Home »Celebs B'day & Anniversary» Remembering Rajesh Khanna On His Birth Anniversary: Amazing Life Facts About Him

जब टीना मुनीम के आगे गिड़गिड़ाए थे राजेश खन्ना, ये थी वजह

गुजरे जमाने के सुपरस्टार राजेश खन्ना की आज 75वीं बर्थ एनिवर्सरी (29 दिसंबर) है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 29, 2017, 03:30 PM IST

  • जब टीना मुनीम के आगे गिड़गिड़ाए थे राजेश खन्ना, ये थी वजह
    +4और स्लाइड देखें
    टीना मुनीम और राजेश खन्ना।

    गुजरे जमाने के सुपरस्टार राजेश खन्ना की आज 75वीं बर्थ एनिवर्सरी (29 दिसंबर, 1942) है। बता दें कि डिंपल कपाड़िया से शादी करने के बावजूद राजेश खन्ना, टीना मुनीम के साथ रिलेशनशिप में रहे। टीना चाहती थी कि राजेश, डिंपल को तलाक देकर उनसे शादी कर ले। लेकिन ऐसा नहीं हुआ तो टीना को लगा कि राजेश उन्हें बहलाने की कोशिश कर रहे हैं। फिर क्या था, टीना ने राजेश से दूरी बनाना शुरू कर दी और एक दिन उन्हें छोड़कर चली गई। कहा जाता है कि जब टीना उन्हें छोड़कर जा रही थी तो राजेश उनके सामने गिड़गिड़ाए थे कि वे उन्हें छोड़कर ना जाए। लेकिन टीना ने उनकी कोई बात नहीं सुनी। पहले सुपरस्टार थे राजेश खन्ना...


    राजेश खन्ना को हिंदी सिनेमा का पहला सुपरस्टार माना जाता है, जिसके पीछे लड़कियां दीवानी थी। इसी बीच 70 के दशक में एक एक्ट्रेस ने बॉलीवुड में कदम रखा, जिसका नाम था टीना मुनीम। 1976 में फिल्म 'देश परदेश' से फिल्मों में कदम रखने वाली टीना का भी दिल राजेश खन्ना पर आ गया था। राजेश खन्ना ने डिंपल से शादी के करने के बावजूद टीना को अपने करीब आने दिया। टीना जानती थी के राजेश शादीशुदा हैं, लेकिन टीना भी राजेश खन्ना के स्टारडम की दीवानी थी और राजेश, टीना की खूबसूरती पर फिदा थे। कहा जाता है कि जब 80 के दशक में इन दोनों का अफेयर परवान चढ़ा तब टीना मुनीम ने राजेश खन्ना पर शादी करने का दवाब डालना शुरू किया। राजेश खन्ना ने उन्हें इस बात का आश्वासन दिया कि वो डिंपल को तलाक देकर उनसे शादी करेंगे। लेकिन राजेश ने कभी भी डिंपल से तालाक की बात नहीं की। बता दें कि मरते दम तक राजेश और डिंपल में तलाक नहीं हुआ था। हालांकि, दोनों लंबे समय तक अलग-अलग रहे थे। राजेश और टीना ने 'फिफ्टी-फिफ्टी' (1981), 'सुराग' (1982), 'सौतन' (1983), 'अलग-अलग' (1985), 'आखिर क्यों' (1985), 'अधिकार' (1986) सहित कई फिल्मों में साथ काम किया। टीना-राजेश का रिश्ता 1987 में खत्म हो गया था।

    आगे की स्लाइड्स में पढ़ें राजेश खन्ना से जुड़े कुछ और किस्से...

  • जब टीना मुनीम के आगे गिड़गिड़ाए थे राजेश खन्ना, ये थी वजह
    +4और स्लाइड देखें
    डिंपल कपाड़िया और राजेश खन्ना।

    राजेश- डिंपल की शादी
    राजेश खन्ना ने डिंपल से 1973 में शादी की थी। शादी के डेढ़ साल बाद डिंपल ने बेटी ट्विंकल को दिसंबर 1974 में जन्म दिया। राजेश-डिंपल ने कुछ समय और अच्छे से साथ काटा, लेकिन फिर दोनों में तकरार शुरू हो गई। इसी बीच टीना, राजेश की जिदंगी में आ गई। दोनों फिल्मों की आउटडोर शूटिंग में साथ जाने लगे और नजदीकियां बढ़ने लगी। डिंपल भी इन बातों से अंजान नहीं थी। कहा जाता है कि जब डिंपल ने 1984 में राजेश का घर छोड़ा था तो टीना, राजेश के साथ लिव-इन में रहने उनके घर में शिफ्ट हो गई थीं। हालांकि, ये रिश्ता भी कुछ सालों में खत्म हो गया था।

  • जब टीना मुनीम के आगे गिड़गिड़ाए थे राजेश खन्ना, ये थी वजह
    +4और स्लाइड देखें
    फिल्म आप की कसम के एक सीन में राजेश खन्ना और मुमताज।

    लगातार 15 सुपरहिट फिल्में
    1962 में राजेश खन्ना ने अन्धा युग नाटक में एक घायल सिपाही का रोल निभाया और उनकी परफॉर्मेंस से खुशकर होकर मुख्य अतिथि उन्हें फिल्मों में आने का सुझाव दिया। 1965 में यूनाइटेड प्रोड्यूसर्स और फिल्मफेयर ने ऑल इंडिया टेलेंट कॉन्टेस्ट आयोजित किया था, जिसमें 8 लोग फाइनल लिस्ट में शामिल हुए थे, इन 8 में एक राजेश खन्ना भी थे। राजेश की अदाकारी देखकर डायरेक्टर चेतन आनंद उन्हें 1966 में फिल्म आखिरी खत में लीड रोल दिया था। उन्होंने 1969-72 के बीच लगातार 15 सुपरहिट फिल्मों में काम किया। ये फिल्में थी 'सच्चा झूठा', 'इत्त्फाक', 'दो रास्ते', 'बंधन', 'डोली', 'सफर', 'कटी पतंग', 'आराधना', 'आन मिलो सजना', 'ट्रेन', 'आनंद', 'दुश्मन', 'महबूब की मेंहदी', 'खामोशी', 'हाथी मेरे साथी'।

  • जब टीना मुनीम के आगे गिड़गिड़ाए थे राजेश खन्ना, ये थी वजह
    +4और स्लाइड देखें
    राजेश खन्ना राजनीति में भी सक्रिय रहे थे।

    राजनीति में आए राजेश खन्ना
    1991 के बाद बॉलीवुड में राजेश खन्ना का दौर खत्म होने लगा था। वे राजनीति में आए और 1991 वे नई दिल्ली से कांग्रेस की टिकट पर संसद सदस्य चुने गए। 1994 में उन्होंने एक बार फिर 'खुदाई' फिल्म से वापसी की कोशिश की। उन्होंने 'आ अब लौट चले' (1999), 'क्या दिल ने कहा' (2002) , 'प्यार जिदंगी है' (2001), 'वफा' (2008) जैसी फिल्मों में अभिनय किया लेकिन इन फिल्मों को कोई खास सफलता नहीं मिली।

  • जब टीना मुनीम के आगे गिड़गिड़ाए थे राजेश खन्ना, ये थी वजह
    +4और स्लाइड देखें
    फिल्म दाग के एक सीन में शर्मिला टैगोर, राजेश खन्ना और राखी।

    कैंसर से हुई मौत
    जुलाई 2011 में कैंसर होने की वजह से उनकी सेहत खराब होने लगी थी। उन्होंने 18 जुलाई, 2012 में अपने घर में दम तोड़ा था।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Remembering Rajesh Khanna On His Birth Anniversary: Amazing Life Facts About Him
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×