Home »News» Big B Talks About That One Scene In Sholay That Took 3 Years To Shoot

Big B का खुलासा- 'शोले' का एक सीन शूट करने में लगा था 3 साल का वक्त

1975 में आई डायरेक्टर रमेश शिप्पी की 'शोले' इंडियन सिनेमा की आइकोनिक फिल्मों में से एक रही हैं। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि फिल्म के एक सीन की शूटिंग के लिए डायरेक्टर साहब को पूरे तीन सालों का वक्त लगा।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 10, 2017, 01:39 PM IST

  • मुंबई: 1975 में आई डायरेक्टर रमेश सिप्पी की 'शोले' इंडियन सिनेमा की आइकोनिक फिल्मों में से एक रही हैं। धर्मेंद्र, अमिताभ बच्चन, हेमा मालिनी, जया बच्चन की यह फिल्म न जानें आपने कितनी बार देखी होगी। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि फिल्म के एक सीन की शूटिंग के लिए डायरेक्टर साहब को पूरे तीन सालों का वक्त लगा था। इस सीन को शूट करने में हुई देरी...
    गुरुवार को 'रमेश सिप्पी ऑफ सिनेमा एंड एंटरटेनमेंट' के लॉन्चिंग इवेंट में बतौर गेस्ट पहुंचे अमिताभ बच्चन ने बताया, "शायद आपको याद हो 'शोले' के एक सीन में जया (बच्चन) लालटेन लेकर गलियारे में खड़ी थीं और मैं आउट हाउस के बाहर माउथ ऑर्गन बजा रहा था। उस सीन के लिए एक विशेष तरह की लाइटिंग चाहिए थी। हमारे DOP श्री दिवेचा सूर्यास्त के समय शॉट लेना चाहते थे। आप विश्वास नहीं करेंगे कि इस सीन को फाइनल करने में रमेश जी ने पूरे तीन साल का वक्त लगाया।"
    'जब तक परफेक्ट लाइट न मिलें, तब तक शूट नहीं करेंगे'
    अमिताभ आगे बताते हैं, "जब भी हम इस सीन की शूटिंग करने जाते थे, कुछ न कुछ हो जाता है और परफेक्ट लाइटिंग नहीं मिल पाती थी। और रमेशजी ने कह दिया था कि जब तक हमें परफेक्ट लाइट नहीं मिलेगी हम सीन शूट नहीं करेंगे। आखिरकार एक परफेक्ट फ्लैश के लिए हमनें तीन साल इंतजार किया।" रमेश सिप्पी की तारीफ में बिग बी कहते हैं, "रमेशजी एक महान मोटिवेटर हैं, एक अद्भुत तकनीशियन और ऐसे टीचर हैं जो अपने आर्टिस्ट्स का ध्यान रखते हैं। सीन के पहले वे एक्टर्स के साथ बातचीत करते हैं। वे एक्टर्स की राय भी लेते हैं। उनके अंदर वे सारी गुण हैं जो सिनेमा को बेहतर बनाने के लिए जरूरी हैं।"
    आगे की स्लाइड्स पर देखें, 'शोले' के Behind-The-Scenes, साथ ही जानें फिल्म से जुड़े दिलचस्प किस्से...
  • रमेश सिप्पी के डायरेक्शन में बनी इस फिल्म के लिए बेंगलुरु के पास के स्थित रामनगरम को रामगढ़ गांव बनाया गया था। आज भी इसे लोग रामगढ़ के नाम से ही जानते हैं।
  • फिल्म में एक-दूसरे के दुश्मन के रोल में नजर आने वाले गब्बर सिंह (अमजद खान) और ठाकुर बलदेव सिंह (संजीव कुमार) सेट पर अच्छे दोस्तों की तरह टाइम स्पेंड करते थे। सेट की ऐसी कई फोटोज हैं, जो स्टार्स की अच्छी केमिस्ट्री की कहानी बयां करती हैं।
  • 'शोले' की शूटिंग के दौरान के कई किस्से मशहूर हैं, जैसे कि धर्मेन्द्र लाइट ब्वॉयज को पैसे देकर सीन खराब करवाया करते थे, ताकि उन्हें हेमा मालिनी के साथ रिटेक करने का मौका मिल सके।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×