Home »Reviews »Movie Reviews» Tiger Shroff And Shraddha Kapoor Starrer 'Baaghi' Movie Review

Movie Review: इमोशन में फीकी तो 'बागी' के एक्शन में है दम

'हीरोपंति' के दो साल बाद टाइगर श्रॉफ एक बार फिर एक्शन अवतार में पर्दे पर दिख रहे हैं। श्रद्धा कपूर के साथ उनकी फिल्म 'बागी' शुक्रवार को सिनेमाघर में रिलीज हो गई है।

RJ ALOK | Last Modified - Apr 29, 2016, 11:50 AM IST

  • क्रिटिक रेटिंग2/5
    स्टारकास्टटाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर, सुधीर बाबू, सुनील ग्रोवर।
    डायरेक्टरशब्बीर खान
    प्रोड्यूसरसाजिद नाडियाडवाला
    म्यूजिकअमाल मलिक, मीत ब्रदर्स, अंकित तिवारी
    जॉनरएक्शन-ड्रामा
    कहानी
    'बागी' की कहानी रॉनी (टाइगर श्रॉफ) के इर्द-गिर्द घूमती हैं। दिल्ली का रहने वाला रोनी एक बागी है, उसके पास कोई काम नहीं है। ऐसे में रॉनी के पिता उसे अपने बेस्ट फ्रेंड के पास केरला स्थित मार्शल आर्ट्स स्कूल में भेजते हैं। यहां उसकी मुलाकात सिया खुराना (श्रद्धा कपूर) से होती है। कुछ ही मीटिंग्स के बाद दोनों एक-दूसरे को दिल दे बैठते हैं। कहानी में ट्विस्ट तब आता है जब राघव (सुधीर बाबू) की एंट्री होती है। राघव भी सिया से प्यार करता है और उसे जबरदस्ती बैंकॉक ले जाता है। रॉनी और राघव के बीच फंसी श्रद्धा की पूरी कहानी जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

    एक्टिंग
    बेशक पिछली फिल्म 'हीरोपंति' के मुकाबले टाइगर की मेहनत 'बागी' में दिखी है। उन्होंने जबरदस्त एक्शन किया है, लेकिन इमोशन्स के मामले में फीके पड़े हैं। श्रद्धा ने टाइगर को कॉम्पलिमेंट किया है। साथ ही, कुछ खतरनाक एक्शन सीन्स भी दिए है। तारीफ करनी होगी सुधीर बाबू की, जिन्होंने पहली ही बॉलीवुड फिल्म में शानदार एक्टिंग और एक्शन दिखाया है। वहीं, श्रद्धा के पिता का किरदार निभाने वाले सुनील ग्रोवर उर्फ पी. पी खुराना ने 'बागी' में फन एलिमेंट्स डाले हैं।
    डायरेक्शन
    'बागी' की कहानी दिल्ली, केरला से होकर बैंकॉक तक जाती है। विनोद प्रधान की सिनेमेटोग्राफी अच्छी है। डायरेक्टर शब्बीर खान ने इसमें कई शानदार लोकेशन्स दिखाई हैं। हालांकि, उनका डायरेक्शन थोड़ा फीका लगा। इसका फर्स्ट हाफ स्लो है, तो सेकेंड हाफ बिखरा-बिखरा लगता है।
    म्यूजिक
    अमाल मलिक, मीत ब्रदर्स, अंकित तिवारी और मंज मुसिक ने 'बागी' का म्यूजिक डायरेक्ट किया है। फिल्म के गाने तो अच्छे हैं। लेकिन उनकी लेंथ लंबी होने की वजह से वो फिल्म के फ्लो को खराब करते हैं।
    देखें या नहीं?
    अगर आप एक्शन फिल्में देखने का शौक रखते हैं, तो बेशक 'बागी' आपके लिए है। बाकी लोग इसके टेलीविजन प्रीमियर का इंतजार कर सकते हैं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×