Home »Gossip» Amitabh Says Copyright Rule Rubbish

अमिताभ बच्चन ने देश के इस कानून को मानने से किया इंकार, ऐसे जताई नाराजगी

अमिताभ बच्चन ने अपने ब्लॉग पर 60 साल पुराने कॉपीराइट एक्ट पर सवाल खड़े करते हुए उसे 'बकवास' बताया है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 18, 2018, 04:56 PM IST

    • अमिताभ और कुमार विश्वास।

      मुंबई।अमिताभ बच्चन ने अपने ब्लॉग पर 60 साल पुराने कॉपीराइट एक्ट पर सवाल खड़े करते हुए उसे 'बकवास' बताया है। 1957 के कॉपीराइट एक्ट के मुताबिक, मौलिक साहित्य, ड्रामा, म्यूजिकल और आर्टिस्ट्रिक वर्क के मामले में यह नियम ऑथर की मौत के सिर्फ 60 साल बाद तक लागू होता है। अमिताभ ने इस कानून को बकवास बताते हुए कहा- लेखक की रचनाएं कालजयी होती हैं, जो उनकी मौत के बाद भी बनी रहती हैं। ऐसे में क्या 60 साल की लिमिट सही है। 60 साल ही क्यों, 61 क्यों नहीं या फिर अनंतकाल तक कॉपीराइट क्यों नहीं। अमिताभ ने कहा, बाबूजी के लेखन पर सिर्फ मेरा हक...


      - अमिताभ ने लिखा- कोई भी मौलिक रचना लेखक की विरासत है, लेकिन उसकी मौत के 60 साल बाद वह पब्लिक की हो जाएगी। आखिर किसने इसे बौद्धिक वैधता दी।
      - मेरा मानना है कि यह 1957 में शुरू हुआ और मैं इस दुस्साहस भरे नियम से नाराज हूं।
      - अमिताभ ने कहा कि मेरे बाबूजी की रचनाएं मेरी विरासत हैं और उन पर 60 साल नहीं बल्कि हमेशा-हमेशा मेरा अधिकार रहेगा।
      - मैं इस कॉपीराइट लॉ का ना सिर्फ विरोध करता हूं बल्कि इससे असहमत भी हूं। क्योंकि मेरी धरोहर सिर्फ मेरी है। मेरे बाबूजी के लेखन का उत्तराधिकारी सिर्फ और सिर्फ मैं हूं। उनका लेखन सिर्फ मेरा है और मैं इसे पब्लिक के साथ साझा नहीं कर सकता।

      आगे की स्लाइड्स पर, 2017 में अमिताभ ने कुमार विश्वास को भेजा था लीगल नोटिस...

    • अमिताभ बच्चन ने देश के इस कानून को मानने से किया इंकार, ऐसे जताई नाराजगी
      +4और स्लाइड देखें
      अमिताभ बच्चन।
    • अमिताभ बच्चन ने देश के इस कानून को मानने से किया इंकार, ऐसे जताई नाराजगी
      +4और स्लाइड देखें
      पिता हरिवंश राय बच्चन के साथ अमिताभ।

      कुमार विश्वास ने दिया था ऐसा जवाब...

      अमिताभ बच्‍चन के कॉपीराइट उल्‍लंघन वाले ट्वीट पर कुमार विश्‍वास ने लिखा, सभी कवियों की फैमिली से सराहना मिली लेकिन आपसे नोटिस मिला सर। बाबूजी को श्रद्धांजलि वाला वीडियो डिलीट कर रहा हूं। कमाए गए 32 रुपए भेज रहा हूं जो आपने मांगे थे।

    • अमिताभ बच्चन ने देश के इस कानून को मानने से किया इंकार, ऐसे जताई नाराजगी
      +4और स्लाइड देखें

      क्या है कॉपीराइट उल्लंघन...

      किसी भी लेखन, कंटेट, गाना और फिल्म आदि पर ऑरिजनेटर का पूरा लीगल अधिकार होता है। अगर कोई ऐसे कंटेंट का पर्सनल यूज करता है तो यह केवल कानूनी दायरे में जायज है। हालांकि इसका प्रसार और कमर्शियल उद्देश्य के लिए इस्तेमाल कॉपीराइट का उल्लंघन माना जाता है। अगर कोई शख्स कॉपीराइट के स्वामी की इजाजत के बिना या कॉपीराइट रजिस्ट्रार से लाइसेंस प्राप्त किए बिना रचना का इस्तेमाल करता है, या लाइसेंस की शर्तों का उल्लंघन करता है तो यह उस रचना में कॉपीराइट का उल्लंघन है।

    • अमिताभ बच्चन ने देश के इस कानून को मानने से किया इंकार, ऐसे जताई नाराजगी
      +4और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    Trending

    Top
    ×