Home »Gossip» Look At Family Of Veteran Actor Vinod Khanna

PHOTOS: 3 बेटे और एक बेटी के पिता हैं विनोद खन्ना, कर चुके हैं दो शादियां

बॉलीवुड एक्टर विनोद खन्ना 70 साल के होने वाले हैं। 6 अक्टूबर, 1946 को पाकिस्तान के पेशावर में जन्में विनोद की जिंदगी की कहानी फिल्मी स्टोरी से कम नहीं है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Oct 05, 2016, 12:01 AM IST

  • एंटरटेनमेंट डेस्क। बॉलीवुड एक्टर विनोद खन्ना 70 साल के हो चुके हैं। 6 अक्टूबर, 1946 को पाकिस्तान के पेशावर में जन्में विनोद की जिंदगी की कहानी फिल्मी स्टोरी से कम नहीं है। साधारण परिवार से होने के बाद बॉलीवुड एक्टर बनने और फिर ओशो से प्रभावित होकर अपनी शादीशुदा जिंदगी खत्म करने को लेकर वो हमेशा ही सुर्खियों में रहे। कॉलेज में मिला था पहला प्यार...

    भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के बाद विनोद खन्ना का परिवार मुंबई आ गया था। उनके पिता टेक्सटाइल बिजनेसमैन थे। मुंबई और दिल्ली में स्कूली पढ़ाई के बाद कॉलेज के दिनों के दौरान विनोद इंजीनियर बनना चाहते थे। वो साइंस के स्टूडेंट थे। वहीं, उनके पिता चाहते थे कि वो कॉमर्स लें और पढ़ाई के बाद घर के बिजनेस से जुड़ें। पिता ने उनका एडमिशन एक कॉमर्स कॉलेज में भी करा दिया था, लेकिन विनोद का पढ़ाई में मन नहीं लगा। विनोद के अनुसार, कॉलेज लाइफ में उन्होंने थिएटर में काम करना शुरू किया। वहां उनकी कई गर्लफ्रेंड्स थीं। यहीं उनकी मुलाकात गीतांजलि से हुई। गीतांजलि विनोद की पहली पत्नी थीं। कॉलेज से ही उनकी लव-स्टोरी शुरू हुई थी।

    जब पिता ने तान दी थी बंदूक...
    विनोद के मुताबिक, एक पार्टी के दौरान उनकी मुलाकात सुनील दत्त से हुई थी। सुनील एक फिल्म के लिए अपने भाई के किरदार के लिए किसी नए एक्टर की तलाश में थे। उन्होंने विनोद खन्ना को वो रोल ऑफर किया। लेकिन जब ये बात उनके पिता को पता चली तो उन्होंने विनोद पर बंदूक तान दी। उनका कहना था कि यदि वे फिल्मों में गए तो वो उन्हें गोली मार देंगे। हालांकि, विनोद की मां ने उनके पिता को इसके लिए राजी कर लिया और दो साल का वक्त दिया। पिता ने कहा कि दो साल तक कुछ ना कर पाए तो फैमिली बिजनेस ज्वाइन कर लेना।

    एक हफ्ते में साइन की 15 फिल्में...
    विनोद की पहली फिल्म 'मन का मीत' को दर्शकों का मिला-जुला रिस्पॉन्स मिला। इसके बाद एक हफ्ते में ही विनोद ने करीब 15 फिल्में साइन कीं। फिल्मों में कुछ सफलता के बाद विनोद और गीतांजलि ने शादी का फैसला किया। दोनों के दो बेटे अक्षय और राहुल खन्ना हैं।

    ओशो से हुए प्रभावित...
    एक समय था जब फैमिली को वक्त देने के लिए विनोद संडे काम नहीं करते थे। ऐसा करने वाले वो शशि कपूर के बाद दूसरे एक्टर थे, लेकिन ओशो से प्रभावित होकर उन्होंने अपना पारिवारिक जीवन तबाह कर लिया था। विनोद अक्सर पुणे में ओशो के आश्रम जाते थे। यहां तक कि उन्होंने अपने कई शूटिंग शेड्यूल भी पुणे में ही रखवाए। दिसंबर, 1975 में विनोद ने जब फिल्मों से संन्यास का फैसला लिया तो सभी चौंक गए थे। बाद में विनोद अमेरिका चले गए और ओशो के साथ करीब 5 साल गुजारे। वो वहां उनके माली थे।

    गीतांजलि से टूट गया रिश्ता...
    4-5 साल तक परिवार से दूर रहने वाले विनोद का परिवार पूरी तरह टूट गया था। जब वो इंडिया लौटे तो पत्नी उन्हें तलाक देने का फैसला कर चुकी थीं। फैमिली बिखरने के बाद 1987 में विनोद ने फिल्म 'इंसाफ' से फिर से बॉलीवुड में एंट्री की।

    1990 में की दूसरी शादी...
    दोबारा फिल्मी करियर शुरू करने के बाद विनोद ने 1990 में कविता से शादी की। दोनों का एक बेटा साक्षी और एक बेटी श्रद्धा खन्ना है।

    1997 में आए राजनीति में...
    1997 में बीजेपी के मेंबर बनने के बाद विनोद नेता भी बन गए। राजनीति में एक्टिव विनोद खन्ना अब कई फिल्मों में भी नजर आ रहे हैं। सलमान खान स्टारर 'दबंग' सीरीज की फिल्मों में अहम किरदार निभा चुके विनोद शाहरुख की 'दिलवाले' में भी नजर आ चुके हैं।

    आगे की स्लाइड्स में देखें, विनोद खन्ना और उनकी फैमिली की चुनिंदा फोटोज...
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×