Home »Music» Birthday Special : Music Director AR Rahman Life Interesting Facts

आज करोड़ों में खेलता है ये म्यूजिक डायरेक्टर, कभी पढ़ाई छोड़ ऐसे चलाता था घर

पॉपुलर म्यूजिक डायरेक्टर एआर रहमान 50 साल के हो चुके हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 06, 2018, 03:37 PM IST

  • आज करोड़ों में खेलता है ये म्यूजिक डायरेक्टर, कभी पढ़ाई छोड़ ऐसे चलाता था घर
    +6और स्लाइड देखें
    वाइफ के साथ रहमान। ऊपर शादी के दौरान और नीचे मणि रत्नम (L) के साथ एआर रहमान (R)।

    मुंबई। पॉपुलर म्यूजिक डायरेक्टर एआर रहमान 50 साल के हो चुके हैं। 6 जनवरी, 1967 को मद्रास (अब चेन्नई) में जन्में रहमान का असली नाम दिलीप शेखर है। आज भले ही रहमान करोड़ों रुपए लेते हैं, लेकिन एक वक्त ऐसा भी था, जब उन्हें पैसों के लिए मोहताज रहना पड़ता था। मिडल क्लास तमिल मुदलियार फैमिली में जन्में रहमान के पिता आरके शेखर, तमिल और मलयालम फिल्मों के प्रोड्यूसर थे। हालांकि रहमान जब 9 साल के थे, तभी उनके पिता की मौत हो गई थी। इस तरह घर का खर्च चलाते थे रहमान...


    पिता की मौत के बाद रहमान के घर की फाइनेंशियल कंडीशन काफी खराब हो गई। ऐसे में वो अपने पिता के म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स को किराए से देकर अपना घर चलाते थे। बाद में इस काम की कमान माता करीमा ने अपने हाथ में ले ली थी। रहमान एक बेहतर की-बोर्ड प्लेयर थे। साथ ही वे कई मौकों पर म्यूजिक बैंड का बंदोबस्त भी करा देते थे। बता दें, स्कूल में अटेंडेंस कम होने के चलते 15 साल की उम्र में ही रहमान को पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी।


    आगे की स्लाइड्स पर, इस वजह से दिलीप से अल्ला रक्खा बन गए रहमान...

  • आज करोड़ों में खेलता है ये म्यूजिक डायरेक्टर, कभी पढ़ाई छोड़ ऐसे चलाता था घर
    +6और स्लाइड देखें
    वाइफ और बच्चों के साथ रहमान।

    दिलीप से ऐसे अल्ला रक्खा बन गए रहमान...

    रहमान का जन्म एक हिंदू फैमिली में हुआ था लेकिन लेकिन धर्म परिवर्तन के बाद उन्होंने अपना नाम बदलकर अल्ला रक्खा रहमान रख लिया। कहा जाता है कि 1989 में रहमान की छोटी बहन काफी बीमार पड़ गई थी। डॉक्टरों ने कह दिया कि उसके बचने की कोई उम्मीद नहीं है। रहमान ने बहन के लिए मस्जिदों में दुआएं मांगी और जल्द ही उनकी दुआ रंग लाई। इस चमत्कार को देख रहमान ने इस्लाम कबूल कर लिया।

  • आज करोड़ों में खेलता है ये म्यूजिक डायरेक्टर, कभी पढ़ाई छोड़ ऐसे चलाता था घर
    +6और स्लाइड देखें
    यंग एज में फ्रेंड के साथ रहमान।

    इस्लाम अपनाने के पीछे एक वजह ये भी...

    दूसरी तरफ रहमान की बायोग्राफी 'द स्पिरिट ऑफ म्यूजिक' में बताया गया है कि एक ज्योतिषी के कहने पर उन्होंने अपना नाम बदला। रहमान ने एक इंटरव्यू में बताया था कि उन्हें अपना नाम अच्छा नहीं लगता था। एक दिन जब उनकी मां बहन की कुंडली दिखाने ज्योतिष के पास गई तो उस ज्योतिष ने ही उन्हें नाम बदलने को कहा था। इसके बाद उन्होंने नाम दिलीप से एआर रहमान रख लिया।

  • आज करोड़ों में खेलता है ये म्यूजिक डायरेक्टर, कभी पढ़ाई छोड़ ऐसे चलाता था घर
    +6और स्लाइड देखें
    बेटे अमीन के साथ रहमान।

    तीन बच्चों के पिता हैं रहमान...

    रहमान के म्यूजिकल करियर से सभी वाकिफ हैं, लेकिन उनकी पर्सनल लाइफ के बारे में ज्यादा लोग नहीं जानते। बता दें, रहमान ने सायरा बानो से शादी की है। जोड़ी की दो बेटियां खतीजा और रहीमा। इनके बेटे का नाम अमीन है। दिलचस्प बात यह है कि रहमान और उनके बेटे अमीन का बर्थडे एक ही दिन आता है। रहमान के भले ही दुनियाभर में करोड़ों फैंस थे, लेकिन उनकी बेटी खतीजा को स्कूल में पिता का ऑटोग्राफ देना पसंद नहीं है।

  • आज करोड़ों में खेलता है ये म्यूजिक डायरेक्टर, कभी पढ़ाई छोड़ ऐसे चलाता था घर
    +6और स्लाइड देखें
    लता मंगेशकर के साथ रहमान।

    रात 12 बजे के बाद ही रिकॉर्डिंग करते हैं रहमान...

    रहमान हमेशा रात 12 बजे के बाद ही रिकॉर्डिग करते हैं। हालांकि लता मंगेशकर के लिए उन्होंने अपना नियम बदला था और उनके साथ सुबह रिकॉर्डिग की थी। लता मंगशेकर का मानना है कि सुबह उनकी आवाज में ताजगी होती है इसलिए रहमान उनके साथ सुबह रिकॉर्डिग करते हैं।

  • आज करोड़ों में खेलता है ये म्यूजिक डायरेक्टर, कभी पढ़ाई छोड़ ऐसे चलाता था घर
    +6और स्लाइड देखें
    मां के साथ रहमान।

    मद्रास के मोजार्ट कहलाते हैं रहमान...

    एआर रहमान कभी इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर बनना चाहते थे। लेकिन एक संगीतकार के घर में जन्मे रहमान की यह इच्छा पूरी नहीं हो पाई। इसके बावजूद आज उन्हें ही नहीं, बल्कि शायद ही किसी को अफसोस होगा कि उनका यह ख्वाब साकार नहीं हो सका। अगर हो जाता तो वे 'मद्रास के मोजार्ट' नहीं कहलाते, जैसा कि कभी टाइम मैगजीन ने उन्हें संबोधित किया था (मोजार्ट क्लासिक युग के ख्यात संगीतकार थे)। आज अगर रहमान को 'मोजार्ट ऑफ इंडिया' कहें तो कुछ गलत नहीं होगा।

  • आज करोड़ों में खेलता है ये म्यूजिक डायरेक्टर, कभी पढ़ाई छोड़ ऐसे चलाता था घर
    +6और स्लाइड देखें
    रिकॉर्डिं स्टूडियो में रहमान।

    ऑस्कर विनर हैं रहमान...

    यही वजह है कि आज करोड़ों में खेलने वाले रहमान को अब भी वे 50 रुपए याद आते हैं, जो उन्हें रिकॉर्ड प्लेयर को ऑपरेट करने के बदले पहली बार मिले थे। 1992 में मणिरत्नम के डायरेक्शन में बनी फिल्म 'रोजा' से रहमान का जो फिल्मी करियर शुरू हुआ, वह आसमान की बुलंदी को छूता हुआ 'स्लमडॉग मिलेनियर' तक पहुंचा। इसके लिए वे दो ऑस्कर जीतने में सफल रहे।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×