Home »TV »Latest Masala» Latest Photos Of Manish Vishwakarma Aka Mendak Prasad Of Chidiya Ghar Will Melt Your Heart

अब ऐसे दिखते हैं 'चिड़ियाघर' के मेंढक, इलाज पर लाखों रु. खर्च कर चुका परिवार

जून 2015 में सड़क एक्सीडेंट में गंभीर रूप से घायल हुए थे। इसके बाद उन्हें ब्रेन हेमरेज हो गया और वे कोमा में चले गए थे।

Kiran Jain | Last Modified - Feb 20, 2018, 05:48 PM IST

    • मनीष विश्वकर्मा पापा त्रिभुवन विश्वकर्मा के साथ।

      मुंबई.टीवी सीरियल 'चिड़ियाघर' के मेंढक प्रसाद यानी मनीष विश्वकर्मा तो आपको याद ही होंगे। जून 2015 में सड़क एक्सीडेंट में गंभीर रूप से घायल हुए थे। इसके बाद उन्हें ब्रेन हेमरेज हो गया और वे कोमा में चले गए थे। 22 साल के मनीष अब कोमा में तो नहीं है, लेकिन नॉर्मल लाइफ जीने के लिए आज भी स्ट्रगल कर रहे हैं। परिवार अपनी पूरी जमा पूंजी के साथ कर्ज लेकर लाखों की रकम उनके इलाज में लगा चुका है। उनके परिवार को आर्थिक मदद की जरूरत है, ताकि वे बेटे को पूरी तरह रिकवर कर सकें। सभी ने उम्मीद खोई, लेकिन पेरेंट्स ने हार नहीं मानी...

      - हाल ही में DainikBhaskar.com मनीष की हालत जानने के लिए उनके घर पहुंचा। इस दौरान उनके पापा त्रिभुवन विश्वकर्मा ने हमसे बात की।
      - बकौल त्रिभुवन, "सभी लोग उम्मीद खो चुके थे। लेकिन हमने हार नहीं मानी। एलोपेथी से लेकर आयुर्वेद तक हमने अपने बच्चे के लिए हर तरह का इलाज आजमाया। हमारी प्रार्थनाएं रंग लाईं। मनीष अब बेहतर कंडीशन में है।"
      -त्रिभुवन कहते हैं, "अभी वह साफ-साफ नहीं बोल सकता और फिजिकल कंडीशन को बेहतर बनाने के लिए उसका फिजियोथेरेपी ट्रीटमेंट चल रहा है। वह अभी खुद को पूरी तरह नहीं संभाल पाता। अभी कम से कम एक साल और उसके इम्प्रूवमेंट में लगेगा। लेकिन हमने अपनी उम्मीदें नहीं कोई हैं।"

      ट्रीटमेंट पर खर्च हो चुके 45 लाख रुपए से ज्यादा

      - मनीष मिडिल क्लास फैमिली से आते हैं। उनके पिता की सिर्फ ब्रेड की दुकान है। त्रिभुवन उनके इलाज पर 45 लाख रुपए से ज्यादा खर्च कर चुके हैं।
      - पैसों के अरेंजमेंट के सवाल पर त्रिभुवन ने बताया, "मैंने अपनी पूरी सेविंग बेटे के इलाज पर लगा दी। लेकिन यह पैसा समुद्र में बूंद के बराबर था। मैंने बैंक से लोन लिया, हैवी ब्याज पर रिश्तेदारों से पैसे उधर लिए और बिना कुछ सोचे बेटे के इलाज में लगा दिए। इसके अलावा, शिल्पा शिंदे, परेश गणात्रा, CINTAA के मेंबर सुशांत सिंह और दूसरे कुछ लोगों ने भी हमारी आर्थिक मदद की।"
      -"ईमानदारी से कहें तो हमें अभी भी कुछ आर्थिक मदद चाहिए। ट्रीटमेंट, खासकर फिजियोथेरेपी का खर्च बहुत ज्यादा है। हम मनीष को जल्दी पूरी तरह रिकवर देखना चाहते हैं।"

      ऐसे हुआ था मनीष का एक्सीडेंट

      - 28 जून 2015 को मनीष बाइक से 'चिड़ियाघर' की शूटिंग के लिए गोरेगांव जा रहे थे।

      - तभी वहां स्थित आरे कॉलोनी में उनका एक्सीडेंट हो गया। इसके बाद उन्हें कोकिलाबेन हॉस्पिटल और फिर सिटी केयर हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।
      - पिछले दो महीने से वे दवाइयों पर नहीं हैं, बल्कि मेडिटेशन और फिजियोथेरेपी पर हैं।

      आगे की स्लाइड्स में देख सकते हैं मनीष की कुछ लेटेस्ट फोटोज...

      सभी फोटोज : अजीत रेडेकर।

    • अब ऐसे दिखते हैं 'चिड़ियाघर' के मेंढक, इलाज पर लाखों रु. खर्च कर चुका परिवार
      +4और स्लाइड देखें
      चिड़ियाघर के मेंढक प्रसाद उर्फ मनीष विश्वकर्मा।
    • अब ऐसे दिखते हैं 'चिड़ियाघर' के मेंढक, इलाज पर लाखों रु. खर्च कर चुका परिवार
      +4और स्लाइड देखें
      मनीष को पूरी तरह रिकवर होने में अभी कम से कम एक साल और लगेगा।
    • अब ऐसे दिखते हैं 'चिड़ियाघर' के मेंढक, इलाज पर लाखों रु. खर्च कर चुका परिवार
      +4और स्लाइड देखें
      मनीष को साफ-साफ बोलने में दिक्कत होती है।
    • अब ऐसे दिखते हैं 'चिड़ियाघर' के मेंढक, इलाज पर लाखों रु. खर्च कर चुका परिवार
      +4और स्लाइड देखें
      मनीष अभी मेडिटेशन और फिजियोथेरेपी ले रहे हैं।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Latest Photos Of Manish Vishwakarma Aka Mendak Prasad Of Chidiya Ghar Will Melt Your Heart
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Trending

    Top
    ×