Home »News» Bollywood Actress Tabu Allegedly Molested At The Jodhpur Airport

जोधपुर एयरपोर्ट पर तब्बू के साथ छेड़छाड़! अनजान शख्स ने गलत तरीके से छुआ

बॉलीवुड एक्ट्रेस तब्बू के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आ रहा है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Apr 04, 2018, 07:41 PM IST

जोधपुर एयरपोर्ट पर तब्बू के साथ छेड़छाड़! अनजान शख्स ने गलत तरीके से छुआ

मुंबई.बॉलीवुड एक्ट्रेस तब्बू के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आ रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, जोधपुर एयरपोर्ट पर एक अनजान शख्स ने उन्हें गलत तरीके से छूने की कोशिश की। गौरतलब है कि तब्बू जोधपुर अपने बहुचर्चित काले हिरण के शिकार मामले में सजा सुनने के लिए जोधपुर पहुंची हैं। सलमान खान, सोनाली बेंद्रे, नीलम और सैफ अली खान को इस केस में गुरुवार को सजा सुनाई जानी है। फैन की हरकत पर भड़कीं तब्बू...

बताया जा रहा है कि सैफ अली खान और सोनाली बेंद्रे के साथ जब तब्बू जोधपुर एयरपोर्ट से निकल रही थीं,तभी एक फैन उनके बेहद करीब आने की कोशिश की। इतना ही नहीं, फैन बार-बार अपना हाथ तब्बू कंधे के पास ले जाकर उनके गलत तरीके से छूने की कोशिश कर रहा था। उसकी इस हरकत पर तब्बू को गुस्सा आ गया और वे भड़क गईं। घटना का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें तब्बू को भड़कते हुए देखा जा सकता है।

Live: काला हिरण शिकार मामला - सलमान खान के काले हिरण केस पर सुनवाई आज

कब किया गया था शिकार?

- 1998 में सलमान फिल्म 'हम साथ-साथ हैं' के लिए जोधपुर में थे। उनके साथ फिल्म के दूसरे कलाकार भी थे। आरोप है कि सलमान ने घोड़ा फार्म हाउस और भवाद गांव में 27-28 सितंबर की रात हिरणों के शिकार किया। कांकाणी गांव में 1 अक्टूबर को काले हिरणों के शिकार करने का आरोप है। सलमान के अलावा इसमें सैफ अली खान, नीलम, तब्बू और सोनाली बेंद्रे भी आरोपी हैं।

सलमान के खिलाफ कितने केस?

- 1998 शूटिंग के दौरान सलमान पर 4 केस दर्ज हुए। तीन केस हिरणों के शिकार और चौथा केस आर्म्स एक्ट का था। गिरफ्तारी के दौरान सलमान कमरे से पुलिस ने पिस्टल और राइफल बरामद की थी। इन हथियारों की लाइसेंस अवधि खत्म हो चुकी थी।

कितने मामलों में सजा सुनाई, कितनों में बाकी?

1) कांकाणी गांव केस: इस मामले में 5 अप्रैल को फैसला सुनाएगी कोर्ट।
2) घोड़ा फार्म हाउस केस: 10 अप्रैल 2006 को सीजेएम कोर्ट ने 5 साल की सजा सुनाई थी। सलमान हाईकोर्ट गए। 25 जुलाई 2016 को उन्हें बरी किया गया। राज्य सरकार ने इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की है।
3) भवाद गांव केस: सीजेएम कोर्ट ने 17 फरवरी 2006 को सलमान को दोषी करार दिया और एक साल की सजा सुनाई। हाईकोर्ट ने इस मामले में भी सलमान को बरी कर दिया है। राज्य सरकार ने फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की है।
4) आर्म्स केस:18 जनवरी 2017 को कोर्ट ने सलमान को बरी कर दिया था। राज्य सरकार ने इस फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की है।

कांकाणी केस में क्या गवाही दी गई?

- गवाहों ने बताया कि जोधपुर से सटे कांकाणी गांव की सीमा पर एक अक्टूबर 1998 की रात सलमान ने दो काले हिरणों का शिकार किया।
- उन्होंने कहा था, "सैफ अली, नीलम, सोनाली व तब्बू भी उसके साथ वाहन में सवार थे। इन लोगों ने सलमान को शिकार के लिए उकसाया का आरोप है। गोली की आवाज सुन ग्रामीण वहां एकत्र हो गए। ग्रामीणों के आने पर सलमान खान वहां से गाड़ी लेकर चले गए और दोनों हिरण वहीं पड़े थे।"

कितनी सजा हो सकती है?

- वाइल्ड लाइफ एक्ट की धारा 149 के तहत काला हिरण का शिकार करने पर सात साल के अधिकतम कारावास की सजा का प्रावधान है। कुछ वर्ष पूर्व तक यह सजा 6 वर्ष थी। सलमान का प्रकरण बीस वर्ष पुराना है, ऐसे में अधिकतम छह वर्ष के कारावास की सजा का प्रावधान ही लागू होगा। सह आरोपियों पर भी यही कानून लागू होगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×