Home » Khabre Zara Hat Ke » Weird World » Unique Kids Bank 'Khajana' For Children

बच्चों के लिए बच्चों का अनोखा बैंक 'खजाना'

Agency | Jul 06, 2012, 09:29AM IST
सड़क पर पलने वाले बच्चे ग्राहक। वो ही खजांची और मैनेजर भी। ऐसा ही है अनोखा बैंक 'द चिल्ड्रन्स डेवलपमेंट खजाना। भले ये बैंक किसी आम बैंक की तरह करोड़ों का व्यवसाय न करता हो, पर उनसे कम भी नहीं है।

यहां रकम जमा, निकासी जैसे आधारीय कामों के साथ ब्याज भी ग्राहक बच्चों को मिलता है। खास ये है कि यहां का मैनेजर खुद दिनभर अपना कोई काम करता है। शाम को बैंक खोलता है और पैसे जमा करता है या देता है। बैंक जमा होने वाला धन अगले दिन किसी राष्ट्रीयकृत बैंक में जमा कर दिया जाता है। दुकानों में काम करने वाले, हॉकर, छोटे सामान बेचने वाले बच्चे इस बैंक के ग्राहक या कर्मचारी हैं।

ऐसे होती है बैंकिंग

दिल्ली के एक रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने वाला 17 वर्षीय राम सिंह बैंक का ग्राहक है। वह दिनभर में करीब 100 चाय बेचकर 50-55 रुपए कमाता है। शाम को बैंक की शाखा में जाता है और कमाई का आधा पैसा जमा करता है। ग्राहक के रूप में राम सिंह की आखों में अजीब सी चमक आ जाती है। उसका कहना है कि मेरा सपना है कि मैं अपना कोई व्यवसाय करूं। खजाना बैंक मेरे इस सपने का आधार है। एक दिन जरूर मैं अपना सपना पूरा करूंगा।

ऐसा है इंटरनेशनल बैंक

समाजसेवी ग्रुप बटरफ्लाइज ने कुछ बच्चों के साथ खजाना बैंक की शुरुआत 2001 में कराई थी।
बटरफ्लाइज अब भी यह संगठन बच्चों को राष्ट्रीयकृत बैंक में पैसा जमा करने या निकालने में मदद करता है।
बैंक देश-विदेश में 300 शाखाएं हैं, जिनमें 12 शाखाएं तो सिर्फ दिल्ली में ही हैं।
इसके अलावा बैंक की नेपाल, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, श्रीलंका और किर्गिस्तान में भी शाखाएं हैं।
बैंक जमा पर 5 फीसदी तक ब्याज भी देता है।

कौन बन सकता है ग्राहक

9 से 17 साल तक का कोई भी बच्चा इसमें अपना खाता खुलता सकता है।
खाता खोलने की शर्त है कि बच्चा मेहनत पर भरोसा करता हो।
भीख मांगने या ड्रग्स बेचकर पैसा कमाने वालों का खाता नहीं खोला जाता है।

क्या है जरूरत

दिल्ली में खजाना बैंक की एक शाखा के 14 वर्षीय मैनेजर करन का कहना है कि हम गरीब बच्चे जो भी कमाते हैं, उसे सुरक्षित रखना बड़ी चुनौती है। हमारा बैंक इस बड़ी जरूरत को पूरा करता है। इसके साथ ही ब्याज से कुछ अतिरिक्त पैसा भी ग्राहक जोड़ लेते हैं।
Light a smile this Diwali campaign
Click for comment
 
 
 
विज्ञापन
Email Print Comment