Home »Regional Cinema »Telugu» Rami Reddy Aka Chikara Critical Condition Before Death

3 गंभीर बीमारियों से जूझता रहा ये एक्टर, आखिरी वक्त में ऐसी हो गई थी हालत

बॉलीवुड और साउथ की फिल्मों में विलेन का किरदार निभा चुके एक्टर रामी रेड्डी को उनके क्रूर किरदारों के लिए जाना जाता है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Apr 23, 2018, 12:06 AM IST

  • 3 गंभीर बीमारियों से जूझता रहा ये एक्टर, आखिरी वक्त में ऐसी हो गई थी हालत
    +6और स्लाइड देखें
    मरने से पहले बीमारियों के चलते ऐसी हो गई थी रामी रेड्डी की हालत।

    मुंबई/हैदराबाद।बॉलीवुड और साउथ की फिल्मों में विलेन का किरदार निभा चुके एक्टर रामी रेड्डी को उनके क्रूर किरदारों के लिए जाना जाता है। फिर चाहे 1993 में आई फिल्म 'वक्त हमारा है' में कर्नल चिकारा का रोल हो या 'प्रतिबंध' में अन्ना का, रामी विलेन के हर रोल में जान डाल देते थे। हालांकि, 250 से ज्यादा फिल्मों में काम कर चुके रामी को लिवर की बीमारी ने घेर लिया था, जिसकी वजह से वो अक्सर बीमार रहने लगे थे। मरने से पहले हड्डियों का ढांचा रह गए थे रामी...


    - लिवर की बीमारी के चलते रामी का ज्यादा वक्त घर पर ही बीतता था और धीरे-धीरे वो पब्लिक में जाने से बचने लगे। हालांकि, एक बार वो एक इवेंट में नजर आए थे, जहां उन्हें पहचानना मुश्किल हो गया था।
    - दरअसल, रामी उस दौरान काफी कमजोर और दुबले-पतले नजर आ रहे थे। उन्हें देख कर कोई भी यकीन नहीं कर पा रहा था कि ये वही रामी रेड्डी हैं, जो फिल्मों में काम कर चुके हैं।
    - रामी को लिवर के बाद किडनी की बीमारी ने भी घेर लिया था, जिसकी वजह से मौत के पहले वो सिर्फ हड्डियों का ढांचा रह गए थे। हालांकि, कहा जाता है कि उन्हें कैंसर भी हो गया था।
    - कुछ महीनों तक इलाज चलने के बाद 14 अप्रैल, 2011 को 52 साल की उम्र में सिकंदराबाद के एक प्राइवेट अस्पताल में रामी रेड्डी की मौत हो गई।


    आगे की स्लाइड्स पर, एक्टर बनने से पहले जर्नलिस्ट थे रामी रेड्डी...

  • 3 गंभीर बीमारियों से जूझता रहा ये एक्टर, आखिरी वक्त में ऐसी हो गई थी हालत
    +6और स्लाइड देखें
    रामी रेड्डी को फिल्म 'वक्त हमारा है' के कर्नल चिकारा के रोल के लिए जाना जाता है।

    एक्टर बनने से पहले जर्नलिस्ट थे रामी रेड्डी...

    - रामी ने आंध्र प्रदेश की उस्मानिया यूनिवर्सिटी से बीसीजे (जर्नलिज्म) की डिग्री ली थी।
    - फिल्मों में एंटर करने से पहले रामी रेड्डी जर्नलिस्ट थे। उन्होंने 'मुंसिफ डेली' नाम के न्यूजपेपर में नौकरी भी की थी।

  • 3 गंभीर बीमारियों से जूझता रहा ये एक्टर, आखिरी वक्त में ऐसी हो गई थी हालत
    +6और स्लाइड देखें
    रामी को पहले लिवर की बीमारी, फिर किडनी प्रॉब्लम और बाद में कैंसर हो गया था।

    तेलुगु फिल्म से किया एक्टिंग डेब्यू...

    - रामी ने 1990 में तेलुगु फिल्म 'अंकुशम' से एक्टिंग की शुरुआत की। इस फिल्म में उनका किरदार 'स्पॉट नागा' और डायलॉग काफी फेमस हुए। इसके बाद उन्होंने कुछ और तेलुगु फिल्मों में काम किया।

  • 3 गंभीर बीमारियों से जूझता रहा ये एक्टर, आखिरी वक्त में ऐसी हो गई थी हालत
    +6और स्लाइड देखें
    रामी रेड्डी एक बेटी और दो बेटों के पिता थे।
    फिल्म 'प्रतिबंध' से की बॉलीवुड में एंट्री...
    इसी साल उन्हें पहली बॉलीवुड फिल्म 'प्रतिबंध' में काम करने का मौका मिला। फिल्म में उनका किरदार 'अन्ना' काफी पॉपुलर हुआ और रामी रेड्डी को लोग साउथ के साथ-साथ बॉलीवुड में भी जानने लगे। इसके बाद उन्होंने करीब दर्जनभर हिंदी फिल्मों में काम किया।
  • 3 गंभीर बीमारियों से जूझता रहा ये एक्टर, आखिरी वक्त में ऐसी हो गई थी हालत
    +6और स्लाइड देखें
    एक्टर बनने से पहले रामी रेड्डी जर्नलिस्ट थे।

    रामी का असली नाम गंगासानी रामी रेड्डी...

    - रामी रेड्डी का जन्म 1 जनवरी, 1959 को आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले के वाल्मीकिपुरम में हुआ था। उनका रियल नाम गंगासानी रामी रेड्डी है। रामी रेड्डी की दो बेटियां और एक बेटा है।

  • 3 गंभीर बीमारियों से जूझता रहा ये एक्टर, आखिरी वक्त में ऐसी हो गई थी हालत
    +6और स्लाइड देखें
    52 की उम्र में हैदराबाद में उनकी मौत हो गई थी।

    इन बॉलीवुड फिल्मों में काम कर चुके रामी...

    रामी रेड्डी ने प्रतिबंध (1990), वक्त हमारा है (1993), ऐलान और खुद्दार (1994), अंगरक्षक और हकीकत (1995), अंगारा (1996), जीवनयुद्ध, कालिया और लोहा (1997), गुंडा, हत्यारा और चांडाल (1998), सौतेला (1999), क्रोध (2000), गलियों का बादशाह (2001) में काम किया है।

  • 3 गंभीर बीमारियों से जूझता रहा ये एक्टर, आखिरी वक्त में ऐसी हो गई थी हालत
    +6और स्लाइड देखें
    रामी ने बॉलीवुड के अलावा तमिल, तेलुगु, कन्नड़ फिल्मों में भी काम किया।

    साउथ की इन फिल्मों में दिखे रामी रेड्डी...

    अंकुशम और अभिमन्यु (1990), बलराम कृष्णलु (1992), गायम (1993), अल्लारी प्रमिकुडु (1994), हिटलर (1997), ओसे रामुलम्मा (1997), अडावी चुक्का (2000), अंजी (2004), मुधु (2006), पुलिस स्टोरी 2 (2007), अधे नव्वु (2008), दम्मुनोडू (2010), अनागंगा ओका अरण्यम (2010)

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Rami Reddy Aka Chikara Critical Condition Before Death
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×