Home »Celebs B'day & Anniversary» Aamir Khan Birthday : Top 5 Controversy Of Aamir Khan Life

इनटॉलरेंस से अवॉर्ड फंक्शन में न जाने तक, ये हैं आमिर से जुड़े 5 बड़े विवाद

उनका जन्म 14 मार्च, 1965 को मुंबई में हुआ था। आमिर ने करियर की शुरुआत 1984 में आई केतन मेहता की फिल्म 'होली' से की थी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Mar 14, 2018, 12:28 PM IST

  • इनटॉलरेंस से अवॉर्ड फंक्शन में न जाने तक, ये हैं आमिर से जुड़े 5 बड़े विवाद
    +4और स्लाइड देखें
    वाइफ किरण राव के साथ आमिर खान।

    मुंबई।आमिर खान 53 साल के हो चुके हैं। उनका जन्म 14 मार्च, 1965 को मुंबई में हुआ था। आमिर ने करियर की शुरुआत 1984 में आई केतन मेहता की फिल्म 'होली' से की थी। हालांकि उनकी पहली सुपरहिट फिल्म 1988 में आई 'कयामत से कयामत तक' थी। आमिर को बॉलीवुड का मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहा जाता है, लेकिन बावजूद इसके उनकी लाइफ भी विवादों से घिरी रही है। इस पैकेज में हम बता रहे हैं आमिर खान के कुछ ऐसे ही विवाद...


    इनटॉलरेंस पर विवाद
    नवंबर, 2015

    आमिर खान ने देश में कथित तौर पर बढ़ रहे इन्टॉलरेंस यानी असहिष्णुता के मुद्दे पर कहा कि अपने बच्चे को लेकर पहली बार उन्हें डर लग रहा है। उन्होंने एक अवॉर्ड फंक्शन में कहा कि देश का माहौल देखकर एक बार तो पत्नी किरण ने बहुत बड़ी और डरावनी बात कह दी थी। किरण ने पूछा था कि क्या हमें देश छोड़ देना चाहिए? किरण बच्चे की हिफाजत को लेकर डर महसूस कर रही थीं।

    आगे की स्लाइड्स पर, आमिर खान के 4 और बड़े विवाद...

  • इनटॉलरेंस से अवॉर्ड फंक्शन में न जाने तक, ये हैं आमिर से जुड़े 5 बड़े विवाद
    +4और स्लाइड देखें

    पीके पर विवाद

    दिसंबर, 2014

    2014 में आई फिल्म पीके को लेकर भी आमिर खान विवादों में रहे थे। आमिर खान पर एक खास समुदाय की भावनाओं को भड़काने और उस पर टीका-टिप्पणी को लेकर लोग काफी नाराज हुए थे। फिल्म रिलीज होने के बाद भी लोगों का गुस्सा थमा नहीं था।

  • इनटॉलरेंस से अवॉर्ड फंक्शन में न जाने तक, ये हैं आमिर से जुड़े 5 बड़े विवाद
    +4और स्लाइड देखें

    अवॉर्ड फंक्शन में पार्टिसिपेट न करना

    जनवरी, 1991

    पद्मश्री और पद्मभूषण पा चुके आमिर खान किसी भी अवॉर्ड फंक्शन में नहीं जाते। दरअसल, आमिर का मानना है कि मेरे लिए नेशनल अवॉर्ड के अलावा बाकी कोई अवॉर्ड खास महत्व नहीं रखता। माना जाता है कि आमिर की फिल्म 'दिल' और सनी देओल की 'घायल' 1991 में फिल्मफेयर के लिए नॉमिनेट हुई थीं। आमिर को लगा था कि बेस्ट एक्टर का फिल्मफेयर उन्हें मिलेगा लेकिन यह अवॉर्ड बाद में सनी देओल को मिल गया। शायद ये भी एक वजह है जिससे आमिर अवॉर्ड फंक्शन में नहीं जाते।

  • इनटॉलरेंस से अवॉर्ड फंक्शन में न जाने तक, ये हैं आमिर से जुड़े 5 बड़े विवाद
    +4और स्लाइड देखें

    तुसाद में वैक्स स्टैच्यू को लेकर

    फरवरी, 2009

    आमिर खान ने मैडम तुसाद म्यूजियम में अपनी वैक्स स्टैच्यू लगवाने से साफ इनकार कर दिया था। उनका कहना था कि जो मेरी फिल्म देखना चाहते हैं, वो वैसे भी देखेंगे। मुझे स्टैच्यू लगवाने से कोई फर्क नहीं पड़ता।

  • इनटॉलरेंस से अवॉर्ड फंक्शन में न जाने तक, ये हैं आमिर से जुड़े 5 बड़े विवाद
    +4और स्लाइड देखें

    नर्मदा बचाओ आंदोलन का हिस्सा बनना

    अप्रैल, 2006
    आमिर बॉलीवुड के ऐसे पहले एक्टर होंगे, जिन्होंने किसी आंदोलन में खुलकर हिस्सा लिया। 2006 में आमिर ने गुजरात में नर्मदा बचाओ आंदोलन समिति को अपना समर्थन दिया था। इतना ही नहीं वो इसमें हिस्सा लेने भी पहुंच गए थे। इसके बाद उनके इस समर्थन को लेकर उन्हें काफी विरोध भी झेलना पड़ा था।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×