Home »Reviews »Movie Reviews» Rukh Movie Review

Movie Review: रोड एक्सीडेंट के पीछे छुपी मर्डर मिस्ट्री है मनोज बाजपेयी की 'रुख'

dainikbhaskar.com | Oct 27, 2017, 10:34 AM IST

Movie Review: रोड एक्सीडेंट के पीछे छुपी मर्डर मिस्ट्री है मनोज बाजपेयी की 'रुख'
Critics Rating
  • Genre: रिवेंज ड्रामा
  • Director: अतनु मुखर्जी
  • Plot: मनोज बाजपेयी स्टारर 'रुख' एक रिवेंज ड्रामा फिल्म है।

क्रिटिक रेटिंग2.5/5
स्टार कास्टमनोज बाजपेयी, आदर्श गौरव, स्मिता तांबे, कुमुद मिश्रा
डायरेक्टरअतनु मुखर्जी
प्रोड्यूसरमनीष मुंद्रा
म्यूजिकअमित त्रिवेदी
जॉनररिवेंज ड्रामा

'शुरुआत का इंटरवल'(2014) और 'द गेटकीपर'(2014) के बाद 'रुख' डायरेक्टर अतनु मुखर्जी की तीसरी फिल्म है। उनकी नई फिल्म 'रुख' सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। तो जानते हैं कैसी है फिल्म...म

कहानी
फिल्म 'रुख' की कहानी पिता और पुत्र के रिश्ते की है। पिता दिवाकर माथुर यानी मनोज बाजपेयी एक फैक्ट्री में काम कर करते हैं और उसके को-ऑनर भी होते हैं। दिवाकर का एक बेटा ध्रुव (आदर्श गौरव) होता है जिसे काफी छोटी उम्र में ही पत्नी नंदिया यानी स्मिता तांबे के साथ आपसी डिसीजन कर दिवाकर बोर्डिंग स्कूल भेज देते हैं। कुछ सालों बाद दिवाकर की एक रोड एक्सीडेंट में डेथ हो जाती है लेकिन बेटे ध्रुव को ये सिर्फ एक्सीडेंट नहीं लगता। ऐसे में ध्रुव पिता की मौत के पीछे की वजहों की छानबीन करता है तब उसे कई सारी बातें पता चलती हैं। क्या ध्रुव अपने पिता के मौत की असली वजह जान पाता है? क्या वाकई ये रोड एक्सीडेंट एक साजिश होती हैं? इन सवालों के जवाब जानने के लिए आपको ये फिल्म देखनी पड़ेगी।

डायरेक्शन
फिल्म का डायरेक्शन और स्टोरी लाइन अच्छी है। फिल्म में लाइट और आर्ट वर्क पर काफी काम किया गया है। बात अगर कहानी की करें तो ये काफी धीरे-धीरे चलती है। सरल कहानी होने के कारण आप आसानी से पता लगा लेते हैं कि अगले पल क्या होने वाला है। इसके ऊपर ध्यान दिया जा सकता है। वहीं फिल्म का मिजाज काफी डार्क शेड है। ऐसे में ये फिल्म एक खास तबके के लिए है इसे मास शायद ही देखना पसंद करेगी।

एक्टिंग
फिल्म में मनोज बाजपेयी ने पिता ने रूप में बहुत बढ़िया काम किया है। वहीं आदर्श गौरव और स्मिता तांबे का काम भी सराहनीय है। कुमुद मिश्रा फिल्म में मनोज के दोस्त बने हैं। देखा जाए तो फिल्म में स्टार्स की एक्टिंग और कास्टिंग अच्छी है।

म्यूजिक
फिल्म के दोनों गाने अच्छे हैं कहानी के साथ जाते हैं। बैकग्राउंड स्कोर भी साथ-साथ चलता है और सॉन्ग 'खिड़की' बढ़िया है। अमित त्रिवेदी और बाकी सिंगर ने अच्छा काम किया है।

देखें या नहीं
अगर आप डार्क शेड की सिंपल सीधी कहानियों और मनोज बाजपेयी की फिल्म के दीवाने हैं तो जरूर एक बार देख सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: Rukh Movie Review
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×