वाई में हिल स्टेशन का सेट लगाया गया। यहां 40 दिन शूटिंग हुई और सेट बनाने में तकरीबन 1.5 करोड़ रुपए खर्च किए गए।

पहले दीपिका, बाद में शाहरुख: शाहरुख ने तय किया था कि उनकी हर फिल्म में पहले लीड एक्ट्रेस का नाम क्रेडिट में आएगा और उसके बाद हीरो का। इसी वजह से 'चेन्नई एक्सप्रेस' के क्रेडिट में दीपिका का नाम पहले और शाहरुख का नाम बाद में आता है।

रेडी स्टेडी पो था नाम: रोहित शेट्टी फिल्म का नाम पहले रेडी स्टेडी पो रखना चाहते थे और वह चेन्नई एक्सप्रेस नाम पर ओके नहीं थे लेकिन शाहरुख-दीपिका के ट्रेन वाले सीन को देखते हुए और फिल्म की थीम साउथ की होने की वजह से वह इसका नाम चेन्नई एक्सप्रेस रखने पर राजी हो गए।

पाकिस्तानी डिस्ट्रीब्यूटर्स ने खींच लिए थे हाथ:दरअसल, उनका मानना था कि 'चेन्नई एक्सप्रेस' से बेहतर चार अन्य पाकिस्तानी फिल्में थीं जिन्हें ज्यादा अटेंशन और स्क्रीन टाइम दिए जाने की जरुरत थी इसलिए उन्होंने 'चेन्नई एक्सप्रेस' को पाकिस्तान में रिलीज करने से इनकार कर दिया था। फिल्म को एक दिन बाद यानी 9 अगस्त को रिलीज़ हुई थी और इसने वीकेंड में वहां 1.8 करोड़ रुपए कमा लिए थे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×