Home »Reviews »Movie Reviews» MSG: The Messenger

MOVIE REVIEW: राम रहीम का पब्लिसिटी स्टंट 'एमएसजी : द मैसेंजर'

'एमएसजी : द मैसेंजर' डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह इंसां की डेब्यू फिल्म है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 13, 2015, 10:49 AM IST

  • फिल्म का नामएमएसजी : द मैसेंजर
    क्रिटिक रेटिंग1/5
    स्टार कास्टगुरमीत राम रहीम सिंह, फ्लोरा सैनी, जयश्री सोनी और गौरव गेरा
    डायरेक्टरगुरमीत राम रहीम सिंह
    प्रोड्यूसरगुरमीत राम रहीम सिंह
    संगीतगुरमीत राम रहीम सिंह
    जेनरड्रामा
    डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह इंसान की फिल्म 'एमएसजी : द मैसेंजर' सिनेमाघरों में आ गई है। फिल्म के निर्देशन से लेकर लीड किरदार, संगीत और प्रोडक्शन तक सारे काम राम रहीम ने खुद किए हैं। फिल्म ट्रेलर और विवादों के कारण पहले ही खूब सुर्खियों में रह चुकी है, लेकिन वास्तव में इसमें है क्या? आइये जानते हैं :

    कैसी है कहानी

    'एमएसजी' में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख ने खुद को भगवान की तरह बताया है। एक ऐसा भगवान, जो बर्फ से ढंकी पहाड़ियों पर अवतार लेता है और समाज की भलाई के लिए निकल पड़ता है। उसके हाथों और आंखों में अद्भुत शक्तियां हैं, जिनसे वह एक साथ हजारों लोगों की जान बचा सकता है, कई दुश्मनों का खात्मा एक ही बार में कर सकता है। इतना ही नहीं, यदि वह चाहे तो बिगड़े हुए लोगों की सोच बदलकर उन्हें एक अच्छा इंसान भी बना सकता है। हालांकि, फिल्म में उनके साथ कई बॉडीगार्ड्स को देखकर आपको उनकी ताकत पर संदेह जरूर होगा। सवाल यह भी उठता है कि लोगों को देखकर उनकी असलियत जान लेने वाला यह हीरो खुद के खिलाफ रची जा रही साजिशों को क्यों नहीं पहचान पाता। खैर, पूरी फिल्म में राम रहीम ने खुद का विज्ञापन किया है। इसके अलावा इसे नशामुक्ति अभियान का भी एक हिस्सा कह सकते हैं। कुछ जगह लोगों में देशभक्ति जगाने की कोशिश भी देखने को मिलती है।

    कैसा है राम रहीम का निर्देशन

    निर्देशन का सवाल न ही किया जाए तो अच्छा है, क्योंकि एक-दो सीन को छोड़कर ऐसा कुछ है ही नहीं जिसमें इसे देखा जा सके। फिल्म के ज्यादातर सीन्स में क्रोमा शॉट की झलक देखने को मिलेगी, जिसे जोड़ना एडिटिंग वालों का काम है। सुना है कि राम रहीम ने फिल्म की सात सीक्वल बनाने की तैयारी की है। कोई उन्हें सलाह दे कि अगला भाग लाने से पहले वे निर्देशन की ट्रेनिंग जरूर ले लें।

    आगे की स्लाइड में पढ़ें शेष रिव्यू...

  • एक्टिंग

    राम रहीम इंसान फिल्म के मुख्य किरदार हैं और यदि ऐसा कहा जाए कि वही इकलौते किरदार हैं तो भी कुछ गलत नहीं होगा। क्योंकि बाकी कलाकारों को करने लायक फिल्म में कुछ खास नहीं है। हालांकि, राम रहीम अपनी पब्लिसिटी के लिए फिल्म में जो कर सकते थे, वह सब किया है। वे इसे एक्टिंग कह सकते हैं, लेकिन यह आप पर है कि आप इसे क्या कहते हैं?

    संगीत

    'एमएसजी' में संगीत भी राम रहीम ने ही दिया है, जिसके बाद वे रॉकस्टार बाबा के नाम से पॉपुलर हो गए हैं। हालांकि, फिल्म को बॉलीवुड की श्रेणी में रखने के लिए यह बाबा का असफल प्रयास है।

    देखें या नहीं

    'एमएसजी' बाबा राम रहीम का पब्लिसिटी स्टंट है। यदि आप उनके भक्त हैं तो इसे देखने का रिस्क ले सकते हैं। बाकी जो लोग फुर्सत से बैठे हैं तो दिमाग को घर पर रखकर जाएं और किसी कॉमेडी फिल्म की तरह इसे एन्जॉय करें।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×