Home »News» The Karni Sena Had Alleged Distortion Of Historical Facts In Padmavati

'पद्मावती' के खिलाफ आज चित्तौड़गढ का किला टूरिस्ट्स के लिए किया बंद

संजय लीला भंसाली की 'पद्मावती' का विरोध कर रहे संगठनों ने चित्तौड़गढ़ के किले में किसी की भी एंट्री बंद करवा दी है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Nov 17, 2017, 06:10 PM IST

'पद्मावती' के खिलाफ आज चित्तौड़गढ का किला टूरिस्ट्स के लिए किया बंद

मुंबई। संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' का विरोध कर रहे संगठनों ने पद्मावती पैलेस यानी चित्तौड़गढ़ के किले में किसी की भी एंट्री बंद करवा दी है। हालांकि, चित्तौड़गढ के एसपी प्रशान कुमार खामसेरा ने बताया है कि राजस्थान की ऐतिहासिक धरोहर को ऑफिशियली क्लोज नहीं किया गया है।सिक्युरिटी के कड़े इंतजाम...

इनका कहना है, "प्रोटेस्टर्स ने जब हमें इन्फॉर्म किया है कि इस किले में टूरिस्ट की एंट्री रोकी जाएगी, तो हमने वहां सिक्युरिटी के पूरे इंतजाम कर दिए हैं।" सर्व समाज संगठन और जौहर स्मृति संस्थान के प्रेसिडेंट उम्मेद सिंह धौली के मुताबिक, "आज चत्तौड़गढ़ का किला टूरिस्ट के लिए बंद है। हम ये धरना लगातार आठ दिनों तक जारी रखेंगे, जो फिल्म 'पद्मावती' पर बैन लगाने के लिए किया जा रहा है। किले के पदन पोल गेट को बंद कर दिया गया है, जो आज शाम तक बंद रहेगा और किसी को अंदर किले में नहीं जाने दिया जाएगा।" हालांकि, यहां रहने वालों को नहीं रोका जाएगा। इसी बीच, राजस्थान टूरिज्म डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (RTDC) के मैनेजिंग डायरेक्टर प्रदीप कुमार बोराड ने बताया कि लग्जरी ट्रेन- 'पैसेल ऑन व्हील्स' के रूट में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा और ये चित्तौड़गढ किला भी जाएगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×