Home »News» Ranjit Gets Angry With This Movie

'रामायण' की मंथरा का मजाक उड़ाने पर भड़का ये खलनायक, ऐसे निकाली भड़ास

हाल ही में इसका ट्रेलर रिलीज किया गया था, जिसमें वेटरन एक्ट्रेस ललिता पवार का मजाक उड़ाया गया है।

चण्डीदत्त शुक्ल | Last Modified - Feb 03, 2018, 08:39 AM IST

  • 'रामायण' की मंथरा का मजाक उड़ाने पर भड़का ये खलनायक, ऐसे निकाली भड़ास
    +2और स्लाइड देखें
    ललिता पवार और रंजीत।

    मुंबई.वासु भगनानी के बेटे जैकी भगनानी की बतौर निर्माता फिल्म 'दिल जंगली' जल्द ही रिलीज होने वाली है। इस फिल्म में तापसी पन्नू और साकिब सलीम लीड रोल में नजर आने वाले हैं। हाल ही में इसका ट्रेलर रिलीज किया गया था, जिसमें सीरियल रामायण में मंथरा का रोल करने वाली वेटरन एक्ट्रेस ललिता पवार का मजाक उड़ाया गया है। ट्रेलर में एक एक्टर अपनी को-एक्टर से कहता है - 'दिल से आपको कहना चाहता हूं, आप न वो एक्ट्रेस जैसी लगती हो बिल्कुल', एक्ट्रेस पूछती है, 'जे लो (जेनिफर लोपेज)?', एक्टर जवाब देता है - 'न न न न, ललिता पवार ... कांणी!' भड़का अपने जमाने का फेमस खलनायक...

    - गुजरे दौर के प्रसिद्ध खलनायक रंजीत ने ललिता पवार का अपमान करने वाला डायलॉग शामिल करने पर कड़ी आलोचना की।
    -रंजीत ने कहा है, "ऐसा बोलने वाले कौन हैं, उन्हें पकड़ना चाहिए। ऐसे लोग आजकल कुछ भी बकवास कर देते हैं। ललिता जी जैसे सीनियर, ग्रेट एक्टर्स का सम्मान किया जाना चाहिए। मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं।"
    - "खराब बोलने या किसी और पर लांछन लगाने से फिल्में नहीं चलतीं। नामी-गिरामी, फिल्मी परिवार की तरफ से बनाई गई फिल्म में ऐसा होना शर्म की बात है। स्टैंडर्ड बहुत गिर गया है। अब काम करने में भी हमें शर्म आती है।"
    - "जहां तक मेरा सवाल है - जब भी किसी ने फिल्म में गाली देने के लिए कहा - मैंने मना कर दिया कि किसी और से काम करा लो। पहले के प्रोड्यूसर-डायरेक्टर-राइटर ऐसा करने को नहीं कहते थे। एक निर्देशक ने मुझसे कहा कि नसीर साहब तक मना नहीं करते। मैंने हाथ जोड़ लिए, मुझे उनका नहीं पता पर मुझसे नहीं होगा।"
    - "अगर किसी पर हमला करना भी है तो आंखों से कर दूंगा। गाली नहीं दे सकूंगा। ललिता जी की अगर आंख खराब भी हो गई थी तो क्या हुआ? सैकड़ों फिल्मों में उन्होंने शानदार अभिनय किया, फिर दिव्यांग होना कौन-सा गुनाह है। सेंसर बोर्ड भी ध्यान नहीं देता। वहां भी सिफारिशी लोग भरे पड़े हैं, स्पेशलिस्ट्स नहीं हैं।"

    आगे की स्लाइड्स में पढ़ें, न फिल्म की टीम और न ही सेंसर बोर्ड ने दिया रिएक्शन...

  • 'रामायण' की मंथरा का मजाक उड़ाने पर भड़का ये खलनायक, ऐसे निकाली भड़ास
    +2और स्लाइड देखें
    'दिल जंगली' के पोस्टर में स्टारकास्ट।

    न फिल्म की टीम और न ही सेंसर बोर्ड ने दिया रिएक्शन

    - गौरतलब है, कांणी अभद्र संबोधन है, जो कुछ लोग एक आंख से दृष्टिहीन व्यक्ति के लिए इस्तेमाल करते हैं।
    - अपने जमाने की मशहूर अभिनेत्री के लिए ऐसा संबोधन इस्तेमाल करने के पीछे क्या वजह है, ये जानने के लिए निर्माता जैकी भगनानी और दीपशिखा देशमुख से संपर्क साधने की कोशिश की गई, वहीं सेंसर बोर्ड प्रमुख प्रसून जोशी का पक्ष जानने के लिए संदेश भेजा गया, लेकिन किसी ने कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी।
    - प्रसिद्ध कलाकार प्रेम चोपड़ा ने सिर्फ ये कहा है कि कोई चीज सेंसर बोर्ड ने पास की है तो उस पर कोई प्रतिक्रिया देने का मतलब नहीं बनता।

    700 से ज्यादा फिल्मों में किया था ललिता पवार ने काम,पढ़ें आगे की स्लाइड्स...

  • 'रामायण' की मंथरा का मजाक उड़ाने पर भड़का ये खलनायक, ऐसे निकाली भड़ास
    +2और स्लाइड देखें
    ललिता पवार।

    700 से ज्यादा फिल्मों में किया था काम

    - याद दिला दें, मूक फिल्मों से शुरू कर 1934 में टॉकी सिनेमा में भी सक्रिय रहने वाली ललिता पवार ने लोकप्रिय धारावाहिक रामायण में 'मंथरा' समेत कई उल्लेखनीय किरदार निभाए। उन्होंने तकरीबन 700 फिल्मों में अभिनय किया।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×