Home »Reviews »Movie Reviews» Qarib Qarib Singlle Movie Review In Hindi, करीब करीब सिंगल मूवी रिव्यू - सिंगल से मिंगल होने की कहानी है ‘करीब करीब सिंगल’

करीब करीब सिंगल मूवी रिव्यू: सिंगल से मिंगल होने की कहानी है ‘करीब करीब सिंगल’

DainikBhaskar.com | Mar 29, 2018, 06:07 PM IST

करीब करीब सिंगल मूवी रिव्यू: सिंगल से मिंगल होने की कहानी है ‘करीब करीब सिंगल’
Critics Rating
  • Genre: रोमकॉम (रोमांटिक- कॉमेडी)
  • Director: तनुजा चंद्रा
  • Plot:
    अगर आपको ट्रेवलिंग वाली हल्की फुल्की फिल्में पसंद हैं और इरफान के फैन हैं। तो आप एक बार देख सकते हैं।

रेटिंग

3/5 स्टार

स्टार कास्ट

इरफान खान और पार्वती

डायरेक्टर

तनुजा चंद्रा

प्रोड्यूसर

राकेश भगवानी, शैलेजा केजरीवाल और अजय राय

म्यूजिक

नरेश चंद्रावकर और बनेडिक्ट टेलर

जॉनर

रोमकॉम (रोमांटिक- कॉमेडी)

अवधि2 घंटा 10 मिनट

हिंदी मीडियम’ के बाद ये इरफान खान की अगली फिल्म 'करीब करीब सिंगल’ है। फिल्म रिलीज हो गई है तो जानते हैं कैसी है फिल्म...

करीब करीब सिंगलफिल्म की कहानी

फिल्म ‘करीब करीब सिंगल’ की कहानी दो ऐसे किरदारों की कहानी है जो बढ़ती उम्र में सिंगल हैं और साथी की खोज में हैं। जयश्री (पार्वती) विधवा है वहीं दूसरी तरफ योगी प्रजापति (इरफ़ान खान) एक कवि हैं जिनकी किताबे नहीं बिक रही। इसके साथ ही वो अपनी तीन गर्लफ्रेंड्स (एक्स) का भी जिक्र करते हैं। एक डेटिंग साइट पर दोनों की बातचीत होती है। बातचीत के दौरान दोनों योगी (इरफान) की पुरानी तीन गर्लफ्रैंड्स की तलाश में निकल जाते हैं। जिसमें वो पहले देहरादून जाते हैं, फिर राजस्थान और सिक्कम जाते हैं। ऐसे ही कहानी आगे बढ़ती है। दोनों में प्यार हो जाता है पर इज़हार नहीं हो पाता। इसके साथ ही शादी हो पाती है या नहीं यह जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

करीब करीब सिंगलफिल्मडायरेक्शन

फिल्म का डायरेक्शन तनुजा चंद्रा ने किया और डायरेक्शन काफी अच्छा है। ज्यादातर तनुजा सीरियस फिल्मों के लिए जानी जाती हैं। लेकिन इस बार उन्होंने हल्की फुल्की फिल्म बनाई है जो काफी अच्छी है। फिल्म की लोकेशन्स काफी अच्छी हैं। जो देखने में बहुत अच्छी लगती हैं।

करीब करीब सिंगल मूवीएक्टिंग

इरफान खान ने हमेशा की तरह काफी अच्छी एक्टिंग की है। योगी के किरदार में जम रहे हैं इरफान। इसके साथ ही वो जो फिल्म के बीच बीच में एकदम से डायलॉग मारते हैं वो काफी उम्दा हैं। इरफान के साथ ही पार्वती जो साउथ की एक्ट्रेस हैं उन्होंने ने भी काफी अच्छी एक्टिंग की है। सबसे अच्छी बात ये की उन्हें देखकर ऐसा फील नहीं हुआ कि वो हिंदी बोलने में काफी मेहनत कर रही हैं। इसके साथ ही बाकी एक्टर्स ने भी अच्छी एक्टिंग की है।

करीब करीब सिंगल मूवीम्यूजिक

फिल्म में आतिफ असलम का एक गाना है जो काफी अच्छा लगता है सुनने में। बाकी फिल्म के गाने ज्यादा हिट नहीं हो पाए। फिल्म के म्यूजिक के मुकाबले में फिल्म का बैकग्राउंड स्कोर ज्यादा अच्छा है।

करीब करीब सिंगल मूवी देखें या नहीं

अगर आपको ट्रेवलिंग वाली हल्की फुल्की फिल्में पसंद हैं। इसके साथ ही अगर आप भी इरफान की एक्टिंग के फैन हैं। तो आप एक बार जरूर देख सकते हैं ‘करीब करीब सिंगल’।

शादी में जरूर आना मूवी फर्स्ट डे बॉक्स ऑफिस कलेक्शन- https://bollywood.bhaskar.com/news/ENT-BNE-first-day-collection-of-film-shaadi-mein-zaroor-aana-and-qarib-qarib-singlle-5743089-NOR.html

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: Qarib Qarib Singlle Movie Review in Hindi, करीब करीब सिंगल मूवी रिव्यू - सिंगल से मिंगल होने की कहानी है ‘करीब करीब सिंगल’
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×