Home »News» Bollywood Singer Daler Mehndi Exclusive Interview

Exclusive: दलेर बोले हमारे जैसे लोग पिसते रहें, इससे क्या फायदा, सरकार दे दखल

सिंगर दलेर मेहंदी को मानव तस्करी के मामले में 2 साल की जेल सुनाई गई है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Mar 16, 2018, 05:31 PM IST

    • सिंगर दलेर मेहंदी को मानव तस्करी के मामले में 2 साल की जेल सुनाई गई है। 15 साल बाद इस केस में दलेर को पटियाला कोर्ट ने दोषी ठहराया है। उन्हें गैर कानूनी तरीके से लोगों को विदेश भेजने का दोषी पाया गया। सजा सुनाए जाने के बाद उन्हें हिरासत में ले लिया गया था। लेकिन उन्हें जमानत भी मिल गई। इस बाबत DainikBhaskar.com ने दलेर मेहंदी से खास बातचीत की...


      पटियाला कोर्ट के फैसले पर क्या कहेंगे?
      इस केस को 14-15 साल हो गए। बड़े भाई शमशेर सिंह के ऊपर इल्जाम लगाया था। प्रूफ कुछ नहीं कर पाए हैं। लेकिन बड़े भैया की पिछले साल डेथ हो गई। यह केस जिनके नाम पर था। अब जज ने यह बोला है कि हमें लगता है...। मेरे खिलाफ कुछ भी प्रूफ नहीं हुआ। लेकिन जज बोल रहे हैं कि हमें लगता है, तब कोई बात नहीं। जैसा उनका आदेश।


      आगे की स्लाइड्स में पढ़ें दलेर मेहंदी ने और क्या कहा...

    • Exclusive: दलेर बोले हमारे जैसे लोग पिसते रहें, इससे क्या फायदा, सरकार दे दखल
      +4और स्लाइड देखें
      दलेर मेहंदी।
    • Exclusive: दलेर बोले हमारे जैसे लोग पिसते रहें, इससे क्या फायदा, सरकार दे दखल
      +4और स्लाइड देखें
      दलेर मेहंदी।

      फिर आगे क्या करेंगे?
      यह तो पटियाला की निचली अदालत का फैसला था। अब हम सेशन कोर्ट जाएंगे। कब करूंगा, यह तो मुझे मालूम नहीं। इस बारे में मेरे वकील ही बता पाएंगे। लेकिन जो भगवान करता है, वह अच्छा करता है। उनके दरबार में सच्चाई है।

    • Exclusive: दलेर बोले हमारे जैसे लोग पिसते रहें, इससे क्या फायदा, सरकार दे दखल
      +4और स्लाइड देखें
      दलेर मेहंदी।

      14-15 साल बाद यह फैसला आ रहा है। इतनी देरी पर क्या कहेंगे?
      जिन लोगों ने देश का नाम बनाया हो। मैं भी हूं या और भी सेलिब्रिटी हैं। मुझे लगता है कि इसमें सरकार को हस्तक्षेप करना चाहिए। ऐसे में फटाफट सीबीआई इन्क्वायरी कर देनी चाहिए। इसमें हमारे जैसे लोग पिसते रहें, इससे क्या फायदा। यही बात अगर दो साल बाद ही निचली अदालत बोल देती, तब ही हम सेशन कोर्ट चले जाते। इसमें और जिनके नाम पर कहानी बनाई थी, वे सारे बरी हो गए।

    • Exclusive: दलेर बोले हमारे जैसे लोग पिसते रहें, इससे क्या फायदा, सरकार दे दखल
      +4और स्लाइड देखें
      दलेर मेहंदी।

      ऐसे तकलीफ के समय में सबसे करीब कौन है, जो आपका मनोबल को बढ़ाता है?
      मेरे साथ मेरे फैंस हैं। पापा गुरुनानक हैं। वे सबसे ऊपर हैं। उनसे इतनी हिम्मत मिलती है, तब हमें और क्या चाहिए। लेकिन होता बहुत मुश्किल है, क्योंकि हम रोज पिसते हैं, जबकि न कोई लेना न कोई देना।

    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    Trending

    Top
    ×