Home » Latest News » National » Bjp Prepare Against Kejiralwal Allegation

PICS:केजरीवाल के 'खुलासा बम' पर भाजपा की ये है तैयारी

dainikbhaskar.com | Oct 17, 2012, 10:37AM IST
PICS:केजरीवाल के 'खुलासा बम' पर भाजपा की ये है तैयारी

नई दिल्ली . अब तक कांग्रेस के केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद और गांधी परिवार के दामाद रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ सबूत पेश करने वाले अरविंद केजरीवाल ने अब भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी पर आरोप लगाए हैं।
 
दिल्ली के कांस्टीट्यूशनल क्लब में मीडिया से बात करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'भारतीय जनता पार्टी इस देश की विपक्षी पार्टी है या फिर उसकी सत्ताधारी पार्टियों के साथ राज्यों में और केंद्र में सांठगांठ हैं। नितिन गडकरी किसके हितों का प्रधिनित्व करते हैं। गडकरी का बहुत बड़ा व्यावसायिक साम्राज्य है। क्या उनके व्यापारिक हित विदर्भ के किसानों के हितों के विरोध में हैं। क्या महाराष्ट्र के अंदर गडकरी के व्यापार किसानों की कीमत पर हो रहे हैं। क्या विदर्भ में किसानों की आत्महत्या की वजह नितिन गडकरी के व्यवसाय हैं। 70 हजार करोड़ रुपये खर्च हो गए लेकिन किसानों का कोई फायदा नहीं हआ। महाराष्ट्र हाईकोर्ट में पीआईएल भी फाइल की गई लेकिन कुछ नहीं हुआ।'
 
अरविंद ने कहा-'हमारी आरटीआई कार्यकर्ता अंजलि दमानिया द्वारा इकट्ठा किए गए दस्तावेजों से पता चलता है कि महाराष्ट्र में किसानों की आत्महत्या के लिए नितिन गडकरी के व्यापारिक हित जिम्मेदार हैं।'
 
अरविंद ने कहा कि किसानों से बांध के लिए अधिग्रहित की गई करीब 100 एकड़ जमीन को महाराष्ट्र सरकार ने नितिन गडकरी को गैरकानूनी रूप से दे दी। अरविंद ने यह भी कहा कि यह जमीन किसानों ने सरकार से वापस मांगी थी लेकिन किसानों को जमीन देने के बजाए जमीन नितिन गडकरी को दे दी गई। अरविंद केजरीवाल ने नितिन गडकरी पर किसानों की जमीन पर कब्जा करने का भी आरोप लगाया।  अरविंद ने यह भी कहा कि किसानों की जमीन की सिंचाई के लिए बनाए गए बांध का सारा पानी नितिन गडकरी की कंपनियों को दिया जा रहा है।
 
अरविंद ने कहा कि महाराष्ट्र में 71 पॉवर प्लांट प्रस्तावित हैं। यदि यह पॉवर प्लांट बने तो फिर किसानों को पानी नसीब नहीं हो पाएगा। महाराष्ट्र में एक चलन यह बन गया है कि एक ओर बांध बनता है और दूसरी ओर नेताओं की कंपनियां खड़ी हो जाती हैं।
 
अरविंद केजरीवाल ने नितिन गडकरी से सीधा सवाल करते हुए कहा कि गडकरी बताएं कि वो एक व्यापारी हैं या फिर राजनेता हैं?
 

चलिए आगे तस्वीरों के जरिए हम आपको बताते हैं कि अरविंद केजरीवाल के 'खुलासा बम' से निपटने के लिए भाजपा ने क्या-क्या तैयारी की है।

Light a smile this Diwali campaign
Click for comment
 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment