Home »Gossip» Bollywood Star Nawazuddin Siddiqui Shares Success Mantra

केवल टैलेंट के भरोसे मत रहिए, जानिए वॉचमैन से स्टार बने नवाज़ुद्दीन से 3 सक्सेस टिप्स

नवाज़ुद्दीन कहते हैं, मन में सपनों का पलना जरूरी है, कड़ी मेहनत उन्हें हकीकत में तब्दील कर देगी

Dainikbhaskar | Last Modified - Feb 20, 2018, 04:59 PM IST

  • केवल टैलेंट के भरोसे मत रहिए, जानिए वॉचमैन से स्टार बने नवाज़ुद्दीन से 3 सक्सेस टिप्स
    +2और स्लाइड देखें

    यूपी के मुजफ्फरनगर जिले के बुढाना गांव से ताल्लुक रखने वाले नवाजुद्दीन सिद्दिकी अपनी एक्टिंग से बॉलीवुड में छाए हुए हैं। एक किसान के बेटे नवाज़ ने स्ट्रगल का लंबा दौर देखा लेकिन एक्टर बनने का सपना नहीं छोड़ा। एक इंटरव्यू में उन्होंने तीन सक्सेस मंत्र बताए हैं।

    नवाज़ुद्दीन कहते हैं,'कामयाबी हो या नाकामी दोनों के पीछे कई पड़ाव छिपे होते हैं जो आपको बहुत कुछ सिखाकर जाते हैं। दिल्ली आने के बाद अपने थियेटर को जारी रखने के लिए मैंने वॉचमैन की नौकरी की। यह काम करते हुए मुझे लगता था कि यह जिंदगी का एक फेज है जो गुजर जाएगा। गुजर भी गया और कामयाबी भी हाथ आई। लेकिन मैं यह भी जानता था कि सफलता भी स्थाई नहीं होती और कई सबक अपने साथ लेकर आती है। जब मुझे केन्स जाना था तो किसी भी फैशन डिजाइनर को इस बात पर यकीन नहीं हुआ और उन्होंने मेरे लिए डिजाइन करने से भी मना कर दिया था। जब ऐसा सच में हुआ तो सभी आश्चर्यचकित थे।'

    केवल टैलेंट के भरोसे मत रहिए

    अब सिर्फ टैलेंट पर निर्भर नहीं हुआ जा सकता बल्कि बेहतर प्रदर्शन के लिए आपको लगातार प्रैक्टिस करनी होगी। हर पेशे की अपनी चुनौतियां हैं। आगे बढ़ने के लिए मन में सपनों का पलना जरूरी है और कड़ी मेहनत आपके सपनों को हकीकत में बदल देगी।

    आगे पढ़िए बाकी टिप्स...

  • केवल टैलेंट के भरोसे मत रहिए, जानिए वॉचमैन से स्टार बने नवाज़ुद्दीन से 3 सक्सेस टिप्स
    +2और स्लाइड देखें

    क्या काम आपके मन का है?

    केमिस्ट, वॉचमैन जैसे काम करने के बाद दिल्ली में थियेटर देखते हुए मुझे ऐसा महसूस हुआ कि यही वह काम है जिसे मैं करना चाहता हूं। अच्छी बात यह थी कि मुझे इसमें सफलता भी मिली। लेकिन सबकी जिंदगी में ऐसा मौका नहीं आता। इसलिए आप जो भी कर रहे हों उसके बारे में खुद से जरूर पूछें कि क्या यह आपके मन का काम है? यह जवाब आपकी आगे की राह को आसान बनाएगा।

  • केवल टैलेंट के भरोसे मत रहिए, जानिए वॉचमैन से स्टार बने नवाज़ुद्दीन से 3 सक्सेस टिप्स
    +2और स्लाइड देखें

    सिर्फ तालियां बटोरने का मकसद मत रखिए

    जिंदगी में सफल होने के लिए जरूरी है कि आप अपने उद्देश्यों की गंभीरता को समझें। कई बार लोगों को हंसाने और अपनी तरफ आकर्षित करने या तालियां बटोरने के लिए भावना में बहकर जरूरत से ज्यादा कामों को हम खुद पर ओढ़ लेते हैं जो काम की गंभीरता को खत्म कर देता है। इसलिए उतना ही करें जितनी आपकी क्षमता है। यह भी याद रखें कि किसी भी काम में अच्छा प्रदर्शन आसान है, लेकिन उसी काम को जब आप थोड़ा अलग तरीके से करना चाहते हैं तो यह बेहद मुश्किल हो जाता है। कई सालों से बने ढर्रे से अलग हटकर कोई काम करना जोखिम भरा होता है लेकिन जोखिम उठाना ही अक्सर नए रास्तों को खोल देता है।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×