Home »Gossip» Sridevi Life Some Interesting Facts

श्रीदेवी की अनसुनी बातें : जब हर फिल्म में साथ काम करना चाहते थे जितेन्द्र

श्रीदेवी के अचानक निधन की खबर से बॉलीवुड समेत उनके फैन्स गहरे सदमे में हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 25, 2018, 09:48 AM IST

  • श्रीदेवी की अनसुनी बातें : जब हर फिल्म में साथ काम करना चाहते थे जितेन्द्र
    +6और स्लाइड देखें
    श्रीदेवी और जितेन्द्र।

    मुंबई।बॉलीवुड एक्ट्रेस श्रीदेवी की बाथटब में डूबने से मौत हो गई। 54 साल की श्रीदेवी पति बोनी कपूर और छोटी बेटी खुशी के साथ रविवार को दुबई में मोहित मारवाह की शादी में शरीक होने गई थीं। श्रीदेवी के अचानक निधन की खबर से बॉलीवुड समेत उनके फैन्स गहरे सदमे में हैं। 2017 में श्रीदेवी को फिल्मों में 50 साल पूरे हुए थे। 13 अगस्त 1963 को शिवकाशी, तमिलनाडु में जन्मी श्रीदेवी ने 300 से ज्यादा फिल्मों में काम किया। कहते हैं कि जितेन्द्र 'हिम्मतवाला' में श्रीदेवी के काम से इतने प्रभावित थे कि अपनी हर फिल्म में बतौर हीरोइन उन्हें ही चाहते थे।


    श्रीदेवी की पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ से जुडी कई ऐसी बातें हैं, जो ज्यादातर लोग नहीं जानते। ऐसी ही कुछ बातों को जानने के लिए DainikBhaskar.com ने श्रीदेवी के कलीग रहे शक्ति कपूर, रोहिणी हट्टंगड़ी शिल्पा शिरोड़कर से बात की। जानते हैं उन्होंने क्या बताया।


    जब हुई शक्ति कपूर की पहली मुलाक़ात...
    शक्ति कपूर और श्रीदेवी की पहली मुलाक़ात 1983 में 'हिम्मतवाला' के सेट पर हुई थी। इसे याद करते हुए वे कहते हैं, "राजमुंदरी में फिल्म की आउटडोर शूटिंग चल रही थी। श्रीदेवी मां और छोटी बहन के साथ सेट पर पहुंची थीं। मैंने देखा कि वे हिंदी नहीं बोल पा रही थीं और अंग्रेजी में बात कर रही थीं। मैं हमेशा देखता था कि वे दूसरी एक्ट्रेसेस की तरह ब्रेक में गॉसिप नहीं करती थीं। वह फॉर्मली लोगों से बात करती थीं और अपनी लाइन पढ़ने में व्यस्त हो जाती थीं। मैं हमेशा उनका सम्मान करता आया हूं। मैं हमेशा अपनी चेयर उन्हें दे देता था।"


    हर फिल्म में श्रीदेवी को चाहते थे जितेन्द्र...
    - बकौल शक्ति कपूर, "जितेन्द्र को 'हिम्मतवाला' के दौरान श्रीदेवी का परफॉर्मेंस इतना अच्छा लगा कि उन्होंने डायरेक्टर के. राघवेंद्र राव से कहा कि वे अपनी सभी फिल्मों में उन्हें और श्रीदेवी को ही कास्ट करें। शायद यही वजह थी कि 'हिम्मतवाला' के बाद राव ने दोनों को 'जानी दोस्त' (1983), 'जस्टिस चौधरी' (1983), 'तोहफा' (1984), 'सुहागन' (1986), 'धर्म अधिकारी' (1986) और 'दिल लगाके देखो' (1988) जैसी फिल्मों में कास्ट किया।"


    आगे की स्लाइड्स पर, श्रीदेवी से जुड़ी ऐसी ही कुछ और इंटरेस्टिंग बातें...

  • श्रीदेवी की अनसुनी बातें : जब हर फिल्म में साथ काम करना चाहते थे जितेन्द्र
    +6और स्लाइड देखें
    सिर्फ घर का खाना खाती थीं श्रीदेवी
    - शक्ति कपूर के मुताबिक, साउथ इंडियन एक्टर्स को सिर्फ अपने घर पर पका ट्रेडिशनल साउथ इंडियन खाना ही पसंद आता है। वे कहते हैं, "फिल्म के सेट पर श्रीदेवी घर से टिफिन लेकर आती थीं, जिसमें वेजिटेरियन खाना होता था। वे इसके अलावा कुछ और नहीं खाती थीं।"
  • श्रीदेवी की अनसुनी बातें : जब हर फिल्म में साथ काम करना चाहते थे जितेन्द्र
    +6और स्लाइड देखें
    पूजा पाठ में विश्वास
    - शक्ति कपूर के मुताबिक, श्रीदेवी रिलीजियस बैकग्राउंड से होने के कारण सेट पर लंबा समय प्रार्थना में लगाती थीं। कई मौकों पर व्रत रखती थीं। हर फिल्म के पहले शॉट के पहले वे हाथ जोड़कर भगवान से प्रार्थना करती थीं। इसके अलावा, जब भी सेट पर आती थीं तो जमीन को टच करके नमस्कार करती थीं।
  • श्रीदेवी की अनसुनी बातें : जब हर फिल्म में साथ काम करना चाहते थे जितेन्द्र
    +6और स्लाइड देखें
    डाइट कॉन्सियस
    - शक्ति कपूर कहते हैं कि एक वक्त था, जब श्रीदेवी फिट और स्लिम नहीं थीं। लेकिन बाद में उन्हें परफेक्ट फिगर बनाने की जरूरत पड़ी। वे कहते हैं, "हिम्मतवाला' (1983) के दौरान श्रीदेवी स्लिम नहीं थीं। लेकिन 'होशियार' (1985) के दौरान उन्होंने अपने वेट पर ध्यान देना शुरू किया। हम एक खूबसूरत फॉरेन लोकेशन पर शूट कर रहे थे। तब मैंने उन्हें आइसक्रीम खाते देखा। उन्होंने मेरी ओर देखते हुए कहा कि वे कई महीनों बाद आइसक्रीम खा रही हैं।"
  • श्रीदेवी की अनसुनी बातें : जब हर फिल्म में साथ काम करना चाहते थे जितेन्द्र
    +6और स्लाइड देखें
    पल भर में एक्टिंग मोड में आ जाती थीं
    - रोहिणी हट्टंगड़ी ने श्रीदेवी के साथ 'धर्म अधिकारी' (1986), 'चालबाज' (1989) और 'गैरकानूनी' (1989) जैसी फिल्मों में काम किया है। वे कहती हैं कि सेट पर श्रीदेवी एक पल में एक्टिंग मोड में आ जाती थीं। बकौल रोहिणी, "फिल्म 'धर्म अधिकारी' की शूटिंग के दौरान कैमरे ने उन्हें एक प्लेट लड्डू के साथ शूट किया। लेकिन कैमरा रोल होने से पहले उन्होंने जितेंद्र के साथ मजाक किया और बोलीं- आइए जीतूजी लड्डू ले लीजिए। इसी दौरान डायरेक्टर ने एक्शन बोला और श्रीदेवी ने एक सेकंड में अपना फेस कैमरे की ओर कर लिया। परफेक्ट शॉट देने के बाद जैसे ही डायरेक्टर ने कट बोला तो वे फिर जितेंद्र के साथ चैटिंग करने लगीं।"
  • श्रीदेवी की अनसुनी बातें : जब हर फिल्म में साथ काम करना चाहते थे जितेन्द्र
    +6और स्लाइड देखें
    'चालबाज' में श्रीदेवी ने किया था रोहिणी का मेकअप
    - रोहिणी आगे कहती हैं, "मुझे याद है 'चालबाज' के समय श्रीदेवी ने मेरा डरावना मेकअप किया था, जिसके बाद मैं जोकर जैसी लग रही थी। डायरेक्टर ने मुझसे कहा कि एक सीन में मेरे फेस को पेंट किया जाएगा, क्योंकि श्रीदेवी मुझे जोकर बनाएंगी। मैंने अपने मेकअप मैन को ऐसा ही मेकअप करने को कहा। लेकिन डायरेक्टर को खुश नहीं था। इसके बाद श्रीदेवी ने मेरे चेहरे पर अपनी क्रिएटिविटी दिखानी शुरू की। उन्होंने मेरा फनी मेकअप किया। उन्होंने मेरे मेकअपमैन को कहा कि वे मेरे बालों को फनी अंदाज में बढ़ा दें। इसके लिए उन्होंने अपने बैग में नकली बाल भी रखे हुए थे। मुझे नहीं पता कि वे अपने बैग में उसे कैरी क्यों कर रही थीं, लेकिन उसे उन्होंने मेरे लिए इस्तेमाल किया। डायरेक्टर को लुक पसंद आया और शॉट भी अच्छे से हो गया।"
  • श्रीदेवी की अनसुनी बातें : जब हर फिल्म में साथ काम करना चाहते थे जितेन्द्र
    +6और स्लाइड देखें
    मैंने श्रीदेवी के साथ बहुत रिहर्सल की : शिल्पा शिरोड़कर
    शिल्पा और श्रीदेवी ने अमिताभ बच्चन स्टारर 'खुदा गवाह' (1993) में साथ काम किया है। शिल्पा ने श्रीदेवी से डांसिंग और एक्टिंग स्किल सीखे हैं। वे कहती हैं, "मैंने श्रीदेवी के साथ बहुत रिहर्सल की है। वे एक टेक वाली आर्टिस्ट थीं। मैं जानती थी कि वे सेट पर आएंगी और एक टेक में सीन देकर चली जाएंगी। मैं अपनी वजह से सीन में कोई अवरोध नहीं चाहती थी। इसलिए मैं उनकी स्पीड के साथ चलने की कोशिश करती थी। मुझे बहुत डर लगता था। लेकिन उन्होंने कभी भी मुझे न्यूकमर की तरह ट्रीट नहीं किया। बल्कि शूट के दौरान बहुत सपोर्ट किया।"
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×