Home »Celebs B'day & Anniversary» Parveen Babi Death Anniversary Had Three Affairs But Not Marriage

अफेयर्स और लिव इन के बाद भी अकेली रहीं परवीन, ऐसी थी पर्सनल लाइफ

परवीन बाबी 20 जनवरी, 2005 को अपने फ्लैट में रहस्यमयी हालत में मृत पाई गई थीं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 20, 2018, 07:28 AM IST

  • अफेयर्स और लिव इन के बाद भी अकेली रहीं परवीन, ऐसी थी पर्सनल लाइफ
    +7और स्लाइड देखें
    परवीन बाबी, कबीर बेदी, महेश भट्ट।

    बॉलीवुड की ग्लैमरस एक्ट्रेसेस में से एक परवीन बाबी की मौत बहुत ही दर्दनाक रही। आज उनकी 13वीं डेथ एनीवर्सरी है। परवीन 20 जनवरी, 2005 को अपने फ्लैट में रहस्यमयी हालत में मृत पाई गई थीं। उनकी लाइफ हमेशा विवादों में घिरी रही है। कभी वे लिव-इन रिलेशनशिप की वजह से चर्चा में रहीं तो कभी अन्य दो अफेयर्स को लेकर सुर्खियां बटोरीं। इस पैकेज आपको बताते हैं परवीन बाबी की जिंदगी से जुड़ी कुछ बातें। तीन अफेयर के बाद भी शादी नहीं कर पाईं परवीन बाबी...

     

     

     


    परवीन बाबी को लेकर कहा जाता है कि इंडस्ट्री में आने के बाद जितनी जल्दी उन्होंने खुद को सेटल किया, उतनी ही जल्दी अपने लिए पार्टनर भी ढूंढ लिया। सबसे पहले उनका नाम डैनी के साथ जुड़ा। फिल्म 'धुएं की लकीर' से शुरू हुआ उनका अफेयर कुछ ही समय में परवान चढ़ा। हालांकि, ये अफेयर ज्यादा दिनों तक नहीं चला। डैनी से हुए ब्रेकअप ने परवीन को काफी दर्द पहुंचाया, लेकिन उन्होंने खुद को टूटने नहीं दिया। इसी बीच वे कबीर बेदी के संपर्क में आईं। कबीर काफी नई सोच के थे। सिगरेट, शराब पीने वाली और बोल्ड स्वभाव की परवीन और कबीर को एक-दूसरे का साथ पसंद आया। दोनों लंबे समय तक लिव-इन में रहे, लेकिन ये रिश्ता भी ज्यादा दिन तक नहीं चल सका। इसके बाद परवीन की लाइफ में महेश भट्ट आए। दोनों करीब तीन साल (1977-80) तक साथ रहे। तीन अफेयर के बावजूद परवीन लाइफ टाइम शादी नहीं कर पाईं।

     

     

     


    आगे की स्लाइड्स में पढ़े परवीन बाबी की लाइफ से जुड़ीं खास बातें...

  • अफेयर्स और लिव इन के बाद भी अकेली रहीं परवीन, ऐसी थी पर्सनल लाइफ
    +7और स्लाइड देखें
    परवीन बाबी।

    बोल्ड थी परवीन
    गुजरात के जूनागढ़ के एक मुस्लिम परिवार में परवीन बाबी का जन्म हुआ था। उन्होंने सेंट जेवियर्स कॉलेज, अहमदाबाद से पढ़ाई पूरी की। इस दौरान फिल्मकार बीआर इशारा की नजर उनपर पड़ी। मिनी स्कर्ट पहने और हाथ में सिगरेट लिए बाबी का अंदाज बीआर को इतना भाया कि उन्होंने तुरंत अपनी फिल्म 'चरित्र' (1973) के लिए साइन कर लिया। हालांकि, ये फिल्म नहीं चली, लेकिन परवीन बाबी को पसंद किया गया। इस फिल्म में उन्हें नोटिस किया गया। इसके बाद उनकी कई फिल्में फ्लॉप हुईं, लेकिन आगे चलकर उनकी कई फिल्में हिट हुईं। 1974 में अमिताभ बच्चन के साथ आई उनकी फिल्म 'मजबूर' ने उन्हें हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में ग्लैमरस एक्ट्रेस के तौर पर स्थापित कर दिया। वे स्क्रीन पर हमेशा बोल्ड अंदाज में नजर आई हैं।

  • अफेयर्स और लिव इन के बाद भी अकेली रहीं परवीन, ऐसी थी पर्सनल लाइफ
    +7और स्लाइड देखें
    परवीन बाबी।

    मैगजीन कवर पर परवीन
    ग्लैमरस एक्ट्रेस के तौर पर फिल्म इंडस्ट्री में स्थापित हो चुकीं परवीन को 1976 में टाइम मैगजीन ने अपने कवर पेज पर जगह दी। वे इस मैगजीन के कवर पर आने वाली पहली इंडियन एक्ट्रेस थीं। वे बहुत बोल्ड और बिंदास थीं। यश चोपड़ा की फिल्म 'दीवार' में उन्होंने काफी बोल्ड सीन्स दिए। अमिताभ बच्चन के साथ उनकी जोड़ी ने कई हिट फिल्में दीं, जिनमें 'अमर अकबर एंथोनी', 'दीवार', 'शान', 'खुद्दार', 'काला पत्थर', 'सुहाग', 'नमक हलाल' जैसी फिल्में शामिल हैं। परवीन ने लगभग 50 फिल्मों में अभिनय किया। उनकी आखिरी फिल्म 1988 में आई 'आकर्षण' थी।

  • अफेयर्स और लिव इन के बाद भी अकेली रहीं परवीन, ऐसी थी पर्सनल लाइफ
    +7और स्लाइड देखें
    परवीन बाबी।

    शोहरत ही बन गई थी दुश्मन
    जीनत अमान के बाद परवीन भी बोल्ड और बिंदास एक्ट्रेस बनकर उभरीं। लेकिन दोनों में बहुत बड़ा फर्क था। जीनत की सोच पूरी तरह व्यावसायिक थी। उन्होंने अपनी हर कामयाबी और नाकामयाबी को समझदारी से संभाला, लेकिन परवीन ऐसा नहीं कर पाईं। ज्यादा लाइम लाइट और सक्सेस ही उनकी सबसे बड़ी दुश्मन बन गई, जिस वजह से बॉलीवुड में हर कोई उन्हें अपना दुश्मन नजर आने लगा था। इसी वजह से सभी ने उनका फायदा उठाया। एक छोटे शहर से आकर बॉलीवुड में ऊंचाइयां छूने वाली परवीन आखिरी वक्त में अकेली रह गई थीं।

  • अफेयर्स और लिव इन के बाद भी अकेली रहीं परवीन, ऐसी थी पर्सनल लाइफ
    +7और स्लाइड देखें
    परवीन बाबी।

    डिप्रेशन का शिकार
    फिल्म इंडस्ट्री में सफलता का स्वाद चखने वाली परवीन बाबी की जिंदगी भी तन्हाई और दर्द से भरी थी। उन्हें जीवन में सफलता, शोहरत, नाम, पैसा सबकुछ मिला, लेकिन कोई ऐसा साथी नहीं मिला, जिसके साथ वे अपनी बात बांट सके। ऐसे में परवीन डिप्रेशन जैसी बीमारी की शिकार हो गईं।

  • अफेयर्स और लिव इन के बाद भी अकेली रहीं परवीन, ऐसी थी पर्सनल लाइफ
    +7और स्लाइड देखें
    फिल्म शान के एक सीन में अमिताभ बच्चन और परवीन बाबी।

    बिग बी से डरने लगी थीं परवीन
    2014 में एक फेमस मैगजीन को दिए इंटरव्यू में महेश भट्ट ने परवीन से अपने रिश्ते, प्यार और उनको तन्हा छोड़ देने की पूरी कहानी पर बात की थी। उन्होंने बताया कि बीमारी के चलते परवीन की मानसिक स्थिति इतनी बिगड़ चुकी थी वो अमिताभ बच्चन को भी अपना दुश्मन समझने लगी थीं। बिग बी के साथ परवीन को लगता था कि वो उन्हें जान से मारना चाहते हैं। उन्होंने बताया, 1980 में फिल्म 'शान' की शूटिंग चल रही थी। टाइटल सॉन्ग फिल्माया जाना था। अमिताभ बच्चन, शशि कपूर, बिंदिया गोस्वामी, जॉनी वॉकर, बिंदु और परवीन बाबी सेट पर मौजूद थे। गाना शूट होना शुरू ही हुआ था कि परवीन ने अचानक शूटिंग रुकवा दी। उन्होंने सेट पर लगे झूमर के नीचे खड़े होने से इनकार कर दिया। उन्होंने अमिताभ पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे उन पर झूमर गिराकर मारना चाहते हैं। अमिताभ के साथ इस साजिश में फिल्म के डायरेक्टर रमेश सिप्पी भी शामिल हैं। परवीन के आरोपों के बाद शूटिंग रोक दी गई और उन्हें वहां से हटाया गया। परवीन के आरोपों से पूरी फिल्म इंडस्ट्री हिल गई। इस वक्त तक परवीन और अमिताभ दोनों सुपरस्टार बन चुके थे। ये खबर भी काफी वायरल हुई थी।

  • अफेयर्स और लिव इन के बाद भी अकेली रहीं परवीन, ऐसी थी पर्सनल लाइफ
    +7और स्लाइड देखें
    महेश भट्ट और परवीन बाबी।

    हिल गए थे महेश
    1979 की बात है। एक दिन महेश जब घर लौटे तो उन्होंने देखा कि परवीन फिल्म की कॉस्ट्यूम पहने घर के एक कोने में बैठी हैं, उनके हाथ में चाकू था। महेश को देखते हुए परवीन ने उन्हें चुप रहने का इशारा करते हुए कहा, 'बात मत करो, कमरे में कोई है। वो मुझे मारने की कोशिश कर रहे हैं'। ये पहला वाकया था जिससे महेश बुरी तरह हिल गए थे। उन्होंने परवीन का ये रूप पहले कभी नहीं देखा था। फिर अक्सर ही परवीन ऐसी हरकतें करने लगीं। डॉक्टरों को दिखाने के कुछ दिन बाद पता चला कि उन्हें सिजोफ्रेनिया नाम की मानसिक बीमारी है। इलाज के बावजूद परवीन की ये बीमारी ठीक नहीं हुई। उनके दिल में ये डर बैठ गया था कि कोई उन्हें मारना चाहता है। परवीन की ऐसी स्थिति देखकर उन्हें कमरे में ही बंद रखा जाने लगा था।

  • अफेयर्स और लिव इन के बाद भी अकेली रहीं परवीन, ऐसी थी पर्सनल लाइफ
    +7और स्लाइड देखें
    इस हालत में मिली थी परवीन की बॉडी।

    अब तक राज है मौत
    20 जनवरी, 2005 को परवीन बाबी ने दुनिया को अलविदा कहा। वे सिजोफ्रेनिया नाम की मानसिक बीमारी से पीड़ित थीं। इस बीमारी के ठीक होने की संभावना न के बराबर थी। वे डायबिटीज और गैंगरीन से भी पीड़ित थीं। इस वजह से उनकी किडनी और शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। उनकी मौत किसी बीमारी से हुई या उन्होंने आत्महत्या की, ये बात अब तक राज ही है।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×