Home »Reviews »Movie Reviews» Movie Review Wazir

Movie Review: दमदार एक्टिंग और शानदार डायरेक्शन के लिए देखें 'वजीर'

Onkar Kulkarni | Jan 08, 2016, 12:03 AM IST

Critics Rating
  • Genre: एक्शन-थ्रिलर
  • Director: बिजॉय नाम्बियार
  • Plot: अमिताभ बच्चन, फरहान अख्तर स्टारर डायरेक्टर बिजॉय नांबियार की ‘वजीर’ एक एक्शन थ्रिलर फिल्म है।
फिल्म का नामवजीर

क्रिटिक रेटिंग

3.5

स्टार कास्ट

अमिताभ बच्चन, फरहान अख्तर, अदिति राव हैदरी
और नील नितिन मुकेश

डायरेक्टर

बिजॉय नाम्बियार

प्रोड्यूसर

विधु विनोद चोपड़ा

म्यूजिक डायरेक्टर

अंकित तिवारी, रोचक कोहली
जॉनरएक्शन-थ्रिलर
ये फिल्म नए साल की पहली बिग रिलीज है, जिस वजह से लोगों की उम्मीदें काफी बढ़ गई हैं। फिल्म की कहानी डिसेबल चेस मास्टर पंडित जी (अमिताभ बच्चन) और एटीएस ऑफिसर दानिश अली के इर्द-गिर्द घूमती है। फिल्म दानिश की लाइफ से शुरू होती है, जिसने आतंकवाद से लड़ते हुए अपनी बेटी को खो दिया। इसी वजह से दानिश और उसकी पत्नी रुहाना (अदिति) के बीच दूरियां आ जाती हैं। दूसरी तरफ पंडित जी (अमिताभ) अपनी बेटी की मौत की असली वजह जानना चाहते हैं और इसके लिए वो दानिश की मदद लेते हैं। यहीं से इनकी दोस्ती की शुरुआत होती है, जो कहानी में नया मोड़ लेकर आती है।
एक्टिंग
फिल्म में सभी एक्टर ने बेहतरीन काम किया है। पंडित जी के रोल में व्हील चेयर पर बैठे बिग बी एकदम नेचुरल लग रहे हैं। अपनी बेटी के इंसाफ के लिए इंतजार करता पिता, एक अच्छा दोस्त और एक ब्रिलियंट चेस मास्टर, इन सभी इमोशन्स को अमिताभ ने एक ही किरदार में बखूबी ढाला है। एटीएस ऑफिसर दानिश के रोल में फरहान बिल्कुल फिट बैठते हैं। खासकर एक्शन सीन्स में उनकी बॉडी लैंग्वेज देखने लायक है। फिल्म में विलेन का रोल कर रहे नील नितिन मुकेश आपको चौंकाते हैं। हालांकि, उनके हिस्से बेहद कम सीन्स आए हैं। लेकिन इन सीन्स में वो सब पर भारी पड़ते हैं। रुहाना के रोल में अदिति राव हैदरी ने भी अच्छी एक्टिंग की है। आर्मी ऑफिसर के कैमियो रोल में जॉन अब्राहम के पास करने के लिए कुछ खास नहीं था।
डायलॉग
फिल्म के डायलॉग अभिजीत देशपांडे ने लिखे हैं, जो बॉलीवुड के टिपिकल, घिसे-पिटे डायलॉग्स से अलग हैं। ये डायलॉग्स आपको बिग बी की 70 की फिल्मों की याद दिला देंगे, जो आज भी लोगों की जुबान पर हैं।
कहानी
फिल्म की कहानी विधु विनोद चोपड़ा और अभिजात जोशी ने मिलकर लिखी है। थ्रिलर फिल्म होने के नाते अगर आपको ‘वजीर’ से बहुत ज्यादा उम्मीदें हैं, तो हम आपको बता दें कि इस मूवी की कहानी सिम्पल है। हालांकि, फिल्म के आखिर में एक बड़ा ट्विस्ट है, जो आपको पूरी फिल्म से ज्यादा अच्छा लगेगा।
डायरेक्शन
बात करें डायरेक्शन की तो अगर आपने बिजॉय की ‘डेविड’ और ‘शैतान’ जैसी फिल्में देखी हैं, तो आपको यकीन नहीं होगा ‘वजीर’ का डायरेक्शन बिजॉय ने किया है। फिल्म का ट्रीटमेंट उनकी पिछली फिल्मों से हटकर है, जो ऑडियंस को पसंद आएगा।
म्यूजिक
फिल्म के सभी गाने अच्छे हैं। ‘तेरे बिन’, ‘अतरंगी यारी’ और ‘मौला’ सॉन्ग तो लोगों की जुबान पर चढ़ चुके हैं। फिल्म का बैकग्राउंट साउंड भी कमाल का है।
देखें या नहीं
कुल मिलाकर अगर आप परदे पर बेहतरीन परफॉर्मेंसेज देखना चाहते हैं तो इस फिल्म को देखना मत भूलिएगा। अगर आप सिर्फ थ्रिलर की उम्मीद कर रहे हैं, तो ये फिल्म उससे थोड़ा बढ़कर है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: Movie Review Wazir
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×