Home »Gossip» 5 Things Most People Do Not Know About Divya Bharti’S Death

शादी के 11 महीने बाद हुई थी दिव्या की मौत, जानें क्या हुआ था हादसे की रात

दिव्या की मौत आज भी एक अनसुलझी पहेली बनी हुई है। कुछ लोग इसे सुसाइड मानते हैं, कुछ मर्डर तो कुछ हादसा, लेकिन सच्चाई क्या है ये आज भी एक राज है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 25, 2016, 12:02 AM IST

  • मुंबई. 25 फरवरी को दिव्या भारती की बर्थ एनिवर्सरी है। 17 साल की कम उम्र में तेलुगु फिल्म ‘बोबिली राजा' (1990) से करियर की शुरुआत करने वाली दिव्या ने महज 3 साल में करीब 21 फिल्मों में काम किया था, जिनमें से 13 बॉलीवुड की थी और बाकी साउथ की। दिव्या ने 10 मई, 1992 को फिल्म प्रोड्यूसर साजिद नाडियाडवाला से शादी की थी। शादी के 11 महीने बाद ही उनकी डेथ हो गई थी। अनसुलझी पहेली बनी मौत...
    दिव्या की मौत आज भी एक अनसुलझी पहेली बनी हुई है। कुछ लोग इसे सुसाइड मानते हैं, कुछ मर्डर तो कुछ हादसा, लेकिन सच्चाई क्या है ये आज भी एक राज है। बहरहाल, हम आपको बताने जा रहे हैं उस रात का घटनाक्रम जिस रात दिव्या की डेथ हुई थी।
    तारीख: 5 अप्रैल, 1993
    जगह:5वीं मंजिल, तुलसी अपार्टमेंट, वर्सोवा अंधेरी वेस्ट (मुंबई)
    1. मौत के दिन साइन की थी नई डील...
    जिस दिन दिव्या की डेथ हुई, उसी दिन उन्होंने अपने लिए एक नए अपार्टमेंट की डील साइन की थी। वो चेन्नई से एक फिल्म की शूटिंग करके लौटी थीं और उन्हें दूसरे शूट के लिए हैदराबाद रवाना होना था। लेकिन नए अपार्टमेंट की डील के लिए उन्होंने इस शूट को पोस्टपोन कर दिया। उस दिन दिव्या के पैर में चोट लगी थी, जिसके बारे में उन्होंने अपने डायरेक्टर को भी बताया था।
    आगे की स्लाइड्स में जानिए दिव्या की मौत के कुछ घंटों पहले की कहानी...
  • 2. रजिस्टर्ड फ्लैट में नहीं रहती थीं दिव्या
    शूटिंग कैंसिल करने के बाद दिव्या ने अपने वर्सोवा वाले फ्लैट पर ड्रेस डिजाइनर फ्रेंड नीता लुल्ला और उनके हसबैंड डॉ. श्याम लुल्ला से मिलने का फैसला किया। बहुत कम लोगों को ये बात मालूम होगी कि वर्सोवा के जिस फ्लैट में दिव्या रहती थी, वो उनके नाम पर रजिस्टर्ड नहीं था।
  • 3. मौत से कुछ वक्त पहले...
    नीता और उनके हसबैंड करीब 10 दस बजे दिव्या के फ्लैट पर पहुंचे। तीनों लिविंग रूम में ही बाते करते रहे और शराब पीते रहे। इस दौरान दिव्या की मेड अमृता भी वहां मौजूद थीं। बातचीत के बीच में अमृता किचन में चली गई और दिव्या खिड़की की तरफ मुड़ गईं। इस दौरान नीता अपने पति के साथ लिविंग रूम में ही एक वीडियो देख रही थीं।
  • 4. दिव्या के आखिरी पल...
    बिल्डिंग की दूसरी खिड़कियों की तरह इस खिड़की में कोई ग्रिल नहीं लगी थी। खिड़की के नीचे पार्किंग एरिया था, लेकिन अफसोस की उस दिन वहां कोई गाड़ी नहीं थी।
    कुछ देर के लिए दिव्या उस खुली खिड़की पर ही बैठ गईं, लेकिन जैसे ही वो वापसी के लिए मुड़ीं उनका बैलेंस बिगड़ गया। खिड़की का फ्रेम पकड़ने के चक्कर में वो फिसल गईं और सीधे 5 मंजिल नीचे कंक्रीट के फर्श पर जा गिरीं।
  • 5. कूपरहॉस्टिपल में ली आखिरीसांसें
    बिल्डिंग से गिरने के बाद दिव्या अपने ही खून में लथपथ पड़ी थीं, लेकिन उनकी सांसें चल रही थीं। हॉस्पिटल ले जाते वक्त उनकी हालत तेजी से बिगड़ी। आखिरकार, उन्होंने कूपर हॉस्टिपल (मुंबई) के इमरजेंसी वॉर्ड में आखिरी सांसें लीं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×