Home »News» Aamir Khan Brother Who Lives In South India

बॉलीवुड छोड़ पहाड़ों में गुमनामी की जिंदगी बिता रहा है आमिर खान का भाई

'क़यामत से क़यामत तक' से कजिन आमिर खान को रातोंरात स्टार बनाने वाले डायरेक्टर मंसूर खान लंबे समय से बॉलीवुड से गायब हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 19, 2018, 04:13 PM IST

  • बॉलीवुड छोड़ पहाड़ों में गुमनामी की जिंदगी बिता रहा है आमिर खान का भाई
    +3और स्लाइड देखें

    मुंबई. सुपरहिट फिल्म 'क़यामत से क़यामत तक' से कजिन आमिर खान को रातोंरात स्टार बनाने वाले डायरेक्टर मंसूर खान लंबे समय से फ़िल्मी दुनिया से गायब हैं। 1988 में 'क़यामत...' से बतौर डायरेक्टर उन्होंने फिल्मों में एंट्री ली और 2008 में प्रोड्यूसर के तौर पर उन्होंने पहली और आखिरी फिल्म 'जाने तू...या जाने न' बनाई। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अब मंसूर खान कहां हैं? साउथ इंडिया में चीज बनाने का बिजनेस कर रहे हैं मंसूर...

    - मंसूर करीब 15 साल से तमिलनाडु के नीलगिरी जिले के कस्बे कुनूर में रह रहे हैं और चीज बनाने का काम कर रहे हैं।
    -लेकिन चीज के बिजनेस के लिए मंसूर ने फिल्मों को क्यों छोड़ा? इस सवाल के जवाब में एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा, "यह अचानक लियागया फैसला नहीं था। बल्कि बचपन से ही मैं ऐसा कोई बिजनेस करना चाहता था।"
    - बकौल मंसूर, "पनवेल (मुंबई के पास) में हमारी कुछ जमीन थी, जिससे हमें काफी लगाव था। मैं और मेरी बहन वहां जाते थे और अपने हाथों से भिंडी के पौधे लगाया करते थे। मैं अब्रॉड से कॉर्नेल और MIT तक गया, लेकिन अंदर से खुश नहीं था।"
    - "पापा (नासिर हुसैन) ने फिल्मों में आने की सलाह दी । तब भी मेरा मुख्य उद्देश्य जमीन के साथ जुड़े रहना था। फिल्में तो सिर्फ उस समय तक के लिए थीं, जब तक कि मुझे वह जिंदगी नहीं मिली, जैसी मैं जीना चाहता था।"
    - "1979 से 1980 तक मैं कॉर्नेल और MIT में रहा और फिर MIT का आखिरी साल मैंने छोड़ने का फैसला लिया। उस वक्त अलीबाग के करीब हमारी कुछ जमीन थी। सरकार उस जमीन का अधिग्रहण एयरपोर्ट बनाने के लिए करना चाहती थी। तब मुझे भूमि अधिग्रहण और इसके अधिकारों के बारे में पता चला।"

    आगे की स्लाइड्स में पढ़िए मंसूर की लाइफ से जुड़ी कुछ और रोचक बातें...

  • बॉलीवुड छोड़ पहाड़ों में गुमनामी की जिंदगी बिता रहा है आमिर खान का भाई
    +3और स्लाइड देखें

    कुनूर से अटैचमेंट कैसे हुआ

    - मंसूर के मुताबिक, वे फिल्मों की शूटिंग के लिए कुनूर जाया करते थे। वहां उनके भांजे इमरान खान बोर्डिंग स्कूल से पढ़ाई कर रहे थे। तभी से उन्हें लगता था कि यह जगह उनके रहने के लिए सबसे उचित है।
    - 2003-04 में उन्होंने यहां आना-जाना काफी ज्यादा कर दिया। कई दिन वे यहां रुकते। यहां पहले से ही मंसूर का एक फैमिली हाउस था।
    - मंसूर कहते हैं, "जब मैं यहां आया तो कर्ज में डूबा हुआ था। पेरेंट्स की डेथ की वजह से डिप्रेशन में भी था। इसलिए मैंने दिल की सुनी और यहां आ गया। बॉलीवुड छोड़ना आसान काम था, क्योंकि इसे मैंने अपनी जिंदगी के गेप को भरने के लिए चुना था।"
    - "जब मैं यहां आया तो शुरुआत में मेरे दोस्त सोचते थे कि मुझे अकेलापन अच्छा लगने लगा है।"

  • बॉलीवुड छोड़ पहाड़ों में गुमनामी की जिंदगी बिता रहा है आमिर खान का भाई
    +3और स्लाइड देखें

    पूरी जगह को हरा-भरा कर दिया

    - जब 2005 में मंसूर कुनूर शिफ्ट हुए थे, तब यहां हरियाली नहीं थी। उन्होंने यहां की 22 एकड़ जमीन को हरा-भरा कर दिया।
    - मंसूर यहां पत्नी टीना और बच्चों (जायन और पबोलो) के साथ रहते हैं।
    - रिपोर्ट्स के मुताबिक, उन्होंने यहां 7 एकड़ जमीन, 7 गाय और दो बकरियां खरीदकर अपना बिजनेस शुरू किया था।

  • बॉलीवुड छोड़ पहाड़ों में गुमनामी की जिंदगी बिता रहा है आमिर खान का भाई
    +3और स्लाइड देखें

    ये हैं मंसूर की फिल्में

    - मंसूर ने बतौर डायरेक्टर 'क़यामत से क़यामत तक', 'जो जीता वही सिकंदर', 'अकेले हम अकेले तुम' और 'जोश' को डायरेक्ट किया। इनमें से सिर्फ 'जोश' को छोड़कर बाकी फिल्में उन्होंने कजिन आमिर खान के साथ की। 'जोश' के लीड एक्टर शाहरुख खान थे।
    - बतौर प्रोड्यूसर मंसूर की इकलौती फिल्म 'जाने तू या जाने न' है। भांजे इमरान खान को लेकर बनाई गई यह फिल्म सुपरहिट रही थी।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Aamir Khan Brother Who Lives In South India
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×