Home »Reviews »Movie Reviews» Movie Review Happy Ending

Movie Review: 'हैप्पी एंडिंग'

dainikbhaskar.com | Nov 21, 2014, 11:01 AM IST

Critics Rating
  • Genre: कॉमेडी, रोमांस
  • Director: राज निजिमोरू, कृष्णा डी.के.
  • Plot: Plot: 'हैप्पी एंडिंग' अभिनेता सैफ अली खान की कई हिट फिल्मों का मैशअप है।

फिल्म में ऐसा एक सीन है जिसमें आंचल (इलियाना डिक्रूज) कुछ लोगों को अपनी किताबें पढ़ाकर बोर कर देती हैं। इसमें दर्शकों को ऊंघते, सोते और मोबाइल गेम खेलते दिखाया गया है। कुछ ऐसा ही नजारा इस फिल्म को लेकर सिनेमा हॉल के अंदर भी देखने को मिला।
कहानी:फिल्म की कहानी अरमान (गोविंदा) के इर्द-गिर्द घूमती है जो कभी हिट मूवी स्टार था। अरमान अपने स्टारडम को बचाने के लिए एक बॉलीवुड फिल्म की स्क्रिप्ट हॉलीवुड स्टाइल में लिखवाना चाहता है और इसके लिए वो हॉलीवुड जाता है। यहां उसकी मुलाकात हॉलीवुड सुपरस्टार यूडी (सैफ अली खान) से होती है, जिसने पिछले कुछ सालों में कुछ खास नहीं लिखा है। यूडी जो रॉमांटिक कॉमेडी फिल्म नहीं लिख सकता, अरमान के कहने पर एक ऐसी ही फिल्म की कहानी लिखने पर मजबूर होता है। इसके लिए वो प्यार और प्रेरणा की तलाश करता है। इस काम में यूडी की मदद उसकी गर्लफ्रेंड आंचल (इलियाना) करती है। विशाखा (कल्कि) फिल्म में अमेरिका रिटर्न लड़की है, जो यूडी के लिए क्रेजी है। फिल्म के अंत में यूडी के काम और प्यार, दोनों की हैप्पी एंडिंग होती है।
एक्टिंग: हमशकल्स के फ्लॉप होने के बावजूद सैफ एक बार फिर कॉमेडी फिल्म से दर्शकों के सामने आए। हैप्पी एंडिंग में भी उनका रोल उनकी पिछली फिल्मों (हम तुम, सलाम नमस्ते, लव आज कल) से मिलता है, जिनमें वो एक बेफिक्र और केयरलेस इंसान की भूमिका में थे। हालांकि, सैफ ने अच्छी एक्टिंग की है, लेकिन फिल्म की स्टोरी में उनके करने के लिए कुछ नया नहीं था। वहीं, लीड एक्ट्रेस इलियाना ने दर्शकों और अपने फैन्स को जरूर निराश किया है।
डायरेक्शन:फिल्म का डायरेक्शन बिल्कुल भी कसा हुआ नहीं है। इसमें कई ऐसे सीन हैं जिनकी जरूरत ही नहीं थी। ऐसा ही एक सीन है विशाखा (कल्कि) और यूडी (सैफ अली खान) के बीच का, जिसमें विशाखा बताती है कि वो प्रेग्नेंट हैं। इसके बाद फिजूल का 15 मिनट का ड्रामा होता है और फिर विशाखा खुलासा करती हैं कि वो झूठ बोल रही थीं। फिल्म में ऐसे कई सीन हैं, जिनमें एक्टर्स और खासकर गोविंदा का और बेहतर तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता था।

म्यूजिक:‘नाचो साले जी फाड़ के..’ गाना पहले ही दर्शकों की जुबान पर चढ़ चुका है। फिल्म का म्यूजिक अच्छा है और पसंद किया जा रहा है।
क्यों देखें:यदि आपके पास इस वीकेंड करने के लिए कुछ अच्छा नहीं है, तो इस फिल्म की बुकिंग करा सकते हैं। यदि आप हैप्पी एंडिंग मिस कर देंगे, तो कुछ ज्यादा मिस नहीं करेंगे।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: Movie Review Happy ending
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×