Home » Gossip » Who Was Kaka's Last Companion: Dimple,Anju Or Anit

डिंपल, अनीता या अंजू- अंतिम समय में किसके साथ थे काका?

dainikbhaskar.com | Jul 20, 2012, 15:42PM IST

गुजरे ज़माने के सुपर स्टार राजेश खन्ना के निधन के बाद अब उनसे जुड़े कुछ विवाद भी सामने आ रहे हैं| काका की जिंदगी से जुडी तीन महिलाएं उनके अंतिम समय में साथ देने का दावा कर रही हैं| ऐसा बताया जा रहा था कि पिछले चार पांच महीनों से बीमार राजेश खन्ना की देखभाल उनकी पत्नी डिंपल कर रही थीं और उनका हाथ थामे ही काका ने अंतिम सांसें लीं| मगर, अब काका की पूर्व प्रेमिका रह चुकीं अंजू महेन्द्रु के बारे में भी ख़बरें आ रही हैं कि वह अंतिम समय में काका की सेवा कर रही थीं|
अंजू का दावा है कि वह उनकी सेहत का ध्यान रखती थीं और हॉस्पिटल में भी उनके साथ रहती थीं। इतना ही नहीं ,अंतिम सांसें लेते वक्त काका का हाथ उनके ही हाथों में था| वैसे, इस मामले को और गंभीर बना दिया है अनीता आडवाणी नाम की एक महिला ने जो कि काका की लिव-इन पार्टनर रह चुकी हैं|राजेश खन्ना का निधन होते ही अनीता ने राजेश खन्ना के परिवार को नोटिस भेज दिया है| अनीता के करीबी सूत्रों के मुताबिक राजेश खन्ना का परिवार उन्हें 'आशीर्वाद' से बेदखल करने की कोशिश कर रहा है। अनीता की ओर से राजेश खन्ना के परिवार को भेजे गए नोटिस में घरेलू हिंसा अधिनियम का भी जिक्र है।
घरेलू हिंसा अधिनियम की धारा 19 के मुताबिक पीड़ित को साझा घर से बाहर नहीं किया जा सकता भले ही प्रतिवादी का संपत्ति पर कानूनी हिस्सा न हो। अनीता आडवाणी कौन हैं, यह आज भी बहुत साफ नहीं है। वैसे, अनीता फिलिपिंस के पूर्व राष्ट्रपति फर्डिनैंड मार्कोस और उनकी पत्नी इमेल्डा की भतीजी होने का दावा करती हैं। कहा जाता है कि अनीता और राजेश का रिश्ता 32 साल पुराना था। जब भास्कर.कॉम ने उनसे संपर्क करना चाहा, तो उन्होंने बिना कोई कमेंट किए फोन काट दिया।
हालांकि, काफी पहले एक मुलाकात में उन्होंने कहा था, 'काका मेरे सबसे करीबी दोस्त, फिलॉसफर और गाइड हैं। हमारी दोस्ती पक्की है। मैं उन्हें बहुत पहले से जानती हूं। वे बुद्धिमान और रूमानी इंसान हैं और यह मेरा सौभाग्य है कि मैं उनके इतने करीब हूं।' उनके करीबी सूत्र कहते हैं कि बीमार होने से पहले राजेश अनीता के साथ सैर, डिनर और ड्राइव पर जाते थे। जब वे अस्पताल में थे तब अनीता अक्सर उन्हें देखने जाया करती थीं, पर इन मुलाकातों पर किसी ने सवाल नहीं उठाए। अनीता के लिए यह एक 'पवित्र' प्यार था।
ऐसे में, काका अंतिम समय में किस महिला के साथ थे यह राज़ लगता है उनकी मौत के साथ ही दफ़न हो गया है| फिल्म क्रिटिक जेपी चौकसे का कहना है कि उनके अंतर्मन को पढ़ना बेहद कठिन था। वे किसी के सामने भी उजागर नहीं होते थे।उनका सुपरस्टार उनके मन में हमेशा बैठा रहा ..उन्हें निर्देशित करता रहा।

Click for comment
 
 
 
विज्ञापन
Email Print Comment